जयपुर: स्ट्रेचर पर लेटकर इंटर्न डॉक्टरों ने किया प्रदर्शन, सरकार से की स्टाइपेंड बढ़ाने की मांग

इंटर्न डॉक्टरों ने रैली निकालकर सरकार के खिलाफ गुस्से का इजहार किया
इंटर्न डॉक्टरों ने रैली निकालकर सरकार के खिलाफ गुस्से का इजहार किया

जयपुर में इंटर्न डॉक्टरों (Intern Doctors) का आंदोलन जारी है. कुछ डॉक्टर अनशन पर भी बैठे हैं. ये लोग गहलोत सरकार से स्टाइपेंड बढ़ाने की मांग कर रहे हैं. फिलहाल इन्हें मात्र 7 हजार रुपये स्टाइपेंड मिलता है.

  • Share this:
जयपुर. स्ट्रेचर पर लेटे रोगियों का इलाज करने वाले धरती के भगवान रविवार को खुद स्ट्रेचर पर लेटे नजर आये. इस दौरान आंदोलनकारी डॉक्टर्स गहलोत सरकार (Gehlot Government) से उनकी मांगे पूरी करने की अपील करते देखे गये. दरअसल, स्टाइपेंड 7 हजार रुपये से बढ़ाने की मांग को लेकर जयपुर में इंटर्न डॉक्टरों (Intern Doctors) का आंदोलन जारी है. कुछ डॉक्टर्स अनशन पर भी बैठे हैं.

रविवार को अपनी मांगों को लेकर आंदोलनकारी डॉक्टरों ने रैली निकाली. एसएमएस मेडिकल कॉलेज से रैली रवाना होकर त्रिमूर्ति सर्किल होते हुए मेडिकल कॉलेज पहुंची. इस दौरान डॉक्टर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते नजर आए. अनशनकारी डॉक्टर्स भी स्ट्रेचर पर लेटकर रैली में शामिल हुए. रैली से पहले मेडिकल टीम ने मौके पर पहुंचकर उनके स्वास्थ्य की जांच की.

डॉक्टरों की पुलिस से हुई कहासुनी



त्रिमूर्ति सर्किल के पास जब रैली पहुंची तो प्रदर्शनकारी डॉक्टर वहां कुछ देर के लिए धरने पर बैठ गए. इस दौरान पुलिकर से इनकी कहासुनी हुई. पुलिस ने डॉक्टरों को त्रिमूर्ति सर्किल से हटाने की कोशिश की, क्योंकि धरने की वजह से चौराहे पर जाम की स्थिति हो गई थी. बाद में डॉक्टर्स वहां से एसएमएस मेडिकल कॉलेज की ओर निकल गये.
एसएमएस कॉलेज पहुंचकर एक बार फिर आंदोलनकारी सड़क पर धरने पर बैठ गए. जहां इन्होंने पुलिस पर धमकाने का आरोप लगाया. बाद में पुलिस ने डॉक्टरों को समझा-बुझाकर सड़क खाली करवाया. इंटर्न डॉक्टरों का कहना है कि जब तक उनकी मांगें मानी नहीं जाती, तब उनका आंदोलन जारी रहेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज