जयपुर: वीआईपी के लिए जेट विमान खरीदने में फंसा पेच, गहलोत सरकार ने खींचे हाथ
Jaipur News in Hindi

जयपुर: वीआईपी के लिए जेट विमान खरीदने में फंसा पेच, गहलोत सरकार ने खींचे हाथ
राज्य सरकार की उच्चाधिकार प्राप्त समिति ने 9 जनवरी को मिड साइज जेट विमान खरीदने के लिए डेशो एविएशन कंपनी की तकनीकी बिड को मंजूर कर लिया था.

अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) ने वीआईपी के लिए डेशो कंपनी से करीब 214 करोड़ रुपये में मिड साइज जेट विमान (Mid Size Jet Aircraft) खरीदने से इंकार कर दिया है. माना जा रहा है कि कीमत अधिक होने के कारण गहलोत सरकार ने कंपनी से विमान खरीदने से हाथ खींच लिए.

  • Share this:
जयपुर. अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) ने वीआईपी के लिए डेशो कंपनी से करीब 214 करोड़ रुपये में मिड साइज जेट विमान (Mid Size Jet Aircraft) खरीदने से इंकार कर दिया है. माना जा रहा है कि कीमत अधिक होने के कारण गहलोत सरकार ने कंपनी से विमान खरीदने से हाथ खींच लिए. जनवरी में मुख्य सचिव डीबी गुप्ता (CS DB Gupta) की अध्यक्षता में उच्च अधिकार प्राप्त समिति ने डेशो कंपनी (Dasho company) से विमान खरीदने को हरी झंडी दी थी.

214 करोड़ में खरीदने पर सहमति बनी थी
10 एक्जीक्यूटिव क्लब सीट वाले मल्टी इंजन विमान की लिस्ट प्राइज करीब 29.95 मिलियन डॉलर यानी करीब 214 करोड़ में खरीदने पर सहमति बनी थी. मुख्य सचिव डीबी गुप्ता की अध्यक्षता में बुधवार को सचिवालय में हुई बैठक में एक बार फिर विमान खरीदने पर मंथन किया गया. जेट विमान खरीदने को लेकर अभी तक हुई प्रक्रिया पर अधिकारियों ने चर्चा की, लेकिन चर्चा खरीदने के बिंदु तक नहीं पहुंच पाई. बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव निरंजन आर्य और सीएम के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे.

9 जनवरी को दी थी विमान खरीदने की हरी झंडी



उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार की उच्चाधिकार प्राप्त समिति ने 9 जनवरी को मिड साइज जेट विमान खरीदने के लिए डेशो एविएशन कंपनी की तकनीकी बिड को मंजूर कर लिया था. हवाई जहाज खरीद के लिए सिविल एविएशन निदेशालय ने पिछले साल 15 अक्टूबर को जो टेंडर जारी किए थे उनमें डेशो, बोम्बार्डिक, टेक्ट्रॉन, गल्फ स्ट्रीम और एंब्रर ने हिस्सा लिया था. गहलोत सरकार ने पुराने एयर सी-90 विमान को बेचने का निर्णय लिया था.



अगस्ता के बेचान के लिए पहले 5 बार बिडिंग हो चुकी है
वहीं पुराने अगस्ता हैलीकॉप्टर की कीमत का पुनर्मूल्यांकन करके बेचान का भी अनुमोदन किया गया था. अगस्ता के बेचान के लिए पहले 5 बार बिडिंग हो चुकी है. अब इसकी कीमत का फिर पुनर्मूल्यांकन किया जा रहा है. इसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में जो नई कीमत तय होगी उसके आधार पर ग्लोबल बिडिंग की जाएगी.

 

खुशखबरी: यहां होगी 2500 होमगार्ड्स की भर्ती, करें आवेदन

 

अशोक गहलोत सरकार बड़ा फैसला, स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल होंगे कवि प्रदीप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading