लाइव टीवी

जयपुर: 25 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की लंबित भर्ती को मिल सकती है हरी झंडी

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: February 6, 2020, 9:06 PM IST
जयपुर: 25 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की लंबित भर्ती को मिल सकती है हरी झंडी
लंबित भर्तियों के मामले के लिए ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला की अध्यक्षता में गठित कैबिनेट सब कमेटी ने गुरुवार को अपना काम पूरा कर लिया.

करीब 25 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों (Third grade teachers) की लंबित चल रही भर्ती के मामले में गहलोत सरकार (Gehlot Government) अभ्यर्थियों को बड़ी राहत (Relief) प्रदान कर सकती है. इसके अलावा नर्सिंग भर्ती (Nursing recruitment) के तहत एएनएम के 6,719 पद और नर्स ग्रेड द्वितीय के 4,514 पद भी सृजित (Created) किए जा सकते हैं.

  • Share this:
जयपुर. करीब 25 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों (Third grade teachers) की लंबित चल रही भर्ती के मामले में गहलोत सरकार (Gehlot Government) अभ्यर्थियों को बड़ी राहत (Relief) प्रदान कर सकती है. इसके अलावा नर्सिंग भर्ती (Nursing recruitment) के तहत एएनएम के 6,719 पद और नर्स ग्रेड द्वितीय के 4,514 पद भी सृजित (Created) किए जा सकते हैं. कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के दौरान अपने चुनावी घोषणा-पत्र में इन पदों को सृजित कर नौकरी देने का वादा किया था.

कैबिनेट सब कमेटी ने तैयार की रिपोर्ट
लंबित भर्तियों के मामले के लिए ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला की अध्यक्षता में गठित कैबिनेट सब कमेटी ने गुरुवार को अपना काम पूरा कर लिया. अब कमेटी अपनी रिपोर्ट कैबिनेट में रखेगी. कैबिनेट की हरी झंडी मिलने के बाद थर्ड ग्रेड शिक्षक और नर्सिंगकर्मियों की भर्ती के अभ्यर्थियों को राहत मिल सकती है. गुरुवार को कैबिनेट सब कमेटी की सचिवालय में बैठक हुई. इसमें कमेटी ने अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली. कमेटी की इस रिपोर्ट पर पहले मुख्यमंत्री विचार करेंगे और फिर कैबिनेट में रखकर उस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा.

कांग्रेस ने नए पद सृजित करने का किया था वादा

दरअसल वर्ष 2013 में बीजेपी सरकार ने चिकित्सा विभाग में एएनएम के 6,719 और नर्स ग्रेड द्वितीय के 4,514 पदों के लिए भर्तियां निकाली थी. इसी वर्ष 25 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती भी निकाली गई. लेकिन बाद में इनके पदों में कटौती कर दी गई. फिर यह मामला लटक गया था और ये भर्तियां सिरे नहीं चढ़ पाई. विधानसभा चुनावों कांग्रेस ने इन पदों को फिर सृजित करके भर्ती करने की घोषणा की थी. गहलोत सरकार बनने के बाद इसके लिए प्रतिनिधिमंडलों ने सरकार को ज्ञापन भी दिए थे. तब सीएम ने ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला की अध्यक्षता में इस मसले को सुलझाने के लिए कैबनेट सब कमेटी का गठन किया था. इसके साथ ही 2018 में तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती लेवल-2 का भी मामला पेंडिंग था.

वास्तविक स्थिति देखकर और रिक्त पदों को शामिल किया जाएगा
गुरुवार को बैठक बाद ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि तृतीय श्रेणी शिक्षकों की करीब 25 हजार भर्ती पेंडिंग मानी जा रही हैं. हालांकि जब भर्तियां होंगी तब की वास्तविक स्थिति देखकर और रिक्त पदों को शामिल कर लिया जाएगा. 

जयपुर: उपभोक्ताओं को बिजली का झटका, 10-11 % बढ़ाई दरें, 1 फरवरी से हुईं लागू

 

'भिखारी' मुक्त होगी पिंकसिटी, भिखारियों को फ्रेंडली डिटेंशन सेंटर्स भेजा जाएगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 9:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर