राहुल गांधी यदि संगठन में बदलाव चाहते हैं तो सचिन पायलट का मिलेगा समर्थन

राजस्थान कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक के बाद डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा कि हम राहुल गांधी के नेतृत्व में विश्वास करते हैं और यदि उन्हें लगता है कि संगठन में बदलाव होना चाहिए, तो उन्हें हमारा समर्थन है.

Goverdhan Chaudhary | ETV Rajasthan
Updated: May 30, 2019, 11:17 AM IST
Goverdhan Chaudhary | ETV Rajasthan
Updated: May 30, 2019, 11:17 AM IST
राजस्थान कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक के बाद बुधवार को डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा कि हमारी सरकार बनने के 4 माह के बाद जनता ने बीजेपी को क्यों चुना? इसके क्या कारण है@ इसकी समीक्षा की जाएगी. उन्होंने यह भी कहा कि हम राहुल गांधी के नेतृत्व में विश्वास करते हैं और यदि उन्हें लगता है कि संगठन में बदलाव होना चाहिए, तो उन्हें हमारा समर्थन है.

ये भी पढ़ें- मोदी कैबिनेट में राजस्थान से 4 सांसद? VITRAL हुई चिट्‌ठी

शुरू होगा मास कॉन्टेक्ट प्रोग्राम

पायलट ने कहा कि हमारी यहां सरकार है, हमें अब काम करना होगा ताकि अगले चुनाव जीत सकें. हम हार स्वीकार करते हैं. अब सब कार्यकर्ताओं और नेताओं को फील्ड में निकलने के निर्देश दिए हैं. जनता का हम फिर से दिल जीतेंगे, हम मास कॉन्टेक्ट प्रोग्राम शुरू करने जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- जुलाई तक बर्खास्त हो जाएगी राजस्थान सरकार!

कार्यकारिणी ने ली लोकसभा चुनाव में हार की जिम्मेदारी

पीसीसी में करीब 45 मिनट चली प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में राहुल गांधी का इस्तीफा अस्वीकार करने का प्रस्ताव पारित किया गया. CWC के प्रस्ताव का अनुमोदन किए जाने के बाद प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि कार्यकारिणी ने लोकसभा चुनाव के परिणाम की जिम्मेदारी ली है, संगठन में या अन्य किसी तरह के बदलाव के लिए राहुल गांधी को अधिकृत किया गया है.
ये भी पढ़ें- 
राजस्थान: हार के बाद कांग्रेस में गहलोत VS पायलट घमासान?
राहुल गांधी के सामने गहलोत के बेटे की हार का 'पोस्टमार्टम', ये बोले सीएम
राजस्थान कांग्रेस नेतृत्व ही है पार्टी की हार का कारण?
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...