अपना शहर चुनें

States

Jiapur News: झालाना सफारी में मोहक नजारा, लेपर्ड केसरी ने कछुए के साथ की जोर-आजमाइश

जयपुर के झालाना लेपर्ड सफारी में गुरुवार को अद्भुत नजारा दिखाई दिया. यहां पर एक वीडियो में लेपर्ड केसरी एक कछुए के साथ जोर आजमाइश करता दिखाई दे रहा है.
जयपुर के झालाना लेपर्ड सफारी में गुरुवार को अद्भुत नजारा दिखाई दिया. यहां पर एक वीडियो में लेपर्ड केसरी एक कछुए के साथ जोर आजमाइश करता दिखाई दे रहा है.

जयपुर के झालाना लेपर्ड सफारी में गुरुवार को अद्भुत नजारा दिखाई दिया. यहां पर एक वीडियो में लेपर्ड केसरी एक कछुए के साथ जोर आजमाइश करता दिखाई दे रहा है. लेपर्ड काफी देर तक कछुए के साथ अठखेलियां करता रहा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2021, 4:12 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजधानी जयपुर की झालाना लेपर्ड सफारी में गुरुवार को एक अनोखा नजारा देखने को मिला, जहां पर लेपर्ड केसरी एक कछुए के साथ खेलता नजर आ रहा है। स्टार टेरटोइस प्रजाति के इस कछुए के साथ साथ युवा लेपर्ड काफी देर तक जोर आजमाइश करता रहा. हालांकि कछुआ बाद में अपने सख्त खोल में छिप गया और लेपर्ड उसका कोई नुकसान नहीं कर पाया.

काफी देर कोशिश करने के बाद जब युवा लेपर्ड केसरी कछुए का कुछ नहीं कर पाया तो फिर उसके साथ अठखेलियां करने लगा. झालाना में मौजूद पर्यटक काफी देर तक इस रोचक नजारे को देखते रहे। वहां मौजूद स्टेट वाइल्ड लाइफ बोर्ड मेंबर धीरेंद्र गोधा ने इस पूरे नज़ारे को अपने कैमरे में कैद किया, उन्होंने इस खूबसूरत दृश्य का वीडियो भी बनाया.





धीरेंद्र गोधा ने बताया कि ये कछुए झालाना में नहीं पाए जाते हैं, इन्हें कुछ दिन पहले जयपुर के जू से झालाना लेपर्ड सफारी में लाकर छोड़ा गया था. तब से ये कैद में रहने वाले ये कछुए इस आज़ाद जंगल में रहते आ रहे हैं. वह खुद सरवाइव भी कर रहे हैं. और देखिए लेपर्ड जैसे जंगल के सबसे तेजतर्रार शिकारी से कछुए ने बड़ी आसानी से अपनी हिफाजत भी कर ली. उन्होंने ऐसा नजारा इससे पहले रणथम्भौर में देखा था, जब बाघिन T 17 एक बार मानसून के दौरान एक कछुए का शिकार करने की कोशिश कर रही थी.
रणथम्भौर और भरतपुर नेशनल पार्क में भी इस तरह के नजारे देखने को मिलते हैं. जहां पर पशु-पक्षियों के प्राकृतिक नजारे पर्यटकों का मन मोहते रहते हैं. पर्यटक इन नजारों के फोटो-वीडियो भी बनाते रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज