लाइव टीवी

जयपुर: अब अबू धाबी में फंसे राजस्थान के 6 युवक, सरकार से की मदद की गुहार
Jaipur News in Hindi

Asif Khan | News18 Rajasthan
Updated: January 19, 2020, 4:16 PM IST
जयपुर: अब अबू धाबी में फंसे राजस्थान के 6 युवक, सरकार से की मदद की गुहार
ये युवक राजस्थान के पाली, हनुमानगढ़, अजमेर और झुंझनूं जिले के रहने वाले हैं.

प्रदेश के विभिन्न जिलों के 6 युवक अबू धाबी (Abu Dhabi) में जाकर फंस गए हैं. अब वे सरकार से स्वदेश वापसी के लिए मदद की गुहार लगा रहे हैं. युवकों ने अपनी साथ हो रही बेदर्दी का वीडियो बनाकर यहां भेजा है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के शेखावाटी में फर्जी एंजेटों (Fake agents) का गोरखधंधा रुकने का नाम नहीं ले रहा है. ये एंजेट नौजवानों को अच्छे रोजगार का लालच देकर उनसे लाखों रुपए वसूल करके विदेश (Foreign) भेजते हैं. विदेश पहुंचने के बाद युवकों को पता चलता है कि उनके साथ ठगी (Cheating) की गई है. ऐसा ही एक नया मामला सामने आया है जिसमें प्रदेश के विभिन्न जिलों के 6 युवक अबू धाबी (Abu Dhabi) में जाकर फंस गए हैं. अब वे सरकार से स्वदेश वापसी के लिए मदद की गुहार लगा रहे हैं. युवकों ने अपनी साथ हो रही बेदर्दी का वीडियो बनाकर यहां भेजा है.

पाली, हनुमानगढ़, अजमेर और झुंझनूं जिले के रहने वाले हैं युवक
ये युवक राजस्थान के पाली, हनुमानगढ़, अजमेर और झुंझनूं जिले के रहने वाले हैं. मिश्राराम, हसन, हाकम, मस्तान, मुश्ताक और लियाकत ने अपनी आपबीती का वीडियो बनाकर भेजा है. इन युवकों का आरोप है कि फतेहपुर शेखावाटी में रहने वाले भगवान नाम के एजेंट ने उनके साथ धोखाधड़ी की है. युवकों का कहना है कि भगवान ने उनसे लाखों रुपए लेकर उन्हें अबू धाबी में अच्छे रोजगार का झांसा दिया था. जब वे लोग आबूधाबी पहुंचे तो उन्हें अहसास हुआ कि ना तो कोई रोज़गार है और ना कोई सेलरी. जिस ठेकेदार के पास उन्हें भेजा गया उसने ना तो कोई काम दिया और मारपीट की वो अलग.

ऑफिस में इनका इंटरव्यू लेने के लिए जगह दी थी

इस संबंध एजेंट भगवान से बातचीत की गई तो उसने कहा कि वो सीधे तौर पर इसके लिए जिम्मेदार नहीं है. ये लोग किसी दूसरे एजेंट के जरिए विदेश गए हैं. एजेंट भगवान ने कहा कि उसने तो बस अपनी ऑफिस में इनका इंटरव्यू लेने के लिए जगह दी थी. इसके साथ ही भगवान ने कहा कि वो जल्द ही इनको वापस बुलाने का इंतजाम कर रहा है.

पहले भी सैंकड़ों ऐसे मामले सामने आ चुके हैं
ये मामला दरअसल किसी एक एंजेट का नहीं है, बल्कि शेखावटी में कुकुरमुत्ते की तरह गली गली में विदेश भेजने वाले एंजेटों की दुकाने खुली हुई हैं. कम पढ़े लिखे लोगों को अच्छी नौकरी का लालच देकर ये उन्हें विदेश भेजते हैं. इससे पहले भी सैंकड़ों ऐसे मामले सामने आ चुके हैं. 

 

एक दिन पहले ही रोमानिया से लाए गए हैं तीन युवक वापस
उल्लेखनीय है कि रोमानिया के शरणार्थी कैम्पों में फंसे चूरू के तीन युवकों को सरकार के काफी प्रयासों के बाद शनिवार को एक दिन पहले ही सकुशल स्वदेश वापस लाया गया है. सुजानगढ़ के इन युवकों को कस्बे के एजेंट विनोद ने जर्मनी में नौकरी का झांसा देकर भेजा था. यहां से रवाना होने के बाद ये युवक जर्मनी की बजाय, अजरबेजान, सर्बिया और हंगरी होते हुए रोमनिया पहुंच गए थे. वहां वे काफी समय से शरणार्थी कैम्प में रह रहे थे.

 

रोमानिया में फंसे राजस्थान के 3 युवकों की PM मोदी से अपील- हमें भारत वापस लाएं 

चूरू: रोमानिया में शरणार्थी कैम्प में फंसे तीनों युवकों की हुई स्वदेश वापसी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 19, 2020, 4:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर