Jaipur: कंगाली मिटाने के लिए अपना लिया यह कल्चर, अब करोड़ों में हो रही कमाई, जानिये क्या है पूरी कहानी
Jaipur News in Hindi

Jaipur: कंगाली मिटाने के लिए अपना लिया यह कल्चर, अब करोड़ों में हो रही कमाई, जानिये क्या है पूरी कहानी
जेडीए ने कॉर्पोरेट बिल्डर्स और डवलपर्स की टीम की तरह अपने यहां एनर्जेटिक अफसरों का चयन करके 'जेडीए एट प्रोपर्टी' नाम से अलग से दफ्तर तैयार किया.

राजस्थान की राजधानी जयपुर में विकास की जिम्मेदारी सरकार ने जयपुर विकास प्राधिकरण (JDA) को दे रखी है. पिछले लंबे समय से रियल एस्टेट और प्रोपर्टी सेक्टर (Property sector) में चल रहे मंदी के आलम के कारण जयपुर विकास प्राधिकरण के एकाउंट खाली हो गए और वह कंगाली के दौर में पहुंच गया.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर में विकास की जिम्मेदारी सरकार ने जयपुर विकास प्राधिकरण (JDA) को दे रखी है. पिछले लंबे समय से रियल एस्टेट और प्रोपर्टी सेक्टर (Property sector) में चल रहे मंदी के आलम के कारण जयपुर विकास प्राधिकरण के एकाउंट खाली हो गए और वह कंगाली के दौर में पहुंच गया.

इस पर जेडीए ने निजी बिल्डर्स और डवलपर्स के प्रोजेक्ट्स की बिक्री और कॉर्पोरेट कल्चर से सीख लेते हुए अपने यहां भी कॉर्पोरेट कल्चर को अपना लिया. इसके बाद तो मानो जयपुर विकास प्राधिकरण के दिन ही बदल गए. लॉकडाउन की अवधि में जब सब कुछ बंद था तब भी जयपुर विकास प्राधिकरण ने बरसों से डंप पड़ी अनसोल्ड प्रोपर्टी को ऑनलाइन और कॉर्पोरेट कल्चर का उपयोग करके बेच डाला. आज जेडीए फिर करोड़ों में खेल रहा है.

Rajasthan Weather Alert: मरुधरा के दक्षिणी द्वार तक पहुंचा मानसून, अगले 24 घंटों में प्रदेश में प्रवेश की उम्मीद



यह है कॉर्पोरेट कल्चर
जयपुर विकास प्राधिकरण ने कॉर्पोरेट बिल्डर्स और डवलपर्स की टीम की तरह अपने यहां एनर्जेटिक अफसरों का चयन करके 'जेडीए एट प्रोपर्टी' नाम से अलग से दफ्तर तैयार किया. इस दफ्तर में एसी समेत वो तमाम सुविधाएं जुटाई गई जो एक कॉर्पोरेट कल्चर के ऑफिस में होती है. इसके साथ साथ प्रोपर्टी का मौका दिखाने के लिए निजी बिल्डर्स की भांति उपभोक्ता को निशुल्क लाने ले जाने की सुविधा को विकसीत किया. उसके बाद फॉलोअप सिस्टम भी अपनाया गया. यह सब करने के बाद जेडीए ने अपनी बरसों से नहीं बिक रही सम्पत्तियों को भी बेचने में सफलता प्राप्त कर ली.

Rajasthan: सचिन पायलट का सीएम अशोक गहलोत पर निशाना, राज्‍यसभा चुनाव को लेकर कही यह बात

अब शिविर लगाकर दे रहे हैं जानकारी
जयपुर विकास प्राधिकरण के आयुक्त टी.रविकांत ने बताया कि निजी बिल्डर्स और डवलपर्स की भांति जयपुर विकास प्राधिकरण अपनी विभिन्न आवासीय और व्यावसायिक योजनाओं की शिविर लगाकर मौके पर ही लोगों को तमाम जानकारियां दे रहा है. इसके साथ ही लोगों को प्रोपर्टी खरीदने के लिए ई-नीलामी प्रक्रिया की जानकारी भी दी जा रही है. जेडीए की ओर से करधनी, चित्रकूट, आतिश मार्केट, सालिगरामपुरा और रिंग रोड क्षेत्र में शिविर आयोजित किये जा रहे हैं. शिविरों में तकनीकी अधिकारियों द्वारा इच्छुक लोगों को तमाम जानकारियां उपलब्ध करवाई जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज