राज्यसभा उपचुनाव 2019: बीजेपी के इस फैसले से डॉ. मनमोहन सिंह का रास्ता साफ

राजस्थान से पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह (manmohan singh) के निर्वाचन में अब भाजपा कोई अड़चन पैदान नहीं करेगी. पार्टी (bjp rajasthan) ने अब अपना कोई प्रत्याशी चुनाव (rajya sabha bypolls) में खड़ा नहीं करने का फैसला लिया है.

Sudhir sharma | News18 Rajasthan
Updated: August 14, 2019, 5:30 PM IST
राज्यसभा उपचुनाव 2019: बीजेपी के इस फैसले से डॉ. मनमोहन सिंह का रास्ता साफ
राजस्थान से पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया. (फाइल फोटो- गुलाबचंद कटारिया)
Sudhir sharma | News18 Rajasthan
Updated: August 14, 2019, 5:30 PM IST
राज्यसभा से सांसद रहे मदन लाल सैनी के निधन से खाली हुई सीट पर कांग्रेस की ओर से मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया और अब भाजपाई खेमे में भी अपने प्रत्याशी को लेकर कशमकश खत्म हो गई है. राज्यसभा चुनावों में अपना प्रत्याशी उतारने के मामले में पार्टी की ओर से आनन-फानन में भाजपा विधायक दल की बैठक मुख्यालय पर बुलाई गई. इसमें बीजेपी के लगभग 25 विधायक शामिल हुए और राज्यसभा के चुनाव को लेकर मंथन किया और फैसला हाईकमान पर छोड़ दिया गया. मंगलवार रात को हाईकमान की ओर से फैसला किया गया कि पार्टी अपना प्रत्याशी नहीं खड़ा करेगी.

बीजेपी विधायक दल की बैठक में मंथन

इस बैठक में सभी विधायकों ने अपनी राय रखी. बैठक में संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर के अलावा नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ समेत प्रमुख विधायक शामिल हुए थे. इस दौरान विधायकों से राय करने के बाद दिल्ली आलाकमान को विधायकों की राय से कटारिया और राठौड़ समेत चन्द्र शेखर ने फोन पर अवगत करवाया. और इसके बाद फैसला दिल्ली हाईकमान पर छोड़ दिया गया.

बुधवार को नामांकन दाखिल करने का अंतिम दिन

इधर, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने विधाय़कों को जयपुर में रहने के लिए कहा. बता दें कि राज्यसभा के उपचुनाव के लिए बुधवार नामाकंन दाखिल करने की अन्तिम तिथि है. और वोटों की गणित की बात की जाए तो वो भी बीजेपी के पास नहीं है. दूसरी ओर कांग्रेस मजबूत स्थिति में है.

ये भी पढ़ें- गबन की आरोपी निलंबित IAS अफसर पर मेहरबान हुई गहलोत सरकार
First published: August 13, 2019, 11:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...