बच्‍ची से रेप के प्रयास का मामला: जयपुर में इंटरनेट सेवाएं बंद, 5 लाख रुपए के मुआवजे का ऐलान

जयपुर में एक मासूम बच्ची से रेप के प्रयास की आपराधिक घटना को सोशल मीडिया पर समाज विशेष से जोड़कर अफवाह फैलाई गई. देखते ही देखते मासूम के ज्यादती में शुरू हुए विरोध-प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया.


Updated: July 3, 2019, 11:04 AM IST
बच्‍ची से रेप के प्रयास का मामला: जयपुर में इंटरनेट सेवाएं बंद, 5 लाख रुपए के मुआवजे का ऐलान
शास्त्री नगर में विरोध प्रदर्शन करते स्थानीय लोग.

Updated: July 3, 2019, 11:04 AM IST
राजस्थान की राजधानी जयपुर में सोमवार रात को एक 7 साल की बच्ची से रेप के प्रयास के बाद इतना हंगामा बरपा कि जयपुर के 40 थानों की पुलिस शास्त्रीनगर के भट्‌टा बस्ती में तैनात करनी पड़ी. उपद्रवी मंगलवार को भी दिनभर पथराव और वाहनों में तोडफोड़ करते रहे. हालात बेकाबू होते देख सरकार ने अपने मुस्लिम विधायकों को इलाके में शांति बनाए रखने के लिए भेजा, लेकिन बात नहीं बनी. मामला बिगड़ता गया और दिल्ली प्रवास पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तक को दखल देना पड़ा. सीएम के आदेश पर तत्काल पीड़ित परिवार को 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई.

उधर, परिवहन मंत्री अस्पताल पहुंचे और पीड़ित बच्ची की खैरियत जानी. वहीं, चिकित्सा मंत्री ने अस्पताल अधीक्षक से बात कर निशुल्क इलाज की बात कही, लेकिन सोशल मीडिया पर इस रेप के प्रयास को बढ़ा-चढ़ाकर धर्म और समुदाय विशेष से जोड़कर अफवाहों ने माहौल को और बिगाड़ दिया. आखिरकार शहर के 13 थाना इलाकों में बुधवार सुबह 10 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई.

5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता का ऐलान

मुख्य सचेतक महेश जोशी, विधायक अमीन कागजी एवं रफीक खान ने मंगलवार को परिजनों और लोगों से समझाइश के बाद उनके संवेदनशील प्रयासों से मांग को देखते हुए परिवार को 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी गई. मुख्यमंत्री सहायता कोष से स्वीकृत यह रकम जयपुर जिला कलक्टर कार्यालय से जारी की गई. चैक मुख्य सचेतक महेश जोशी, विधायक अमीन कागजी एवं रफीक खान की मौजूदगी में पीड़ित परिवार के संरक्षक पिता को प्रदान किया गया.

चिकित्सा मंत्री ने दिल्ली से दिए निर्देश, फ्री इलाज

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने जयपुर के शास्त्रीनगर इलाके में हुए दुष्कर्म के प्रयास मामले में पीड़िता का समुचित उपचार सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए. उन्होंने दिल्ली से ही चिकित्सकों को बच्ची का समस्त उपचार निःशुल्क करने के भी निर्देश दिए.

इंटरनेट सेवाओं पर बुधवार सुबह 10 बजे तक प्रतिबंध
Loading...

सम्भागीय आयुक्त केसी वर्मा ने एक आदेश जारी कर जयपुर पुलिस कमिश्नरेट के तहत 13 थाना क्षेत्रों में इंटरनेट सेवाओं 2जी/3जी/4जी डाटा (मोबाइल इंटरनेट), इंटरनेट सर्विसेज, बल्क एसएमएस/एमएमएस, वॉटस एप, फेसबुक, ट्विटर तथा अन्य सोशल मीडिया सेवाएं जो इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर (वॉइस कॉल एवं ब्रॉडबैंड इंटरनेट के अलावा) द्वारा प्रदान की जाती है, उन पर 02 जुलाई 2019 को दोपहर 2 बजे से 03 जुलाई 2019 को सुबह 10 बजे तक अस्थाई प्रतिबंध लागू कर दिया.

इन इलाकों में प्रतिबंध लगाया गया

सम्भागीय आयुक्त वर्मा के अनुसार इंटरनेट पर अस्थाई प्रतिबंध रामगंज, गलता गेट, माणक चौक, सुभाष चौक, ब्रह्ममपुरी, नाहरगढ़, कोतवाली, संजय सर्किल, शास्त्रीनगर, भट्टा बस्ती, लाल कोठी, आदर्श नगर व सदर थाना क्षेत्रों में लगाया गया है. उन्होंने सभी नागरिकों को इस आदेश की पालना करने एवं अवहेलना नही करने के निर्देश दिए है. यदि कोई व्यक्ति इन प्रतिबंधात्मक आदेशों का उल्लघन करेगा तो उसे सक्षम विधिक प्रावधानों के तहत अभियोजित किया जाएगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 3, 2019, 7:03 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...