Home /News /rajasthan /

क्या राजस्थान कांग्रेस नेतृत्व ही है पार्टी की हार का कारण?

क्या राजस्थान कांग्रेस नेतृत्व ही है पार्टी की हार का कारण?

सचिन पायलट. (असोपा के एफबी वॉल से साभार.)

सचिन पायलट. (असोपा के एफबी वॉल से साभार.)

कांग्रेस के राजस्थान सचिव सुशील असोपा ने कहा है कि राजस्थान में सचिन पायलट काे मुख्यमंत्री बनाया जाता तो कांग्रेस को हार का सामना नहीं करना पड़ता.

लोकसभा चुनाव 2019 में कांग्रेस का राजस्थान में सूपड़ा साफ होने बाद पार्टी के भीतर घमासान मचा हुआ है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे की पेशकश के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट पर भी गाज गिरने की अटकलें लगाई जा रही हैं. लेकिन इस बीच पार्टी के प्रदेश सचिव सुशील असोपा ने एक बड़ा बयान देते हुए 'गहलोत VS पायलट जंग' की सियासी आग में घी काम किया है. असोपा ने कहा है कि राजस्थान में कांग्रेस की हार की वजह सचिन पायलट को मुख्यमंत्री नहीं बनाना है.

'सचिन पायलट सीएम होते तो नतीजे और होते'

आसोपा ने राजस्थान में कांग्रेस में हार के बाद अब कांग्रेस नेता मुख्यमंत्री बदलने की मांग की है. उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की जगह सचिन पायलट को बनाया जाता तो ऐसी हार का मुंह नहीं देखना पड़ता. आसोपा ने कहा कि पायलट को सीएम नहीं बनाने ये कांग्रेस के साथ आया युवा वोट बैंक बीजेपी की ओर शिफ्ट हो गया.

ये भी पढ़ें- राजस्थान: हार के बाद कांग्रेस में गहलोत VS पायलट घमासान?

Sachin pilot
सचिन पायलट के साथ सुशील असोपा. (फोटो-असोपा के एफबी वॉल से साभार.)


राजस्थान में कहीं चले जाओ, एक ही आवाज आती है कांग्रेस अगर सचिन पायलट को 5 साल की मेहनत के प्रतिफल में मुख्यमंत्री बनाती तो आज राजस्थान में लोकसभा के परिणाम कुछ और होते. लोग कहते हैं कि पायलट की 5 साल तक की अथक मेहनत के कारण ही वो माहौल बना जिससे कांग्रेस के विधायक जीते क्योंकि युवाओं को लगता था कि इस बार पायलट को मौका मिलेगा.
सुशील आसोपा, सचिव, राजस्थान कांग्रेस


केसी विश्नोई ने मांगा अशोक गहलोत से इस्तीफा

असोपा ही नहीं पायलट समर्थक अन्य नेताओं ने भी गहलोत पर हार का ठीकरा फोड़ना शुरू कर दिया है. हनुमानगढ़ के कांग्रेस के जिलाध्यक्ष केसी विश्नोई ने गहलोत से इस्तीफे की मांग की है. उन्होंने ने कहा है कि कांग्रेस को प्रदेश में गहलोत सरकार की विफलता की वजह से लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है.

 भी पढ़ें-  राहुल गांधी के सामने गहलोत के बेटे की हार का 'पोस्टमार्टम', ये बोले सीएम

गहलोत अपने ही विधानसभा क्षेत्र में अपना बूथ तक हार गए. ऐसे में गहलोत को अब सीएम रहने का हक नहीं है.
केसी विश्नोई, कांग्रेस जिलाध्यक्ष, हनुमागढ़


Sachin pilot
आसोपा पायलट के करीब बताए जा रहे हैं. दिसंबर में असोपा ने फेसबुक पर यह फोटो पोस्ट किया था. इसमें लिखा था, 'अनवरत संघर्ष, 3 मार्च 2015 को लाठी चार्ज लैंड बिल के विरोध में राहुलजी की आवाज पर। याद है ना दोस्तों'.


राजस्थान कांग्रेस में पार्टी के भीतर गुटबाजी फिर से खुलकर सामने आ रही है और पायलट-गहलोत गुट के नेता एक दूसरे की टांग खिंचाई में लगे हुए हैं. सोशल मीडिया पर भी पायलट और गहलोत को लेकर जमकर पोस्ट शेयर किए जा रहे हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Tags: Ashok gehlot, Lok Sabha Election 2019, Lok Sabha Election Result 2019, Lok sabha elections 2019, Rajasthan bjp, Rajasthan Congress Committee, Rajasthan Lok Sabha Elections 2019, Sachin pilot

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर