राजस्थान: प्रदेश युवा कांग्रेस में भारी असंतोष! 43 पदाधिकारियों को थमाए गए कारण बताओ नोटिस

Demo Pic.

Demo Pic.

प्रदेश में सियासी संकट के बाद संगठन प्रदेशाध्यक्ष को बदलकर डूंगरपुर विधायक गणेश घोघरा को जिम्मेदारी दी गई थी. तब से ही युवा कांग्रेस के कई पदाधिकारी असंतुष्ट नजर आ रहे हैं.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश युवक कांग्रेस के 43 पदाधिकारियों को कारण बताओ नोटिस थमाया गया है. इन पदाधिकारियों से 48 घंटे में जवाब देने को कहा गया है अन्यथा संगठन द्वारा कार्रवाई की जाएगी. मामला हाल ही में हुई संगठन की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक से जुड़ा है. राजसमंद में 22 और 23 मार्च को प्रदेश कार्यकारिणी की यह बैठक बुलाई गई थी जिसमें से पदाधिकारी नदारद थे. मामले को गंभीर मानते हुए इंडियन यूथ कांग्रेस की ओर से इन पदाधिकारियों को शोकॉज नोटिस जारी कर कारण पूछा गया है. जिन पदाधिकारियों को नोटिस जारी किए गए हैं, उनमें 2 प्रदेश उपाध्यक्ष, 10 प्रदेश महासचिव, 18 प्रदेश सचिव और 13 जिलों के अध्यक्ष शामिल हैं. संगठन की राजस्थान प्रभारी डॉ. पलक वर्मा, सह प्रभारी मितेन्द्र दर्शन सिंह, मंजू तोंगर और प्रदेशाध्यक्ष गणेश घोघरा के हस्ताक्षर से कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं.

असंतोष है वजह

इतनी बड़ी संख्या में पदाधिकारियों के प्रदेश कार्यकारिणी से अनुपस्थित रहने की मुख्य वजह संगठन में उपजा असंतोष माना जा रहा है. दरअसल, प्रदेश में सियासी संकट के बाद संगठन प्रदेशाध्यक्ष को बदलकर डूंगरपुर विधायक गणेश घोघरा को जिम्मेदारी दी गई थी. तब से ही युवा कांग्रेस के कई पदाधिकारी असंतुष्ट नजर आ रहे हैं. पूर्व में भी युवा कांग्रेस की प्रदेश प्रभारी डॉ. पलक वर्मा द्वारा एक जिलाध्यक्ष को बर्खास्त किया जा चुका है. अब फिर से संगठन में बिखराव को नेतृत्व द्वारा गंभीरता से लिया जा रहा है और पदाधिकारियों द्वारा बैठक से अनुपस्थित रहने को गंभीर मानते हुए शो कॉज नोटिस थमाए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज