Jaipur: शेखावाटी के जस्टिस मोहम्मद रफीक ने ओडिशा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ ली

जस्टिस मोहम्मद रफीक राजस्थान के शेखावाटी के चूरू जिले के सुजानगढ़ कस्बे के रहने वाले हैं.
जस्टिस मोहम्मद रफीक राजस्थान के शेखावाटी के चूरू जिले के सुजानगढ़ कस्बे के रहने वाले हैं.

राजस्थान मूल के जस्टिस मोहम्मद रफीक (Justice Mohammad Rafiq) ने सोमवार को ओडिशा हाईकोर्ट (Odisha High Court) के 31वें मुख्य न्यायाधीश (Chief Justice) की शपथ ली.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान मूल के जस्टिस मोहम्मद रफीक (Justice Mohammad Rafiq) ने सोमवार को ओडिशा हाईकोर्ट (Odisha High Court) के 31वें मुख्य न्यायाधीश (Chief Justice) की शपथ ली. ओडिशा के राज्यपाल प्रोफेसर गणेशीलाल ने जस्टिस मोहम्मद रफीक को भुवनेश्वर में पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. शपथ के दौरान कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया. जस्टिस मोहम्मद रफीक राजस्थान हाईकोर्ट से ओडिशा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बनने वाले दूसरे न्यायाधीश हैं. उनसे पहले जस्टिस के एस झवेरी भी ओडिशा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रहे हैं.

शेखावाटी के चूरू जिले के रहने वाले हैं जस्टिस रफीक
जस्टिस मोहम्मद रफीक राजस्थान के शेखावाटी के चूरू जिले के सुजानगढ़ कस्बे के रहने वाले हैं. 25 मई, 1960 को जन्मे मोहम्मद रफीक ने वकालत की डिग्री लेने के बाद 1984 में राजस्थान हाईकोर्ट में प्रेक्टिस शुरू की थी. प्रेक्टिस के समय जस्टिस मोहम्मद रफीक राजस्थान हाईकोर्ट के अकेले ऐसे अधिवक्ता थे जो कांग्रेस और बीजेपी दोनों के शासनकाल में अतिरिक्त महाधिवक्ता रहे.

मेघालय हाई कोर्ट से तबादला हुआ है जस्टिस रफीक का
उसके बाद 15 मई 2006 को वे राजस्थान हाईकोर्ट में जज नियुक्त हुए. यहां वे दो बार अलग अलग समय कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश भी रहे. गत वर्ष 13 नवंबर को जस्टिस मोहम्मद रफीक को मेघालय हाईकोर्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाया गया. वहां से 4 माह बाद ही सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने जस्टिस मोहम्मद रफीक को अहम जिम्मेदारी देते हुए ओडिशा हाईकोर्ट में तबादले की सिफारिश की थी. जस्टिस मोहम्मद रफीक राजस्थान के मुस्लिम समुदाय से एडवोकेट कोटे से जस्टिस और फिर चीफ जस्टिस बनने वाले पहले व्यक्ति हैं.



जस्टिस मोहम्मद रफीक का अधिवक्ता से मुख्य न्यायाधीश तक का यूं रहा है सफर
- 08 जुलाई, 1984 को प्रेक्टिस के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया.
- 07 जनवरी, 1999 को राज्य सरकार में अतिरिक्त महाअधिवक्ता बने.
- मोहम्मद रफीक हाईकोर्ट जज बनने तक वे इस पद पर बने रहे.
- 15 मई 2006 को राजस्थान हाई कोर्ट में बतौर जज नियुक्त हुए.
- 14 मई 2008 को राजस्थान हाईकोर्ट के स्थायी जज बने.
- 03 अप्रैल 2019 को हाईकोर्ट में कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश बने.
- 23 सितम्बर 2019 को दूसरी बार हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश बने.
- 13 नवंबर, 2019 को जस्टिस मोहम्मद रफीक को मेघालय हाईकेार्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाया गया.
- उसके बाद से हाल ही में उनका ओडिशा हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस पद पर तबादला हुआ है.

COVID-19: राजस्थान में फिर 3 दर्जन नए पॉजिटिव केस आए, अब तक 44 लोगों की मौत

Lockdown: पायलट ने कहा- मनरेगा श्रमिकों को मिले 100 की बजाय 200 दिन का रोजगार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज