लाइव टीवी

जयपुर: सीएम अशोक गहलोत कलेक्टर्स पर हुए सख्त, वीसी के जरिए फिर लेंगे फीडबैक
Jaipur News in Hindi

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: February 11, 2020, 7:50 PM IST
जयपुर: सीएम अशोक गहलोत कलेक्टर्स पर हुए सख्त, वीसी के जरिए फिर लेंगे फीडबैक
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 40 से अधिक बिंदुओं पर कलेक्टर्स के साथ संवाद कर सकते हैं.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं (Flagship plans) को जमीनी धरातल पर उतारने के लिए जिला कलक्टर्स (District Collector) से फिर सीधा संवाद (Direct communication) करेंगे. इसमें खराब परफॉर्मेंस (Performance) वाले कलेक्टर्स पर गाज गिरने की संभावना भी जताई जा रही है.

  • Share this:
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं (Flagship plans) को जमीनी धरातल पर उतारने के लिए जिला कलक्टर्स (District Collector) से फिर सीधा संवाद (Direct communication) करेंगे. गहलोत 14 फरवरी को दोपहर 3:30 बजे सचिवालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) के जरिए सभी जिला कलेक्टर, अतिरिक्त मुख्य सचिव और संभागीय आयुक्त से संवाद कर लोक कल्याणकारी योजनाओं का फीडबैक लेंगे. वीसी में फ्लैगशिप योजनाओं में खराब परफॉर्मेंस (Performance) वाले कलेक्टर्स पर गाज गिरने की संभावना भी जताई जा रही है.

परफॉर्मेंस ठीक नहीं पाई गई तो गिर सकती है गाज
मुख्यमंत्री गहलोत ने पिछले दिनों वीसी के जरिए सभी जिला कलेक्टर्स से संवाद किया था. मुख्यमंत्री ने उस वीसी में जिन कलेक्टर्स की परफॉर्मेंस ठीक नहीं थी उन्हें सुधारने की नसीहत भी दी थी. अब 14 फरवरी को होने वाली वीसी में यह माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री की सख्त हिदायत के बावजूद भी जिन कलेक्टर्स की परफॉर्मेंस ठीक नहीं पाई गई तो उन पर गाज गिर सकती है.

पिछली वीसी में मुख्यमंत्री ने दी थी सख्त हिदायत

मुख्यमंत्री ने पिछली वीसी में वृद्धावस्था पेंशन के लंबित केसों और राजस्थान संपर्क पोर्टल 181 में दर्ज शिकायतों का समय पर निस्तारण नहीं होने पर एक दर्जन से अधिक जिला कलेक्टर्स को सख्त हिदायत देते हुए उन्हें फटकार लगाई थी. मुख्यमंत्री ने सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं का लाभ आमजन को नहीं मिलने पर जयपुर, कोटा, नागौर, बीकानेर, जालोर, जोधपुर, भरतपुर और पाली के जिला कलेक्टर को कड़ी फटकार लगाई थी. इन जिलों की परफोर्मेंस सबसे ज्यादा खराब रही थी.

वीसी में 40 से अधिक बिंदु रहेंगे एजेंडे में
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 40 से अधिक बिंदुओं पर कलेक्टर्स के साथ संवाद कर सकते हैं. वीसी में नि:शुल्क दवा योजना, वृद्धावस्था पेंशन योजना, महिला सशक्तिकरण की दिशा में चलाई जा रही योजनाएं, बालिका शिक्षा, ईडब्ल्यूएस आरक्षण, जनसंपर्क पोर्टल, मुख्यमंत्री सहायता कोष, बेरोजगारी भत्ता और गरीबों के लिए चलाई जा रही योजनाएं एजेंडे में शामिल रहेंगी. 

 

योजनाओं का लाभ अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति को मिले
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत चाहते हैं कि सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं का लाभ अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति तक पहुंचे. उन्होंने इसी मंशा के चलते हर महीने सभी जिला कलेक्टर्स के साथ वीसी करने की घोषणा की थी. पिछली वसुंधरा सरकार में हर 6 महीने में कलेक्टर्स के साथ वीसी हुआ करती थी.

 

ACB's Big Action: खैरवाड़ा SHO भंवर विश्नोई ढाई लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार

 

 

विधानसभा-सत्र: पहली बार प्रश्नकाल में आसन से पूछे गए मंत्रियों से सीधे सवाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 7:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर