लाइव टीवी

जयपुर: रद्द हो सकते हैं RTDC के विवादित टेंडर ! CMO ने लिया पूरे विवाद पर संज्ञान
Jaipur News in Hindi

News18 Rajasthan
Updated: January 17, 2020, 8:17 PM IST
जयपुर: रद्द हो सकते हैं RTDC के विवादित टेंडर ! CMO ने लिया पूरे विवाद पर संज्ञान
पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि टेंडरों में गड़बड़ी है. 45 करोड़ की सिंगल बिड का क्या औचित्य है ?

आरटीडीसी (RTDC) के टेंडरों को लेकर पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह (Tourism Minister Vishvendra Singh) के सवाल उठाने के बाद अब विवादित टेंडर (Disputed tender) रद्द हो सकते हैं. सीएमओ (CMO) ने इस पूरे मामले में संज्ञान (Cognizance) लिया है.

  • Share this:
जयपुर. आरटीडीसी (RTDC) के टेंडरों को लेकर पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह (Tourism Minister Vishvendra Singh) के सवाल उठाने के बाद अब विवादित टेंडर (Disputed tender) रद्द हो सकते हैं. सीएमओ (CMO) ने इस पूरे मामले में संज्ञान (Cognizance) लिया है. विश्वेंद्र सिंह ने पूरे मामले में सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को भी अवगत करवाया था. वहीं विश्वेंद्र सिंह ने एक बार फिर आरटीडीसी अधिकारियों पर निशाना साधा (Targeted) है.

मंत्री बोले 45 करोड़ की सिंगल बिड का क्या औचित्य है ?
पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि टेंडरों में गड़बड़ी है. 45 करोड़ की सिंगल बिड का क्या औचित्य है ? एक ही कंपनी को टेंडर क्यों दिया जा रहा है ? जो अनियमितता होगी उसे उजागर करुंगा. पर्यटन मंत्री सिंह ने कहा कि यह नाराजगी नहीं है. मेरे विभाग में गलत काम नहीं होने दूंगा. अफसरशाही को हावी नहीं होने दूंगा.

45 करोड़ के टेंडर को लेकर मचा है बवाल

उल्लेखनीय है कि आरटीडीसी में लाइट एंड साउंड शो के 45 करोड़ के टेंडर को लेकर पिछले कई दिनों से बवाल मचा हुआ है. इस टेंडर को लेकर पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह काफी खफा हैं. इस पूरे मामले में सिंह ने अधिकारियों के रवैये पर कड़ा एतराज जताया है. सिंह का कहना है कि वे अधिकारियों की मनमर्जी नहीं चलने देंगे. यह मामला ज्यादा विवादित होने के बाद सिंह ने पिछले दिनों ऐलान कर दिया था कि वे तब तक पर्यटन भवन नहीं जाएंगे, जब तक मामले को लेकर यह तय नहीं हो जाता कि प्रदेश में पर्यटन का बॉस कौन है ?

विधानसभा में जवाब देना हो तो उन्हें खड़ा होना पड़ता है
पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह पिछले दिनों कहा था कि लाइंट एंड साउंड शो के टेंडर में ऐसी शर्तें डिजाइन की गईं है कि उससे एक ही कंपनी को उसका लाभ मिल सके. सिंह ने कहा था कि मेरा जमीर ये इजाजत नहीं देता कि मैं सबकुछ शांति से देखता रहूं. बाद में सिंह ने कहा कि उन्होंने पूरी बात सीएम के सामने रख दी है. सिंह का कहना था कि जब विधानसभा में जवाब देना हो तो उन्हें खड़ा होना पड़ता है. 

कांस्टेबल भर्ती परीक्षा: सीएम ने अभ्यर्थियों को दी आयु सीमा में एक वर्ष की छूट

सांसद हनुमान बेनीवाल पर हमले की पायलट ने की निंदा, कहा- यह चिंता का विषय

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 17, 2020, 8:14 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर