लाइव टीवी

दमकलकर्मी: जब खुद नहीं सुरक्षित तो दूसरों को कैसे रख पाएंगे सुरक्षित!

Deepak Vyas | News18 Rajasthan
Updated: January 13, 2020, 3:15 PM IST
दमकलकर्मी: जब खुद नहीं सुरक्षित तो दूसरों को कैसे रख पाएंगे सुरक्षित!
कई जरूरी संसाधन और उपकरण दमकलकर्मियों के पास नहीं हैं.

जयपुर में नगर निगम के अधीन अग्निशमन शाखा के कर्मचारी आग लगने की सूचना पर एक दमकल और उसमें रखी फोम, गम बूट, रस्सी और एक कटर लेकर ये कर्मचारी रवाना हो जाते हैं. जबकि, कई दूसरे जरूरी संसाधन और उपकरण इनके पास नहीं होते हैं.

  • Share this:
जयपुर. आगजनी की शिकायत पर देरी से पहुंचने के आरोप तो अक्सर जयपुर नगर निगम की अग्निशमन शाखा पर लगते हैं. लेकिन, क्या आप जानते हैं कि अग्निशमन शाखा के ये कर्मचारी संसाधनों के अभाव में अपनी जान जोखिम में डालकर आग को बुझाने पहुंचते हैं. संसाधनों की ये कमी इनकी जान पर कभी भारी भी पड़ सकती है. दरअसल, राजस्थान में अग्निशमन शाखा संबंधित निकायों के अधीन होती हैं. जयपुर में नगर निगम के अधीन ये अग्निशमन शाखा काम करती हैं. लेकिन, आपको जानकर हैरानी होगी कि इस शाखा को मजबूत बनाने की दिशा में राजधानी की शहरी सरकार कोई काम नहीं करती हैं. जब आग लगने की सूचना अग्निशमन केंद्र पर पहुंचती हैं तो एक दमकल और उसमें रखी फोम, गम बूट, रस्सी और एक कटर लेकर ये कर्मचारी रवाना हो जाते हैं. जबकि, कई दूसरे जरूरी संसाधन और उपकरण इनके पास तक नहीं होते हैं.

jaipur fire fighters
अग्निशमन शाखा के कर्मचारी आग लगने की सूचना पर जान हथेली पर लेकर निकल पड़ते हैं.


जानकारों की मानें तो इन चुनिंदा संसाधनों के अलावा बीए सैट, फायर सूट, ग्लब्स, डस्ट मास्क, हैलमेट मय आपातकाल लाईट, लॉक कटर, सेफ्टी बैल्ट समेत कई अन्य संसाधन भी इन अग्निशमन शाखा के कर्मचारियों के पास होने चाहिए. किसी बडी आगजनी होने पर शाखा के पास खुद की रेस्क्यू वैन तक नहीं है. यही नहीं दमकल में रखी सीढ़ियां तक खराब हालत में हैं जो कई बार खुलती तक नहीं हैं. वहीं, कई दमकल में लगे पाइप तक खराब हैं, जिनसे पानी लीक होता है.
पत्र लिखकर की गई हैं मांग

पानी और फोम के अलावा ज्यादा कुछ नहीं हैं. बेसमेंट में आग लग जाए तो रेस्क्यू के कोई उपकरण नहीं हैं. बीए सैट, हाईड्रोलिक कटर जैसे संसाधन होने चाहिए. लेकिन, उनमें से हमारे पास तो नाममात्र के संसाधन हैं. -
राजेन्द्र मीणा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष, फायर कर्मचारी एसोसिएशन, जयपुर नगर निगम

जयपुर नगर निगम में फायर कर्मचारी एसोसिएशन ने जरूरी संसाधन मुहैया कराने को लेकर कई बार निगम प्रशासन को पत्र भी लिखा है. लेकिन, अब तक कोई खास कार्रवाई नहीं हो पाई हैं. दिसम्बर माह में एक बार फिर पत्र लिखकर जरूरी संसाधन मुहैया कराने की मांग की गई है. पत्र में ये भी लिखा गया है कि जयपुर शहर में अग्निकांड की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं. अगर दिल्ली जैसा हादसा हो जाए तो घायल व्यक्तियों को बचाने के लिए जरूरी संसाधन तक उपलब्ध नहीं हैं.
कर्मचारियों की जरूरत के हिसाब से संसाधन हम समय-समय पर खरीदते रहते हैं. संसाधन पहले भी खरीदे गए हैं और अब भी खरीद रहे हैं.
- विजयपाल सिंह, प्रशासक एवं आयुक्त, हैरिटेज एवं ग्रेटर नगर निगम
ये भी पढ़ें- 

अजमेर दरगाह के दीवान बोले- POK पर तिरंगा लहरा दो, किस बात का इंतजार है

पंचायत चुनाव 2020: पंच-सरपंच चुनाव पर इन 32 अफसरों की निगाहें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 3:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर