IAS एसोसिएशन की पहल: कविताओं और लेखन के जरिए आमजन से जुड़ने का प्रयास

साहित्यिक विंग की सचिव मुग्धा सिन्हा. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

साहित्यिक विंग की सचिव मुग्धा सिन्हा. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

राजस्‍थान आईएएस एसोसिएशन ने ब्यूरोक्रेट्स और आमजन के बीच दूरियां और टकराव को दूर करने के लिए विशेष पहल की है. अब एसोसिएशन हर महीने साहित्य, कविता और लेखन का मंच उपलब्ध करा आमलोगों से संवाद बढ़ाएगा.

  • Share this:
राजस्‍थान आईएएस एसोसिएशन ने ब्यूरोक्रेट्स और आमजन के बीच दूरियों और टकराव को दूर करने के लिए विशेष पहल की है. अब एसोसिएशन हर महीने साहित्य, कविता और लेखन से जुड़ा मंच उपलब्ध कराएगा. मंच का मकसद ब्यूरोक्रेट्स और आमजन को एक दूसरे से जोड़ना है.



लोकसभा चुनाव 2019: राजस्थान में दो चरणों में होंगे चुनाव, 29 अप्रेल और 6 मई को होगा मतदान



एसोएसिएशन की साहित्यिक विंग ने कार्यक्रम की विस्तृत रूपरेखा तैयार की है। अप्रैल से योजना पर अमल शुरू कर दिया जाएगा. एसोसिएशन की साहित्यिक विंग काफी समय से ब्यूरोक्रेटस की छिपी हुई लेखन प्रतिभा को मंच देने और सामने लाने की कोशिश में जुटा थी. नोटशीट और मीटि्ंग्स की भागदौड़ से अलग ऑल इंडिया सेवा के कई अधिकारी अपने पुस्‍तक प्रेम के लिए चर्चित रहे हैं.





लोकसभा चुनाव-2019: राजस्थान में किस सीट के लिए कब होगा मतदान, यहां देखें पूरा कार्यक्रम
ब्यूरोक्रेट्स को मंच उपलब्ध कराएगा

आईएएस एसोसिएशन की साहित्यिक विंग की सचिव मुग्धा सिन्हा ने कहा कि अब आईएएस एसोसिएशन हर महीने लेखन और कविताओं के लिए ब्यूरोक्रेट्स को मंच उपलब्ध कराएगा. बकौल सिन्हा किताबें पढ़ना सुकून देता है. किताबें दिलों दिमाग को तरोताजा करती है. खाद्य विभाग की प्रिंसीपल सेक्रेटरी मुग्धा सिन्हा के आईएएस एसोसिएशन की साहित्यिक विंग की सचिव बनने के बाद एसोसिएशन की साहित्यिक गतिविधियों में खासी हलचल आई है. एसोसिएशन प्रत्येक महीने ब्यूरोक्रेटस द्वारा रचित पुस्तकों के विमोचन समारोह आयोजित करेगा.



लोकसभा चुनाव 2019: प्रदेश में बीजेपी-कांग्रेस के इन दिग्गजों पर रहेगी सभी की नजरें



मुख्य सचिव डीबी गुप्ता किताबें पढ़ने के लिए समय निकालते हैं

मुख्य सचिव के तौर पर डीबी गुप्ता ज्यादातर वक्त फाइलों और नोटशीट के कार्यों में गुजारते हैं, लेकिन गाहे बगाहे अच्छा साहित्य और किताबें पढ़ने के लिए समय निकाल लेते हैं. मुख्य सचिव डीबी गुप्ता का कहना है कि मुख्य सचिव बनने से पहले वे किताबें ज्यादा पढ़ते थे.



IAS जितेंद्र सोनी की 'रणखार' पुस्तक का विमोचन हो चुका है

आरयूआईईडीपी मिशन निदेशक जितेंद्र सोनी को लेखनी के लिए कई पुरस्कार भी मिल चुके हैं. अपने संवेदनशील व्यक्तित्व का परिचय उन्होंने झालावाड़ के कलेक्टर के तौर पर दिया. हैप्पीनेस इंडेक्स बढ़ाने वाले अभियानों और कार्यक्रमों को बढ़ावा दिया. सोनी की पुस्तक 'रणखार' का विमोचन हो चुका है.



IAS वैभव गालरिया को शशि थरूर की पुस्तकें पढ़ना बेहद पंसद है

जेडीसी रहते हुए वरिष्ठ आईएएस वैभव गालरिया ने लोक कल्याणकारी योजनाओं को आमजन तक पहुंचाने के लिए सराहनीय कार्य किया है. उच्च शिक्षा सचिव वैभव गालरिया को शशि थरूर की पुस्तकें पढ़ना बेहद पंसद है. अपनी लेखनी बेहतर करने के लिए वे लाइब्रेरी से शब्दकोश से जुड़ी पुस्तकें टटोलते रहते हैं.



IAS गोविंद शर्मा चार पांच किताबें बाजार में आ चुकी है

सीएम के सलाहकार गोविंद शर्मा की अब तक चार पांच किताबें बाजार में आ चुकी है. देव आंनद 'द लीजेंड वी बोथ लव यू' किताब को लेकर वे तारीफ पा चुके हैं.



IAS संजय दीक्षित साहित्य पढ़ने में समय देते हैं

विभागीय जांच आयुक्त संजय दीक्षित साहित्य पढ़ने में समय देते हैं. अपने बेदाग ट्वीट्स को लेकर चर्चाओं में रहने वाले दीक्षित 'कृष्णा गोपेश्वर' पुस्तक लिख चुके हैं.



IAS केके पाठक की धार्मिक पुस्तकों में ज्यादा रुचि

उद्योग आयुक्त केके पाठक की धार्मिक पुस्तकों में ज्यादा रुचि है. वे पौराणिक मिथकों से जुड़ी पुस्तकें या उससे जुड़ा साहित्य ज्यादा पढ़ते हैं. पाठक की डॉक्टरी से जुड़ी पुस्त्कों में भी बेहद दिलचस्पी है.



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज