लाइव टीवी

जयपुर: टिड्डी प्रभावित किसानों के जख्मों पर सरकारी मलहम, 3 दिन में मुआवजा देने के निर्देश
Jaipur News in Hindi

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: January 12, 2020, 10:05 AM IST
जयपुर: टिड्डी प्रभावित किसानों के जख्मों पर सरकारी मलहम, 3 दिन में मुआवजा देने के निर्देश
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को सीएमओ में टिड्डी प्रभावित पश्चिम जिलों के कलेक्टर्स के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की और उनसे पूरा फीडबैक लिया.

राज्य सरकार (State government) प्रदेश में टिड्डी टेरर (Locust terror) से प्रभावित इलाकों के किसानों (Farmers) को राहत (Relief) देने जा रही है. मुख्यमंत्री ने कलेक्टर्स को प्रभावित किसानों को तीन दिन में मुआवजा राशि वितरण (Amount distribution) करने के निर्देश दिए हैं.

  • Share this:
जयपुर. राज्य सरकार (State government) प्रदेश में टिड्डी टेरर (Locust terror) से प्रभावित इलाकों के किसानों (Farmers) को राहत (Relief) देने जा रही है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने टिड्डी टेरर से प्रभावित जोधपुर, जैसलमेर, बाड़मेर, सिरोही, पाली, श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ के जिला कलेक्टर्स को विशेष गिरदावरी की रिपोर्ट शीघ्र भिजवाने के निर्देश दिए हैं ताकि किसानों को जल्द से जल्द मुआवजा (Compensation) मिल सके. मुख्यमंत्री ने इन जिलों के जिला कलेक्टर्स को प्रभावित किसानों को तीन दिन में मुआवजा राशि वितरण (Amount distribution) करने के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार टिड्डी प्रभावित जिलों में किसानों को हुए नुकसान को लेकर गंभीर (Serious) है. सरकार किसानों को तत्काल राहत प्रदान करना चाहती है.

सीएम ने पश्चिमी राजस्थान के कलक्टर्स के साथ की वीडियो कॉन्फ्रेंस
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को सीएमओ में टिड्डी प्रभावित पश्चिम  राजस्थान के जिलों के कलेक्टर्स के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की और फीडबैक लिया. मुख्यमंत्री ने इन सभी कलेक्टर्स से टिड्डी नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रयासों, वर्तमान स्थिति, गिरदावरी रिपोर्ट और फसलों के खराबे के संबंध में विस्तृत जानकारी ली. मुख्यमंत्री ने गत दिनों जालोर, बाड़मेर और जैसलमेर जिलों का दौरा कर टिड्डी प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया था. साथ ही किसानों से मुलाकात कर उन्हें जल्द से जल्द सहायता देने का आश्वासन दिया था

सरकार कर रही है टिड्डी टेरर पर नियंत्रण का प्रयास

राज्य में अब तक 3 लाख 52 हजार हैक्टेयर से अधिक क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण किया गया है. प्रभावित जिलों में कलेक्टर्स को 450 ट्रैक्टर माउन्टेड स्प्रेयर किराए पर लेने और 10 हजार लीटर कीटनाशी रसायन का उपयोग करने की स्वीकृति प्रदान की गई है.

 
टिड्डियों ने कई जिलों में जमकर मचाया है आतंकउल्लेखनीय है कि इस बार टिड्डियों ने पश्चिमी राजस्थान के कई जिलों में जमकर आतंक मचाया है. पाकिस्तान से आए इन टिड्डी दलों ने हजारों बीघा में खड़ी किसानों की फसलों को चौपट कर दिया है. इससे इन क्षेत्रों के किसान बर्बाद हो गए हैं. सरकार लगातार टिड्डी टेरर पर नियंत्रण पाने का प्रयास कर रही है.

 

अजमेर डेयरी चेयरमैन रामचन्द्र चौधरी के खिलाफ छेड़छाड़ का एक और मामला दर्ज

रेप करने में नाकाम रहने पर लड़की को गला घोंटकर मार डाला, नाले में फेंका शव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 12, 2020, 9:50 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर