लाइव टीवी

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में लगे 'हमको चाहिए आजादी' के नारे, मचा हड़कंप, 5 युवक हिरासत में
Jaipur News in Hindi

Lovely Wadhwa | News18 Rajasthan
Updated: January 26, 2020, 5:56 PM IST
जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में लगे 'हमको चाहिए आजादी' के नारे, मचा हड़कंप, 5 युवक हिरासत में
डिग्गी पैलेस में चल रहे जेएलएफ में यह वाकया दोपहर में फ्रंट लॉन के बाहर हुआ.

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल (JLF) में रविवार को 'इंकलाब जिंदाबाद' और 'हमको चाहिए आजादी' के नारे (Slogans) लगाए जाने की खबर सामने आई है. अचानक हुए इस घटनाक्रम से जेएलएफ में हड़कंप मच गया.

  • Share this:
जयपुर. पिंकसिटी जयपुर में चल रहे साहित्य के महाकुंभ जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल (JLF) में रविवार को 'इंकलाब जिंदाबाद' और 'आज हमको चाहिए आजादी' के नारे (Slogans) लगे. अचानक हुए इस घटनाक्रम से जेएलएफ में हड़कंप मच गया. घटना के बाद जेएलएफ की सुरक्षा में लगी सुरक्षा एजेंसियों और पुलिस के जवान तत्काल वहां पहुंचे और नारे लगाने वाले युवकों को पकड़ा (Caught). इस दौरा कुछ युवक फरार हो गए. पुलिस 5 युवकों को हिरासत (Custody) में लेकर अशोक नगर थाने ले गई. वहां उनसे पूछताछ की जा रही है. हिरासत में लिए गए युवक दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) के छात्र बताए जा रहे हैं.

दोपहर में फ्रंट लॉन के बाहर हुआ वाकया
जानकारी के अनुसार, डिग्गी पैलेस में चल रहे जेएलएफ में यह वाकया दोपहर में फ्रंट लॉन के बाहर हुआ. वहां अचानक करीब आधा दर्जन से ज्यादा युवक आए और 'इंकलाब जिंदाबाद' व 'आज हमको चाहिए आजादी' के नारे लगाने लगे. हंगामे के दौरान युवको ने सीएए और एनआरसी के विरोध में भी नारे लगाए. इससे वहां एक बारगी हड़कंप मच गया. युवकों को नारेबाजी करते देखकर सुरक्षा गार्ड और पुलिसकर्मी दौड़कर वहां गए और उनको पकड़ लिया. जिस समय युवक नारे लगा रहे थे, उससे वहां सेशन में आए श्रोता नाराज हो गए और वे छात्रों को पीटने दौड़े. इस दौरान अगर पुलिस मौके पर नहीं पहुंचती तो शायद युवकों की जनता पिटाई कर देती. पकड़े गए युवक खुद को जेएनयू से जुड़ा हुआ बता रहे हैं.

5-5 युवक 4 ग्रुप में आए थे युवक

डीसीपी साउथ योगेश दधीच ने बताया कि 5-5 युवक 4 ग्रुप में आए थे. एक ग्रुप के पकड़ में आने के बाद 3 अन्य ग्रुप भाग छूटे. अशोक नगर थानाधिकारी मोहन मीणा ने बताया कि युवकों से पूछताछ की जा रही है. यह पता लगाया जा रहा है कि ये युवक क्यों और किस मकसद से जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में नारेबाजी करने आए थे. इनके पीछे कौन है.

जेएलएफ का है जबर्दस्त क्रेज
उल्लेखनीय है कि जयपुर में प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल का साहित्य से जुड़े लोगों में जबरदस्त क्रेज है. फेस्टिवल में शिरकत करने के लिए बड़ी संख्या में देश और विदेश से प्रतिष्ठित और आम लोग आते हैं. पांच दिन तक चलने वाले इस फेस्टिवल का आज चौथा दिन है. फेस्टिवल का समापन सोमवार को होगा. फेस्टिवल में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध रहते हैं. इसके बावजूद इस तरह की घटना से आयोजक और वहां आए लोग सकते में हैं. 

पद्मश्री से सम्‍मानित होंगी कभी मैला ढोने वाली उषा, जानें उनकी दर्दभरी कहानी

हिम्मताराम की हिम्मत को मिली दाद, 'पीपल' के पेड़ से 'पद्मश्री' तक का सफर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 4:52 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर