Home /News /rajasthan /

जयपुर: मुंबई के बांद्रा की घटना के बाद बढ़ाई गई रेलवे स्‍टेशनों की सुरक्षा

जयपुर: मुंबई के बांद्रा की घटना के बाद बढ़ाई गई रेलवे स्‍टेशनों की सुरक्षा

राज्‍स्‍थान के सभी रेलवे स्‍टेशनों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

राज्‍स्‍थान के सभी रेलवे स्‍टेशनों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

मुंबई (Mumbai) के बांद्रा स्‍टेशन (Bandra Station) में भारी भीड़ के इकट्ठा होने की घटना के बाद जयपुर (Jaipur) मंडल के अंतर्गत आने वाले सभी रेलवे स्‍टेशनों (Railway Station) पर चौकसी बढ़ा दी गई है.

जयपुर. कोविड-19 (COVID-19) के कारण जहां पूरा देश बंद है और रेलों (Train) के पहिए थमे हुए है तो ऐसे में आरपीएफ (RPF) पूरी तरह से मुस्तैद है. रेलवे पुलिस (Railway Police) के ये जवान पूरी सजगता के साथ अपनी ड्यूटी निभा रहे है. खाली खड़ी रेलों की 24 घंटे चौकसी की जा रही है. उल्‍लेखनीय है कि हाल ही में मुंबई के बांद्रा रेलवे स्टेशन (Bandra Railway Station) पर रेलों के शुरू होने की अफवाह को लेकर रेलवे स्टेशन पर हज़ारों की भीड़ इकठ्ठा हो गई थी.

इस बात को ध्यान में रखते हुए उत्‍तर-पश्चिम रेलवे (North West Railway) के चारों मंडल के अंतर्गत आने वाली रेलवे पुलिस फोर्स पहले से ज्यादा अलर्ट कर दिया गया है. जिसके बाद से, रेलवे पुलिस के जवान ना केवल खाली खड़ी रेलों की रखवाली कर रहे है, बल्कि स्टेशन के मेन गेट पर भी मोर्चा संभाले हुए है. वहीं, चारों मंडल के स्टेशनों पर फिलहाल सिर्फ रेलवे पुलिस के जवान मुस्तैद नजर आ रहे हैं. इतना ही नहीं, रेलवे स्‍टेशन के इर्दगिर्द इंटेलीजेंस को भी सक्रिय कर दिया गया है, जिससे स्‍टेशन के इर्दगिर्द होने वाली सभी गतिविधियों पर निगाह रखी जा सके.

ट्रेनों की सुरक्षा के लिए भारी तादाद में जवान तैनात
आरपीफ के जयपुर मंडल के कमिश्‍नर मुनव्वर खान के अनुसार, स्टेशन पर ड्यूटी देने वाले जवानों का वॉट्सअप ग्रुप बनाया गया है. एक बार में 50 जवान खाली खड़ी रेलों की रखवाली करते है. ग्रुप पर ही उन्हें ड्यूटी की जानकारी दी जा रही है. जयपुर मंडल के जयपुर, रेवाडी, अलवर, बांदीकुई, दौसा, गांधीनगर, दुर्गापुरा, जगतपुरा, फुलेरा, किशनगढ, सीकर समेत स्टेशनों पर कुल 540 आरपीएफ कर्मी ड्यूटी दे रहे हैं. जयपुर स्टेशन पर 119 सुरक्षाकर्मी तैनात हैं. इनमें से 50 जवान जयपुर के पास स्थित दुर्गापुरा, ढेहर का बालाजी, धानक्या, सांगानेर, खातीपुरा, बस्सी, जयपुर यार्ड पर खडी ट्रेनों के खाली रैक की सुरक्षा कर रहे हैं. इन्हें 8-8 घंटे की शिफ्ट में तैनात किया जा रहा है.

कोरोना कोच की सुरक्षा RPF के लिए बड़ी चुनौती
आरपीएफ का मानना है कि ऐसे समय में जब लॉकडाउन चल रहा है तो उनकी ड्यूटी और ज्यादा बढ़ जाती है. इस समय जयपुर जंक्शन पर कोरोना कोच भी खड़ी है. इसकी हिफाजत की जिम्मेदारी भी रेलवे पुलिस के जवानों पर ही है. फिलहाल स्टेशन के मुख्य द्वार से लेकर स्टेशन के चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात है. लॉकडाउन खुलने के बाद इनकी जिम्मेदारी ज्यादा बढ़ जाएगी, क्योंकि जब भीड़ रेलवे स्टेशन पर उमड़ेगी तो भीड़ को कंट्रोल करना भी रेलवे पुलिस के कंधो पर होगा और इसके रेलवे पुलिस तैयार है.

यह भी पढ़ें:
प्रधानमंत्री जी, क्‍वारेंटाइन अवधि पूरी होने के बाद भी हमें नहीं भेजा रहा अपने घर
बॉर्डर पर आतंकी और तस्करों से लोहा लेते हुए देश में कोरोना की लड़ाई में साथी बना BSF
राजस्‍थान: आग की चपेट में आए उदयपुर के जंगल, अब धधक रही हैं अरावली की पहाड़ियां

Tags: Corona Virus, Coronavirus, COVID 19, Indian railway, Lockdown, Mask, RPF, आरपीएफ, कोरोना वायरस, कोविड 19, भारतीय रेलवे, मास्‍क, राजस्थान, राजस्‍थान, लॉकडाउन

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर