Home /News /rajasthan /

jaipur international airport schedule to be disturbed again in summer travelers should be cautious before traveling rjsr

गर्मियों में फिर गड़बड़ायेगा जयपुर एयरपोर्ट का शेड्यूल, यात्रा करने से पहले रहें सतर्क, जानें वजह

जयपुर एयरपोर्ट पर सबसे ज्यादा फ्लाइट दिल्ली से डायवर्ट होकर आती है.

जयपुर एयरपोर्ट पर सबसे ज्यादा फ्लाइट दिल्ली से डायवर्ट होकर आती है.

जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट अपडेट: गर्मियों के मौसम में जयपुर एयरपोर्ट (Jaipur International Airport) का शेड्यूल फिर से गड़बड़ा सकता है. गर्मियों में बार-बार खराब होने वाले मौसम की मार जयपुर एयरपोर्ट पर पड़ना तय है. इसकी वजह है दिल्ली, भोपाल और लखनऊ में खराब मौसम की वजह से वहां से फ्लाइ‌ट्स को जयपुर डाइवर्ट किया जाना. इसके चलते जयपुर एयरपोर्ट का शेड्यूल गड़बड़ायेगा. इससे यात्रियों की परेशानी बढ़ना भी लगभग तय है. वजह जानने के लिये पढ़ें ये रिपोर्ट.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. तेज गर्मी और आंधियों का मौसम शुरू हो चुका है. इस मौसम की सबसे ज्यादा मार हर साल जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jaipur International Airport) पर पड़ती है. दिल्ली में खराब मौसम होने और आंधियों की वजह से रोजाना 5 से 15 फ्लाइट्स डायवर्ट होकर जयपुर पहुंचती है. डायवर्जन की वजह से जयपुर एयरपोर्ट का अपना शिड्यूल बिगड़ जाता है. इसकी वजह से हजारों यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है. इस बार फिर डायवर्जन शुरू हो चुका है. यह दिन प्रतिदिन बढ़ेगा लिहाजा यात्रियों की मुसीबत बढ़ना भी लगभग तय है.

जयपुर एयरपोर्ट से एक दिन में 57 शिड्यूल फ्लाइट्स का आवागमन होता है. दोपहर में 2 से ढाई घंटे का नोटम रहता है. यह साल के 12 महीने रहता है. नोटम के दौरान कोई भी फ्लाइट टेकऑफ या लैंड नहीं कर सकती. जयपुर एयरपोर्ट पर सिर्फ एक ही रन-वे है जिस पर सभी फ्लाइट्स का ऑपरेशन होता है. अब गर्मियों के मौसम में जयपुर एयरपोर्ट पर अचानक से दूसरे एयरपोर्ट से डायवर्ट होकर आने वाली फ्लाइट्स का दबाव बढ़ जाता है. इसकी वजह जयपुर एयरपोर्ट का अपना फ्लाइट् शिड्यूल गड़बड़ा जाता है.

सबसे ज्यादा फ्लाइट दिल्ली से डायवर्ट होती है
जयपुर एयरपोर्ट पर सबसे ज्यादा फ्लाइट दिल्ली से डायवर्ट होती है. उसके बाद लखनऊ और भोपाल से भी फ्लाइट्स का डायवर्जन होता है. हालात को देखते हुये जयपुर एयरपोर्ट ने इस बार अलग से कुछ तैयारियां की हैं. इसके तहत 13 पार्किंग- वे बनाये गये हैं. वहीं टर्मिनल 2 की इमारत भी बनकर तैयार है. उड़ान और टेकऑफ के बीच गेप किया जाएगा. नोटम का समय कम करने पर भी विचार किया जा रहा है.

दो दिन पहले ही 10 फ्लाइट्स डायवर्ट होकर जयपुर पहुंची थी
जयपुर एयरपोर्ट फिलहाल निजी हाथों में हैं. एयरपोर्ट के अधिकारी बताते हैं इस बार डायवर्जन को लेकर पूरी तैयारियां कर ली गई है. दो दिन पहले ही लगभग 10 फ्लाइट्स डायवर्ट होकर जयपुर पहुंची थी. उन्हें जयपुर एयरपोर्ट ने अच्छे से हैंडल कर लिया था. लेकिन सवाल ये है कि तैयारियां कितनी भी ज्यादा हो लेकिन एक ही रन-वे होने के कारण सभी फ्लाइट्स को हैंडल कर पाना लगभग नामुमकिन है. इससे यात्रियों की समस्या फिर से बढ़ेंगी.

दूसरा रन-वे बनाने की दूर दूर तक कोई योजना नहीं है
दिल्ली में तेज बारिश और धूल भरी आंधी के कारण कई बार तो 20 से 25 फ्लाइट्स एक दिन में डायवर्ट होकर जयपुर पहुंचती हैं. पहले स्थिति ये भी हुई है कि ATC को आधे विमानों को हवा में ही रखना पड़ा क्योंकि रन-वे खाली ही नहीं हो रहा था. इसलिए जयपुर में जब तक रन-वे डबल नहीं किया जाएगा तब तक डायवर्जन की समस्या के चलते यहां के यात्री परेशान होते रहेंगे. जयपुर एयरपोर्ट पर फिलहाल दूसरा रन-वे बनाने की दूर दूर तक कोई योजना नहीं है और बारिश का मौसम आने वाला है। ऐसे में जयपुर से हवाई यात्रा करने वाले यात्रियों को परेशानियों को सामना करने के लिये तैयार रहना चाहिये.

Tags: Jaipur Airport, Jaipur news, Rajasthan latest news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर