होम /न्यूज /राजस्थान /Jaipur: SMS अस्पताल में जल्द लागू होगा इंटीग्रेटेड हेल्थ मैनेजमेंट सिस्टम, पढ़ें क्या होगा फायदा

Jaipur: SMS अस्पताल में जल्द लागू होगा इंटीग्रेटेड हेल्थ मैनेजमेंट सिस्टम, पढ़ें क्या होगा फायदा

जयपुर स्थित एसएमएस अस्पताल राजस्थान का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल है.

जयपुर स्थित एसएमएस अस्पताल राजस्थान का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल है.

Integrated Health Management System: राजस्थान के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एसएमएस में जल्द ही इंटीग्रेटेड हेल्थ मैनेजमें ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

राजस्थान का सबसे बड़ा एसएमएस अस्पताल होगा अपग्रेड
इंटीग्रेटेड हेल्थ मैनेजमेंट सिस्टम से एक क्लिक पर मिलेगी मरीजों की हिस्ट्री
नए सिस्टम से सरकार को मॉनिटरिंग और पॉलिसी बनाने में मिलेगी काफी मदद

जयपुर. राजस्थान के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल (SMS Hospital) में जल्द ही इंटीग्रेटेड हेल्थ मैनेजमेंट सिस्टम (Integrated Health Management System) शुरू होने वाला है. इस सिस्टम के लागू होने के बाद डॉक्टर्स को मरीजों की बीमारी से जुड़ी सभी जानकारी बस एक क्लिक से मिल जाएंगी. इससे एक ओर जहां मरीजों के रजिस्ट्रेशन, एडमिशन, बिलिंग, जांच और दवाओं समेत पूरी हिस्ट्री का रिकॉर्ड एक साथ आ जाएगा वहीं राज्य सरकार को विभिन्न बीमारियों को लेकर पॉलिसी डिसीजन और मॉनिटरिंग करने में भी मदद मिलेगी.

जानकारी के अनुसार यदि कोई मरीज राजस्थान के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल पहुंचता है तो उसे नए सिरे से सभी प्रक्रिया अपनानी पड़ती है. लेकिन अब राजधानी जयपुर में स्थित इस सबसे बड़े अस्पताल में इंटीग्रेटेड हेल्थ मैनेजमेंट सिस्टम शुरू किया जा रहा है. इससे मरीजों को बड़ी राहत मिलने वाली है. इंटीग्रेटेड हेल्थ मैनेजमेंट सिस्टम से मरीज से जुड़ी सभी जानकारियां बस एक क्लिक में सामने आ जाएंगी.

मरीज का वक्त खराब नहीं होगा और इलाज जल्द शुरू हो जाएगा
इलाज के लिए अस्पताल आए मरीज का आधार कार्ड नंबर को सॉफ्टवेयर में डालते ही डॉक्टर को ये पता चल जाएगा की अब तक मरीज की क्या क्या जांच हुई है. उसने कौन-कौन सी दवाएं ली हैं. इसके साथ ही नए इलाज का रिकॉर्ड भी उसमें एड होता चला जाएगा. इससे मरीज का वक्त खराब नहीं होगा और आगे का इलाज जल्द शुरू हो पाएगा.

मरीज से जुड़ी सभी जानकारियां लगातार अपडेट होती जाएंगी
एसएमएस अस्पताल के अधीक्षक डॉ.अचल शर्मा ने बताया कि इस सॉफ्टेवर से अलग अलग मॉड्युल एक साथ जुड जाएंगे. आईएचएमएस को लेकर अस्पताल में काम लगातार जारी है. जल्द ही इसको लागू कर दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि यदि डॉक्टर ने मरीज को कोई जांच लिखी है तो लैब में मरीज का नंबर डालते ही सामने आ जाएगा कि मरीज की कौन कौन सी जांच होनी है. उसकी रिपोर्ट भी ऑनलाइन ही सॉफ्टवेयर में अपडेट हो जाएगी. इसके अलावा दवाएं समेत अन्य जानकारी भी लगातार अपडेट होती जाएंगी. इससे मरीज की पूरी हिस्ट्री एक ही जगह पर मिल जाएगी.

बीमारियों को लेकर मॉनिटरिंग भी अच्छे से हो पाएंगी
डॉ.अचल शर्मा ने बताया कि इस सॉफ्टवेर से राज्य सरकार को पता चल पाएगा कि कौन कौन सी बीमारियां प्रदेश में बढ़ रही हैं. इससे बीमारियों को लेकर पॉलिसी डिसीजन लिया जा सकेगा. इसके साथ ही बीमारियों को लेकर मॉनिटरिंग भी अच्छे से हो पाएंगी. प्रदेश के दूसरे सरकारी अस्पताल इंटीग्रेटेड हेल्थ मैनेजमेंट सिस्टम से जुड़ चुके हैं. लेकिन अब तक ये सिस्टम एसएमएस में लागू नहीं हुआ था. अब एसएमएस में भी ये सिस्टम अगले कुछ दिनों में शुरू हो जाएगा.

Tags: Health News, Jaipur news, Rajasthan news, SMS Hospital

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें