लाइव टीवी

JLF: वी आर द चैम्पियन्स- बिना संसाधनों के भी प्रतिभा को मुकाम पर पहुंचाया जा सकता है

Asif Khan | News18 Rajasthan
Updated: January 26, 2020, 6:39 PM IST
JLF: वी आर द चैम्पियन्स- बिना संसाधनों के भी प्रतिभा को मुकाम पर पहुंचाया जा सकता है
वी आर द चैम्पियन्स सेशन में सांसद दिया कुमारी चार प्रतिभावान बच्चों के साथ पहुंची.

गुलाबीनगरी (Pink city) के डिग्गी पैलेस में चल रहे साहित्य के महाकुंभ जयुपर लिटरेचर फेस्टिवल (JLF) के चौथे दिन रविवार को जनसैलाब उमड़ा. साहित्य के इस महाकुंभ की सदाएं सात समंदर पार तक गूंज रही हैं.

  • Share this:
जयपुर. गुलाबीनगरी (Pink city) के डिग्गी पैलेस में चल रहे साहित्य के महाकुंभ जयुपर लिटरेचर फेस्टिवल (JLF) के चौथे दिन रविवार को जनसैलाब उमड़ा. साहित्य के इस महाकुंभ की सदाएं सात समंदर पार तक गूंज रही हैं. पूरे भारत (India) के अलग अलग हिस्सों से लेकर विदेशों (Foreign) तक के बुद्धिजीवी (Intellectual) यहां पढ़ने, सुनने, जानने और समझने के लिए इकठ्ठा हो रहे हैं. चौथे दिन विभिन्न मुद्दों पर आयोजित सेशन में खुलकर बातचीत हुई.

वी आर द चैम्पियन्स और द स्काईलाइन ऑफ द अरबन फ्यूचर
जेएलएफ में आज द स्काईलाइन ऑफ द अरबन फ्यूचर और वी आर द चैम्पियन्स सेशन भी हुआ. वी आर द चैम्पियन्स में सांसद दिया कुमारी ऐसे चार बच्चों के साथ पहुंची, जिन्होने अपनी प्रतिभा के दम पर देश में अपनी अलग जगह बनाई है. अब वो दूसरे बच्चों को प्रेरित कर रहे हैं. इन बच्चों का मानना है कि बिना संसाधनों के भी प्रतिभा को मुकाम पर पहुंचाया जा सकता है.

सबसे ज्यादा नौजवान प्रतिभाओं वाला देश है भारत

जेएलएफ में रविवार को 131 नंबर के सेशन में अतुलनीय भारत पर चर्चा हुई. अमिताभ कांत और मोहित सत्यानंद ने अपनी चर्चा के दौरान भारत से जुड़े उन तमाम बड़े पहलुओं पर चर्चा की जो पूरी दुनिया में भारत को सबसे अलग करते हैं. वर्तमान में भारत पर पूरी दुनिया की निगाह टिकी है, क्योंकि भारत में ना केवल सबसे ज्यादा नौजवान प्रतिभाओं वाला देश है बल्कि पूरी दुनिया का सबसे बड़ा बाज़ार भी है.

विरोध करना राज्य का अधिकार
फेस्टिवल में सेशन से फ्री होकर कांग्रेस सांसद शशि थरूर प्रेस कांफ्रेंस के लिए मीडिया के बीच पहुंचे. शशि थरूर ने CAA,NRC पर खुलकर अपनी राय रखी. थरूर ने कहा कि राजस्थान विधानसभा में जो प्रस्ताव पारित किया गया है वो एक तरीका है. केन्द्र सरकार को ये बताने का कि हमारी जनता इस कानून के साथ नहीं है. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि ये केन्द्र का कानून है और राज्यों पर लागू होता है. लेकिन विरोध करना राज्य का अधिकार भी है. 

 

विदेशी मीडिया भी कवर कर रही है आयोजन को
रविवार को जेएलएफ में बच्चों, नौजवानों, बुजुर्गों और महिलाओं का तांता लगा रहा. लगभग सभी सेशन में खासी भीड़ नज़र आई. इस पूरे आयोजन को विदेशी मीडिया भी कवर कर रही है. यहां से निकली बातें और सोच दुनिया के अखबारों, मैग्जीन और टीवी की सुर्खिय़ां बन रही हैं.

 

JLF में लगे 'आज हमको चाहिए आजादी' के नारे, हड़कंप मचा, 5 युवक हिरासत में

पद्मश्री से सम्‍मानित होंगी कभी मैला ढोने वाली उषा, जानें उनकी दर्दभरी कहानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 6:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर