अब राजस्थान के रण में कूदे कांग्रेस के पूर्व PCC अध्यक्ष, कहा- कार्यकर्ताओं को मिले सम्मान

राहुल गांधी के साथ नारायण सिंह (फाइल फोटो)

नारायण सिंह ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनाने में कार्यकर्ताओं और नेताओं ने खूब मेहनत की. इन लोगों ने अपना पसीना बहाया तब जाकर यहां कांग्रेस की सरकार (Congress Government) बनी. इसलिए जरुरत इस बात की है कि प्रदेश स्तर पर और जिला स्तर पर कांग्रेसजनों और कार्यकर्ताओं को सत्ता में भागीदारी दी जाए

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के सियासी रण में दिग्गजों की एंट्री जारी है. अब कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और वरिष्ठ नेता नारायण सिंह (Narayan Singh) ने एक प्रेस बयान जारी कर कहा कि पार्टी में कार्यकर्ताओं और किसानों का सम्मान होना चाहिए. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाने में कार्यकर्ताओं और नेताओं ने खूब मेहनत की. इन लोगों ने अपना पसीना बहाया तब जाकर यहां कांग्रेस की सरकार (Congress Government) बनी. नारायण सिंह ने कहा जरुरत इस बात की है कि प्रदेश स्तर पर और जिला स्तर पर कांग्रेसजनों और कार्यकर्ताओं को सत्ता में भागीदारी दी जाए. उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए यह जरुरी है. इसलिए ऐसा किया जाना कांग्रेस नेतृत्व की नैतिक जिम्मेदारी है.

पूर्व पीसीसी चीफ नारायण सिंह ने कहा कि कांग्रेस आलाकमान को उन पुराने और निष्ठावान कांग्रेस नेताओं की सुनवाई करनी चाहिए जिन्होंने विपरीत परिस्थितियों में पार्टी का झंडा बुलंद रखा. राज्य किसान आयोग के भी पूर्व अध्यक्ष रहे नारायण सिंह ने कहा कि आज देश में जो हालात बने हैं और केंद्र सरकार का जो किसान विरोधी रवैया है उसका किसानों पर विपरीत प्रभाव पड़ा है. उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार को किसानों की हरसंभव मदद करने का काम करना चाहिए.

बता दें कि नारायण सिंह दांतारामगढ़ सीट से पांच बार कांग्रेस के विधायक रहे हैं. साथ ही वो राजस्थान सरकार में पूर्व मंत्री भी रहे हैं. वर्तमान में उनके बेटे वीरेन्द्र सिंह दांतारामगढ़ सीट से कांग्रेस के विधायक हैं. नारायण सिंह की प्रदेश कांग्रेस में कद्दावर नेता के रुप में पहचान है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.