Jaipur News: भ्रष्टाचार के केस में गिरफ्तार IPS मनीष अग्रवाल को आज किया जायेगा कोर्ट में पेश

मनीष अग्रवाल के खिलाफ जम्मू कश्मीर में भी घूस लेने के आरोपों की पुष्टि हुई है.

मनीष अग्रवाल के खिलाफ जम्मू कश्मीर में भी घूस लेने के आरोपों की पुष्टि हुई है.

Corruption case: घूसखोरी के मामले में गिरफ्तार किये गये दौसा के पूर्व एसपी आईपीएस मनीष अग्रवाल (IPS Manish Aggarwal) को आज कोर्ट में पेश किया जायेगा. अग्रवाल ने मंगलवार की रात एसीबी की हवालात में काटी.

  • Share this:

जयपुर. भ्रष्टाचार के मामले (Corruption case) में गिरफ्तार किये गये दौसा के पूर्व पुलिस अधीक्षक आईपीएस मनीष अग्रवाल (IPS Manish Aggarwal) को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो मनीष अग्रवाल से पूछताछ के लिये कोर्ट से रिमांड मांग सकता है. भ्रष्टाचार के इस केस में आरोपी आईपीएस से पूछताछ में कई बड़े खुलासे हो सकते हैं. मनीष अग्रवाल जहां भी जिस पद पर रहे हैं वहां हमेशा विवादित रहे हैं. गिरफ्तारी के बाद पूर्व एसपी अग्रवाल की मंगलवार की रात एसीबी की हवालात में कटी.

भ्रष्टाचार के मामले में पहले एसीबी के राडार और अब गिरफ्त में आये आईपीएस मनीष अग्रवाल पर दौसा पुलिस अधीक्षक के पद पर रहते हुए सड़क निर्माण कंपनी से 38,00,000 रुपये की घूस मांगने का आरोप है. इनमें चार लाख रुपये मासिक बंधी के हिसाब से सात महीनों के 28 लाख रुपये की मंथली और दस लाख रुपये एक केस को रफा-दफा करने के मामले में रिश्वत मांगने का आरोप है.

ये संगीन आरोप भी लगे हैं आईपीएस पर

वहीं एक और कंपनी से बतौर रिश्वत 31 लाख रुपये वसूलने का भी आरोप है. इसके अलावा पोक्सो एक्ट के एक केस को रफा-दफा करने के लिए 25 लाख रुपये की घूस मांगने का भी उन पर आरोप है. इसकी जांच चल रही है. मनीष अग्रवाल के खिलाफ जम्मू कश्मीर में भी घूस लेने के आरोपों की पुष्टि हुई है. एसीबी ने भ्रष्टाचार के इन सभी मामलों के अहम तथ्य जुटाये हैं.

Youtube Video

कोर्ट में पेश करने से पूर्व कोविड टेस्ट भी कराया जायेगा

गिरफ्तार आईपीएस मनीष अग्रवाल को कोर्ट में पेश करने से पूर्व आज उनका कोविड टेस्ट भी कराया जायेगा. एसीबी के दो अधिकारियों की टीम आरोपी आईपीएस अग्रवाल से पूछताछ करने में जुटी है. एसीबी पिछले करीब 20 दिनों से उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के सबूतों को जुटाने में जुटी थी. करीब 20 दिन पहले एसीबी ने मनीष अग्रवाल के लिये दलाली करने वाले नीरज मीणा को दबोचा था. उससे हुई पूछताछ आईपीएस मनीष अग्रवाल के नाम का खुलासा होने के बाद एसीबी ने मनीष अग्रवाल के मोबाइल जब्त कर लिये थे. उसके बाद आरोपों की पुष्टि होने पर एसीबी ने मनीष अग्रवाल को मंगलवार को दोपहर में गिरफ्तार कर लिया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज