• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Janmashtami Special: 400 साल पुराने इस जगत मंदिर में विराजते हैं मीराबाई के संग मुरली मनोहर

Janmashtami Special: 400 साल पुराने इस जगत मंदिर में विराजते हैं मीराबाई के संग मुरली मनोहर

यहां होती है कृष्ण और मीराबाई की पूजा

यहां होती है कृष्ण और मीराबाई की पूजा

Mirabai with ShriKrishna : जयपुर ही नहीं प्रदेश में भी इस मंदिर को लेकर कई किंवदंतियां हैं. इनके अनुसार यहां भगवान श्रीकृष्ण की जो मूर्ति स्थापित है, यह वही प्रतिमा है, जिसका चित्तौड़गढ़ में विवाह के बाद मीरा बाई अपनी आराधना और भक्ति गान किया करती थी. कई बार आक्रमणकारियों ने भगवान श्रीकृष्ण की इस प्रतिमा को नष्ट करने का प्रयास किया मगर सफल नहीं हो पाए.

  • Share this:

जयपुर. भगवान श्रीकृष्ण (Lord ShriKrishna) को आपने ज्यादातर मंदिरों में राधा के साथ देखा होगा. कहीं-कहीं वह अपनी पत्नी रुक्मणी के साथ भी नजर आ जाते हैं. कृष्ण जन्माष्टमी (Krishna Janmashtami) के मौके पर हम आपको ऐसे मंदिर (temple) के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां मुरली मनोहर, राधा (Radha) या रुक्मणी के साथ नहीं, बल्कि उनकी भक्ति और प्रेम में दीवानी हुई मीरा (Mirabai)  के साथ हैं.  जी हां, यह मंदिर जयपुर के आमेर में अवस्थित है. संभवत: यह देश का इकलौता मंदिर होगा, जहां कृष्ण मीरा के साथ हैं. आमेर में सागर रोड पर स्थित जगत शिरोमणि के नाम से प्रसिद्ध यह मंदिर लगभग 422 साल पुराना है.

जयपुर के महाराजा सवाई मानसिंह (प्रथम) की पत्नी रानी कनकावती ने अपने 14 साल के बेटे कुंवर जगत सिंह की याद में सन् 1599 में मंदिर का निर्माण शुरू करवाया था. करीब नौ साल चले निर्माण कार्य के बाद यह तीन मंजिला भव्य मंदिर वर्ष 1608 में बनकर तैयार हुआ. मंदिर का नाम जगत शिरोमणि मंदिर रखा गया. यहां भगवान विष्णु की मूर्ति की स्थापना की गई.

यहां होती है कृष्ण और मीराबाई की पूजा-अर्चना
श्रीकृष्ण की मूर्ति जगत शिरोमणि के मंदिर में बाद में लाई गई. यहां मीरा बाई की एक मूर्ति बनवाई गई. दोनों का विवाह करवाया गया. तब से मंदिर में श्री कृष्ण और मीरा बाई की पूजा अर्चना भी की जाती है. मंदिर में वर्षों पुरानी पालकी भी है. दुल्हन स्वरूप मीरा बाई की प्रतिमा को इस पालकी में बैठाकर मंदिर में विवाह के वक्त लाया गया था.

मंदिर दर्शन को आते हैं देश-विदेश के सैलानी
आज भी देश विदेश से आने वाले सैलानी इस मंदिर में दर्शन करने आते हैं. आज भी कई लोग इस तथ्य से अनजान हैं कि जयपुर में वो प्रतिमा है, जिसमें मीरा बाई विलीन हुई थीं. हालांकि इतिहासकारों की इस पर अलग-अलग राय है. जगत शिरोमणि का मंदिर बॉलीवुड की फिल्मों की शूटिंग के लिए भी खासी पहचान रखता है.

मंदिर में हैं संगमरमर के पत्थरों के तोरणद्वार
जगत मंदिर का गर्भग्रह जालीनुमा पिलरों वाले मंडप में बना हुआ है. यह मंदिर 17वीं शताब्दी के आरंभ के महामेरू प्रासाद (भवन) का उत्तम उदाहरण है. भगवान श्री कृष्ण की मूर्ति के सामने एक मंडप प्रासाद में उनके वाहन गरुड़ भगवान विराजमान हैंं. वहीं, सुंदर संगमरमर के पत्थरों से बने सुंदर तोरण द्वार हैं. यहां दोनों तरफ हाथियों की प्रतिमा है. मंदिर की दीवारों व छतों पर सुंदर भित्ति चित्र बने हुए हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज