डॉक्टरों की टीम ने सफल ऑपरेशन कर महिला के गर्भाशय से निकाली आठ किलो की गांठ

चांदपोल अस्पताल (Chandpole Hospital) की सुपरिटेंडेंट डॉ. पुष्पा नागर ने बताया कि मेरठ से इलाज करवाने आई मुन्नी पांडे का गर्भाशय से गांठ हटाने का ऑपरेशन सफल रहा है. ऑपरेशन के दौरान महिला के गर्भाशय से आठ किलो की गांठ निकाली गई है

चांदपोल अस्पताल (Chandpole Hospital) की सुपरिटेंडेंट डॉ. पुष्पा नागर ने बताया कि मेरठ से इलाज करवाने आई मुन्नी पांडे का गर्भाशय से गांठ हटाने का ऑपरेशन सफल रहा है. ऑपरेशन के दौरान महिला के गर्भाशय से आठ किलो की गांठ निकाली गई है

चांदपोल अस्पताल (Chandpole Hospital) की सुपरिटेंडेंट डॉ. पुष्पा नागर ने बताया कि मेरठ से इलाज करवाने आई मुन्नी पांडे का गर्भाशय से गांठ हटाने का ऑपरेशन सफल रहा है. ऑपरेशन के दौरान महिला के गर्भाशय से आठ किलो की गांठ निकाली गई है

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 11:58 PM IST
  • Share this:

जयपुर. पिंक सिटी जयपुर (Jaipur) के जनाना अस्पताल के डॉक्टरों ने कामयाबी हासिल करते हुए एक महिला मरीज को नया जीवन दिया है. चांदपोल अस्पताल (Chandpole Hospital) के डॉक्टरों की टीम ने सफल ऑपरेशन (Successful Operation) कर महिला के गर्भाशय में कई दिनों से पल रही आठ किलो की गांठ को बाहर निकाला. चिकित्सकों ने यूपी के मेरठ (Meerut) की रहने वाली 38 वर्षीय महिला के गर्भाशय से सफलतापूर्वक गांठ निकाला.

अस्पताल की सुपरिटेंडेंट डॉ. पुष्पा नागर ने बताया कि मेरठ से इलाज करवाने आई मुन्नी पांडे का गर्भाशय से गांठ हटाने का ऑपरेशन सफल रहा है. ऑपरेशन के दौरान महिला के गर्भाशय से आठ किलो की गांठ निकाली गई है. पुष्पा नागर और ओपीडी इंचार्ज रमेश सैनी के अनुसार इस तरह की गांठ सामान्य है, लेकिन इतनी बड़ी गांठ के होने के कारण महिला को चलने, सांस लेने और पाचन में तकलीफ हो रही थी.

डॉ. सी.एस. चतुर्वेदी और डॉ. त्रिशला जैन के साथ ऑपरेशन टीम में डॉ. ऋचा, डॉ.आकृति, डॉ.सपना, डॉ.निहार, मनका , राकेश यादव, दर्शना आदि शामिल थी. ओटी प्रभारी डॉ. सी.एस चटर्जी बताया कि यह हमारी बड़ी उपलब्धि है कि हमने अस्पताल में गर्भाशय से गांठ निकालने का यह पहला सफल ऑपरेशन किया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज