Home /News /rajasthan /

Jaipur: कोरोना संकट में भी भ्रष्टाचार, हेल्थ इंस्पेक्टर को 4000 रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा

Jaipur: कोरोना संकट में भी भ्रष्टाचार, हेल्थ इंस्पेक्टर को 4000 रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा

राज्यसभा सदस्य बनाने के लिए मांगी गई रकम की टोकन राशि लेते समय आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राज्यसभा सदस्य बनाने के लिए मांगी गई रकम की टोकन राशि लेते समय आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कोरोना (COVID-19) वायरस के संकट काल में भले ही अपराधों पर काफी हद तक अंकुश लग गया हो, लेकिन भ्रष्टाचार (Corruption) अभी भी बदस्तूर जारी है. झुंझुनूं और अलवर के बाद भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने गुरुवार को जयपुर में बड़ी कार्रवाई की है.

अधिक पढ़ें ...
जयपुर. कोरोना (COVID-19) वायरस के संकट काल में भले ही अपराधों पर काफी हद तक अंकुश लग गया हो, लेकिन भ्रष्टाचार (Corruption) अभी भी बदस्तूर जारी है. झुंझुनूं और अलवर के बाद भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने गुरुवार को जयपुर में बड़ी कार्रवाई की है. एसीबी की टीम ने यहां कार्रवाई करते हुए नगर निगम के हेल्थ इंस्पेक्टर को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. इंस्पेक्टर रिश्वत की यह राशि सफाई कर्मचारी से ले रहा था.

हाजिरी रजिस्टर फॉरवर्ड करने के लिए मांगी थी रिश्वत
जयपुर एसीबी की टीम ने नगर निगम के विद्याधर नगर जोन के वार्ड नम्बर 2 के हेल्थ इंस्पेक्टर जगदीश को 4000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. आरोपी हेल्थ इंस्पेक्टर जगदीश ने सफाई कर्मचारी से हाजिरी रजिस्टर को जोन कार्यालय भेजने के एवज में रिश्वत मांगी थी. इस पर उसने एसीबी में शिकायत दर्ज कराई. शिकायत का सत्यापन होने के बाद गुरुवार को एसीबी कार्रवाई को अंजाम दिया. एसीबी ने आरोपी हेल्थ इंस्पेक्टर को सफाई कर्मचारी से 4000 की रिश्वत लेते हुए मुरलीपुरा स्थित कुकरखेड़ा मंडी गेट पर रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है. एसीबी अब आगे की कार्रवाई में जुटी है. हाजिरी स्टेटमेंट जोन कार्यालय पहुंचने के बाद ही कर्मचारी की तनख्वाह बनती है.

लॉकडाउन में झुंझुनू और अलवर में भी हुई थी कार्रवाई
लॉकडाउन में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो द्वारा ट्रैप की यह तीसरी बड़ी कार्रवाई की गई है. इससे पहले एसीबी ने झुंझुनू और अलवर में भी ट्रेप की कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इनमें हाल ही में 4 मई को एसीबी ने अलवर में कार्रवाई करते हुए वहां पर एक फर्म का बिल पास करने की एवज में जयपुर डिस्कॉम के अधिशासी अभियंता और एक कर्मचारी को 69 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था. यह मामला शांत हुआ भी नहीं था कि अब जयपुर में भ्रष्टाचार का मामला सामने आ गया.

Jaipur: सुपर स्प्रेडर बने बड़ा खतरा, 20 सब्जी विक्रेता और दुकानदार पॉजिटिव

गहलोत सरकार के इस फैसले से 8.5 लाख कर्मचारियों को कम मिलेगा वेतन

Tags: Anti corruption bureau, Jaipur news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर