Home /News /rajasthan /

Jaipur: केन्द्र ने दी यह बड़ी राहत तो मुस्कुराए किसान, MSP पर चमकहीन गेहूं भी खरीद रही सरकार

Jaipur: केन्द्र ने दी यह बड़ी राहत तो मुस्कुराए किसान, MSP पर चमकहीन गेहूं भी खरीद रही सरकार

किसानों को खेती के साथ ही बैंकिंग सेवाओं की जानकारी उपलब्‍ध कराने के लिए एक नया ऐप लॉन्‍च किया गया है.

किसानों को खेती के साथ ही बैंकिंग सेवाओं की जानकारी उपलब्‍ध कराने के लिए एक नया ऐप लॉन्‍च किया गया है.

न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Price) पर अब सरकार की ओर से चमकहीन गेहूं की भी खरीद किए जाने से किसानों (Farmers) को बड़ी राहत मिली है.

जयपुर. न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Price) पर अब सरकार की ओर से चमकहीन गेहूं की भी खरीद किए जाने से किसानों (Farmers) को बड़ी राहत मिली है. इस बार बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि के चलते फसल की गुणवत्ता प्रभावित हुई थी. इससे जहां गेहूं की चमक कम हो गई थी वहीं क्षतिग्रस्त दानों की मात्रा भी बढ़ गई थी. खरीद केन्द्रों पर ऐसे गेहूं को अस्वीकार किया जा रहा था. लेकिन पिछले दिनों किसानों की मांग पर राज्य सरकार ने केन्द्र से खरीद के मानकों में शिथिलता देने का आग्रह किया था, जिसे स्वीकार कर लिया गया. इससे अब खरीद केन्द्रों पर चमकहीन गेहूं की खरीद भी की जा रही है. यह राहत किसानों के संजीवनी साबित हो रही है.

अब मिल रही इतनी कीमत
केंद्र सरकार की ओर से गेहूं का समर्थन मूल्य 1925 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है. एमएसपी पर खरीद के लिए जिंस की एक निश्चित गुणवत्ता भी निर्धारित की जाती है. उस पर खरा नहीं उतरने पर किसान से उपज नहीं खरीदी जाती है. लेकिन अब इन मानकों में शिथिलता दी गई है. अब गेहूं की चमक 10 प्रतिशत तक कम होने पर भी निर्धारित 1925 रुपये प्रति क्विंटल की दर से ही खरीद की जा रही है. वहीं गुणवत्ता में 10 से 30 फीसदी तक की कमी होने पर केवल 4 रुपये 81 पैसे प्रति क्विंटल राशि कम मिलेगी.

किसान महापंचायत ने कहा किसान हित में बड़ा फैसला है ये
मानकों पर खरा नहीं उतरने पर अब खरीद केंद्रों पर किसानों के गेहूं को अस्वीकार नहीं किया जाएगा और उन्हें निराश होकर वापस नहीं लौटना पड़ेगा. किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट ने इसे किसान हित में बड़ा फैसला बताते हुए केंद्र और राज्य सरकार का आभार जताया है. उन्होंने कहा कि कम दामों पर अपनी उपज बेचने के दर्द को केवल किसान ही समझ सकता है. सरकार के इस निर्णय से खास तौर से प्रदेश के कोटा, बूंदी, झालावाड़ और सवाईमाधोपुर के किसानों को बड़ा लाभ मिलेगा. पहले खरीद केन्द्रों पर आनाकानी के चलते किसानों को या तो गेहूं वापस अपने घर ले जाना पड़ रहा था या फिर उसे औने पौने दामों पर बेचना पड़ रहा था.

केन्द्र ने मानी राज्य सरकार की यह बड़ी मांग, रेडियो से पढ़ सकेंगे स्टूडेंट्स

जयपुर: Lockdown में फंसे श्रमिकों की घर वापसी का खर्च उठाएगी गहलोत सरकार

Tags: Farmer, Jaipur news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर