लाइव टीवी

अपनी गाड़ी में भरवा लीजिए पेट्रोल और डीजल, बुधवार को प्रदेशभर में बंद रहेंगे पेट्रोल पंप

Rakesh Gusai | News18 Rajasthan
Updated: October 22, 2019, 8:46 PM IST
अपनी गाड़ी में भरवा लीजिए पेट्रोल और डीजल, बुधवार को प्रदेशभर में बंद रहेंगे पेट्रोल पंप
वैट को कम करने की मांग को लेकर बुधवार को सुबह 6 बजे से गुरुवार को सुबह 6 बजे तक 24 घंटों के लिए पेट्रोल पंप बंद रहेंगे. फाइल फोटो

यदि आपकी गाड़ी में पेट्रोल और डीजल (Petrol and diesel) नहीं है तो भरवा लीजिए. बुधवार (Wednesday) को प्रदेशभर (Statewide) के करीब 4,500 हजार पेट्रोल पंपों पर 'नो सेल, नो परचेज' यानी हड़ताल (Strike) रहेगी.

  • Share this:
जयपुर. अगर आपकी गाड़ी में पेट्रोल और डीजल (Petrol and diesel) नहीं है तो भरवा लीजिए. बुधवार (Wednesday) को प्रदेशभर (Statewide) के करीब 4,500 हजार पेट्रोल पंपों पर 'नो सेल, नो परचेज' यानी हड़ताल (Strike) रहेगी. कारण है, अन्य राज्यों के मुकाबले राजस्थान में वैट (VAT) ज्यादा होने के कारण पेट्रोल और डीजल की खपत कम होना है. वैट को कम करने की मांग को लेकर बुधवार को सुबह 6 बजे से गुरुवार सुबह 6 बजे तक यानी 24 घंटों के लिए पेट्रोल पंप बंद (Closed) रहेंगे.

राजस्थान में वैट की दर ज्यादा है
राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनीत बगई ने बताया कि अन्य राज्यों की अपेक्षा राजस्थान में वैट की दर ज्यादा है. जबकि प्रदेश के आस-पास के राज्यों मध्यप्रदेश, हरियाणा, पंजाब और यूपी में पेट्रोल डीजल की कीमत काफी कम है. सीमावर्ती क्षेत्रों में पेट्रोल-डीजल की रेट में अंतर होने से लोग सीमा पार जाकर पेट्रोल डीजल भरवाते हैं. पड़ोसी राज्यों के पेट्रोल और डीजल के मूल्यों की तुलना करें तो राजस्थान में यह 5 से 9 रुपए अधिक है. लेकिन सरकारी तंत्र डीलर्स की बात मानने को तैयार ही नहीं है.

बुधवार को करीब 4,500 पेट्रोल पंप बंद रहेंगे

बकौल बगई, पड़ोसी राज्य पंजाब, हरियाणा, यूपी, गुजरात और दिल्ली के एक पंप की ब्रिकी हमारे राज्य के 20 पंपों के बराबर हो गई है. प्रतिदिन लाखों लीटर डीजल तस्करी के माध्यम से पड़ोसी राज्यों से हमारे राज्य में आ रहा है. इसके विरोध में पूरे प्रदेश में बुधवार को करीब 4,500 पेट्रोल पंप बंद रहेंगे. सरकार द्वारा पेट्रोल डीजल पर 4 फीसदी वैट बढ़ाने से प्रदेश में इसकी बिक्री काफी प्रभावित हुई है.

केवल आपातकालीन वाहनों को दिया जाएगा
अन्य राज्यों से आने वाले और हमारे यहां से अन्य राज्यों में जाने वाले वाहन चालक पेट्रोल-डीजल पड़ोसी राज्यों में भरवाते हैं. इससे पंट्रोल-पंप मालिकों समेत सरकार को खासा नुकसान उठाना पड़ रहा है. वैट के भारी अंतर के चलते सरकार को अगस्त माह में 85 करोड़ और सितंबर माह में 37 करोड़ का नुकसान हुआ है. बगई ने बताया कि बुधवार को केवल आपातकालीन वाहन जैसे अग्निशमन, एम्बुलेंस जैसे वाहनों को ही पेट्रोल-डीजल आदि को आपूर्ति की जाएगी.
Loading...

सरकारी स्कूलों के स्टूडेंट्स भी अब मुफ्त हवाई यात्रा करेंगे, यह है योजना

स्थानीय निकाय चुनाव: हाईब्रिड फॉर्मूले का विवाद पहुंचा सोनिया गांधी के पास

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 8:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...