लाइव टीवी

जयपुर: PCC में बनी राहुल की रैली की रणनीति, गहलोत-पायलट ने दिए ये निर्देश
Jaipur News in Hindi

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: January 23, 2020, 9:10 PM IST
जयपुर: PCC में बनी राहुल की रैली की रणनीति, गहलोत-पायलट ने दिए ये निर्देश
बैठक में नेताओं को रैली के टास्क दे दिए गए हैं. जिस जिले से जितनी ज्यादा भीड़ जुटेगी उसी के हिसाब से नेताओं की परफॉर्मेंस भी तय होगी.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की 28 जनवरी को राजधानी जयपुर (Jaipur) में होने वाली युवा आक्रोश रैली (Rally) की तैयारियों के लिए पूरी कांग्रेस (Congress) जुट गई है. रैली की रणनीति को लेकर गुरुवार को जयपुर में पीसीसी (PCC) में बड़ी बैठक करके मंथन किया गया.

  • Share this:
जयपुर. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की 28 जनवरी को राजधानी जयपुर (Jaipur) में होने वाली युवा आक्रोश रैली (Rally) की तैयारियों के लिए पूरी कांग्रेस (Congress) जुट गई है. रैली की रणनीति को लेकर गुरुवार को जयपुर में पीसीसी (PCC) में बड़ी बैठक करके मंथन किया गया. राहुल की रैली में भीड़ जुटाने के लिए कांग्रेस ने पार्टी के जिलाध्यक्षों और विधायकों को जिम्मेदारी है. विधायक और जिलाध्यक्ष (MLA and District President) रैली में भीड़ जुटाने से लेकर उसे लाने और वापस ले जाने का पूरा मैनेजमेंट देखेंगे.

बसपा से कांग्रेस में आए सभी छह विधायक भी शामिल हुए
प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय में हुई बैठक में सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कांग्रेस नेताओं को रैली के लिए पूरी मेहनत करने और उसे ऐतिहासिक बनाने में जुटने को कहा. पिछले दिनों बसपा से कांग्रेस में आए सभी छह विधायक भी बैठक में शामिल हुए. राहुल की जयपुर रैली से पहले कांग्रेस एक बड़ा ग्राउंड तैयार कर रही है. शुक्रवार से विधानसभा-सत्र शुरू हो रहा है. शनिवार को सरकार विधानसभा में CAA के खिलाफ प्रस्ताव लाएगी. संख्या बल के आधार पर इसका सदन से पारित होना भी तय है. राहुल गांधी जयपुर में CAA, NRC, NPR के साथ बढ़ती बेरोजगारी और शिक्षण संस्थानों पर हो रहे हमले को लेकर केंद्र सरकार को घेरेंगे.

फ्रंट में रहेंगे यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई

राहुल गांधी की जयपुर रैली में इस बार फ्रंट में कांग्रेस के दो अग्रिम संगठनों यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई को रखा गया है. कांग्रेस सहयोगी की भूमिका में है फिर भी बड़ी भूमिका उसी की रहेगी. इसीलिए रैली की तैयारियों के लिए हर नेता को जिम्मेदारी दी जा रही है. गुरुवार को हुई बैठक में नेताओं को रैली के टास्क दे दिए गए हैं. जिस जिले से जितनी ज्यादा भीड़ जुटेगी उसी के हिसाब से नेताओं की परफॉर्मेंस भी तय होगी. मामला राहुल गांधी से जुड़ा है इसलिए कांग्रेस का हर नेता अब रैली में लोगों और खासकर युवाओं को लाने की तैयारियों में जुट गया है.

 

उदयपुर: देखिए कांग्रेस की हंसी और शरारत, तीन दिन से हो रही है जबर्दस्त चर्चा 

 

बूंदी: मनरेगा श्रमिक की पत्नी बनी सरपंच, मतदाताओं ने वोट के साथ दिए नोट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 9:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर