अशोक गहलोत ने बनाई पायलट को घेरने की रणनीति! अब क्या करेंगे सचिन?

राजस्थान में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच अघोषित युद्ध में बीएसपी से कांग्रेस में आए छह विधायकों ने गहलोत सरकार का साथ दिया है (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

तेरह निर्दलीय विधायकों और डेढ़ वर्ष पूर्व बीएसपी से कांग्रेस में आए छह विधायकों ने बुधवार 23 जून को जयपुर में एक बैठक बुलाई है जिसमें वो अपनी आगे की रणनीति तय करेंगे. यह बैठक जयपुर (Jaipur) के एक होटल में शाम पांच बजे होनी है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के सियासी दंगल में अशोक गहलोत और सचिन पायलट (Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot) के बीच जारी घमासान तेज हो गई है. गहलोत समर्थक (Gehlot Camp) विधायकों का गुट जी19 जहां बुधवार को गहलोत के समर्थन में जयपुर (Jaipur) में बैठक करने वाला है. वहीं, पायलट समर्थकों (Pilot Camp) ने मंगलवार को ट्विटर पर मोर्चा खोल दिया है. वो ट्विटर पर 'सचिन पायलट आ रहा है' हैशटेग ट्रेंड करा रहे हैं. पायलट समर्थक विधायक मुरारी लाल मीणा और पायलट गुट के कई विधायक व नेता सोशल मीडिया पर इस मुहिम में कूद पड़े हैं. इस क्रम में विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने अपने घर के बाहर सचिन पायलट के संघर्ष के बैनर लगाया है. इस बैनर में पायलट के अलावा गाांधी परिवार नजर आ रहा है लेकिन दूसरे कांग्रेस के नेता नहीं.

वहीं, निर्दलीय विधायकों और बीएसपी से कांग्रेस में आए विधायकों ने बुधवार 23 जून को जयपुर में एक बैठक बुलाई है जिसमें वो अपनी आगे की रणनीति तय करेंगे. यह बैठक जयपुर के एक होटल में शाम पांच बजे होनी है. नए बने इस ग्रुप में विधायकों की संख्या 19 है जिसमें 13 निर्दलीय और बीएसपी से कांग्रेस से आए छह विधायक हैं.

माना जा रहा है कि विधायकों का यह ग्रुप दबाव बनाने के तहत कांग्रेस आलाकमान से गहलोत सरकार में अपनी भागीदारी की मांग कर सकते हैं. पिछले हफ्ते भी इन्होंने बैठक कर कहा था कि जुलाई 2020 में जब सचिन पायलट ने बगावत कर सरकार को संकट में डाला था तब इन्होंने ही अशोक गहलोत की सरकार बचाई थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.