होम /न्यूज /राजस्थान /Jaipur News: निगम आयुक्त यज्ञमित्र सिंह ने लगाया पार्षदों पर मारपीट का आरोप, FIR दर्ज कराएंगे

Jaipur News: निगम आयुक्त यज्ञमित्र सिंह ने लगाया पार्षदों पर मारपीट का आरोप, FIR दर्ज कराएंगे

जयपुर ग्रेटर के नगर आयुक्त ने पार्षदों पर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए एफआईआर कराने का निर्णय लिया है.

जयपुर ग्रेटर के नगर आयुक्त ने पार्षदों पर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए एफआईआर कराने का निर्णय लिया है.

ग्रेटर जयपुर नगर निगम के आयुक्त IAS यज्ञमित्र सिंह देव ने भाजपा के करीब 3 पार्षदों पर धक्का मुक्की और मारपीट का आरोप लग ...अधिक पढ़ें

जयपुर. ग्रेटर नगर निगम के आयुक्त IAS यज्ञमित्र सिंह देव ने भाजपा के करीब 3 पार्षदों पर धक्का मुक्की और मारपीट का आरोप लगाया हैं. उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का भी फैसला किया हैं. बताया जा रहा हैं कि शुक्रवार दोपहर मेयर सौम्या गुर्जर के चैम्बर में पहुंचे आयुक्त यज्ञमित्र सिंह देव जब वापस बाहर निकल रहे थे. तो वहां मौजूद एक भाजपा पार्षद ने उनका हाथ पकड़ा और बाकी अन्य ने रोकने की कोशिश की. आयुक्त ने तीन पार्षदों पर मारपीट का आरोप लगाया हैं.

इस घटना के बाद उन्होने इन पार्षदों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का ऐलान किया हैं. वहीं, मेयर चैम्बर के बाहर मौजूद कुछ होमगार्डस ने आयुक्त के स्टाफ को अंदर जाने से रोका. जिसके बाद आयुक्त ने होमगार्डस को सस्पेंड करने के निर्देश भी दिए. आयुक्त ने जिन पार्षदों पर आरोप लगाया हैं उनमे रामकिशोर प्रजापत, पारस जैन और अजय सिंह शामिल हैं.

क्या है विवाद 

आयुक्त यज्ञमित्र सिंह देव ने कहा कि 3 बजे मेयर ने BVG कंपनी के भुगतान की पत्रावली पर वार्ता के लिए बुलाया था. मै कक्ष मे गया तो 10 पार्षद बैठे थे. उन्होने दबाव बनाया कि पत्रावली पर वैकल्पिक व्यवस्था के आदेश आज ही जारी करे. BVG को 8 हफ्ते की राहत कोर्ट से मिली हुई हैं. मैने निवेदन किया तो उनके द्वारा असभ्य भाषा का इस्तेमाल किया. पौने 4 बजे कलेक्ट्रेट में कोरोना बैठक में जाने का हवाला दिया और बाहर निकलने लगा तो एक पार्षद ने गेट पर पैर लगाकर रास्ता बंद किया. कुल 3 लोगों ने मेरे साथ मारपीट की. पुलिस में मामला दर्ज करवा रहा हूं. मैं भी मारपीट कर सकता था पर ये सभ्यता नही. अपने चैम्बर में बुलाकर दबाव बनाते हैं. मामला दर्ज करवाकर उच्च अधिकारियो को रिपोर्ट भेजूंगा.

उधर, मेयर सौम्या ने आरोप लगाया हैं कि आयुक्त की नीयत काम करने की नही हैं. बीवीजी हडताल पर हैं. वैकल्पिक व्यवस्था कर नही पा रहे हैं. गरमागरमी कुछ नही हुई हैं. हम तो बैठक का इंतजार कर रहे थे. बीवीजी से आयुक्त का रिश्ता क्या हैं. ये मैं नही जानती.

कर्मचारी विरोध में- सफाईकर्मी हड़ताल पर

इस घटना की जानकारी मिलते ही नगर निगम कर्मचारी ट्रेड यूनियन अध्यक्ष कोमल यादव और सफाई कर्मचारी यूनियन अध्यक्ष नन्दकिशोर डंडोरिया मौके पर पहुंचे और विरोध जताया. कर्मचारियों ने मेयर सौम्या का घेराव किया. वहीं, हैरिटेज और ग्रेटर नगर निगम में 5 जून को सफाईकर्मियो की हडताल का ऐलान किया गया. कांग्रेस ने जताया विरोध-ग्रेटर निगम में कांग्रेस की मेयर प्रत्याशी रही और वार्ड 93 से पार्षद दिव्या सिंह ने कहा कि मेयर और भाजपा पार्षदों का कृत्य अशोभनीय हैं. इतिहास में काले दिवस के रूप में माना जाएगा. वहीं, कांग्रेस पार्षद करण शर्मा ने कहा कि इस घटना में शामिल पार्षदों की सदस्यता रद्द की जाए.

Tags: Jaipur Greater Mayor, Jaipur live news, Jaipur Municipal Corporation

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें