लाइव टीवी

जयपुर: 8 रिटायर्ड IAS अधिकारियों को वेतन से ज्यादा राशि दी, सरकारी खजाने को लगा 40 लाख का झटका
Jaipur News in Hindi

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: February 4, 2020, 8:25 PM IST
जयपुर: 8 रिटायर्ड IAS अधिकारियों को वेतन से ज्यादा राशि दी, सरकारी खजाने को लगा 40 लाख का झटका
करीब 40 लाख के इस गड़बड़झाले का जब पता चला तो अधिकारियों से वसूली के लिए उन्हें नोटिस जारी किए गए हैं.

राज्य के कार्मिक विभाग (Personnel department) और वित्त विभाग (Finance department) की गलती से सरकारी खजाने (Government treasury) को 40 लाख रुपयों की चपत लग गई है. अब इस मामले को लेकर कार्मिक और वित्त विभाग के अधिकारी एक दूसरे पर दोषारोपण (Accusation) कर रहे हैं.

  • Share this:
जयपुर. राज्य के कार्मिक विभाग (Personnel department) और वित्त विभाग (Finance department) की गलती से सरकारी खजाने (Government treasury) को 40 लाख रुपयों की चपत लग गई है. अब इस मामले को लेकर कार्मिक और वित्त विभाग के अधिकारी एक दूसरे पर दोषारोपण (Accusation) कर रहे हैं. डीओपी और वित्त विभाग से यह बड़ी चूक 8 आईएएस अधिकारियों का गलत फिक्सेशन ( incorrect fixation) करने के कारण हुई है.

वसूली के लिए अधिकारियों को नोटिस जारी किए
अब गलती सामने आने पर इन रिटायर्ड आईएएस अधिकारियों से करीब 40 लाख की राशि की वसूली शुरू कर दी गई है. गलत फिक्सेशन के चलते इन 8 आईएएस अधिकारियों को नोटिस दिए गए हैं. रिटायरमेंट बाद अब वसूली में वित्त विभाग को भी परेशानी आ रही है. दरअसल सातवें वेतनमान के तहत अलग-अलग स्केल वाले इन 8 आईएएस अधिकारियों का गलत फिक्सेशन कर दिया गया था. इसके चलते उनके तय वेतन से ज्यादा राशि उनके खातों में जमा करा दी गई. करीब 40 लाख के इस गड़बड़झाले का जब पता चला तो अधिकारियों से वसूली के लिए उन्हें नोटिस जारी किए गए हैं. ये सभी अधिकारी वर्ष 2018 और 2019 में रिटायर हुए हैं.

ये आठ अधिकारी हैं सूची में शामिल

सूत्रों के अनुसार आईएएस निवेदिता मेहरू 31 जुलाई, अशफाक हुसैन 30 सितंबर और फूसाराम 31 दिसंबर 2018 को रिटायर हुए थे. वहीं नरेश कुमार शर्मा 31 मई, सूरजभान जैमन 31 मई, मातादीन शर्मा 30 सितंबर, जगरूप सिंह यादव 30 नवंबर और अनिल गुप्ता 31 दिसंबर 2019 को रिटायर हुए थे. कार्मिक विभाग ने इन अफसरों का फिक्सेशन गलत कर दिया था. मामला उजागर होने के बाद डीओपी व वित्त विभाग में अफरातफरी मची हुई है. अब यह मसला गले की हड्डी बना हुआ है. वहीं रिटायर्ड अधिकारियों के लिए भी बड़ी रकम का प्रबंध करना मुश्किल हो रहा है.

 

जयपुर: करोड़ों का कीटनाशक गटक चुकी 'टिड्डियां', फिर भी बरकरार है 'खौफ' 

ऑनलाइन सिस्टम ने किया कमाल: 8 लाख नए किसान ऋण योजना से जुड़े, अपात्र हुए बाहर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 8:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर