लाइव टीवी

जस्टिस इन्द्रजीत महान्ति ने बने राजस्थान के 37वें मुख्य न्यायाधीश, राज्यपाल ने दिलाई शपथ

Dinesh Sharma | News18 Rajasthan
Updated: October 6, 2019, 2:12 PM IST
जस्टिस इन्द्रजीत महान्ति ने बने राजस्थान के 37वें मुख्य न्यायाधीश, राज्यपाल ने दिलाई शपथ
जस्टिस इन्द्रजीत महान्ति मुंबई हाईकोर्ट में वरिष्ठ न्यायाधीश के तौर पर कार्यरत थे. उन्हें जस्टिस एस. रवीन्द्र भट्ट के स्थान पर राजस्थान हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस बनाया गया है.

जस्टिस इन्द्रजीत महान्ति (Justice Indrajit Mahanati) ने रविवार को राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan High Court) के 37वें मुख्य न्यायाधीश (Chief Justice) के तौर पर शपथ ली. जयपुर (Jaipur) में राजभवन (Raj Bhavan) में आयोजित समारोह में राज्यपाल कलराज मिश्र (Governor Kalraj Mishra) ने महान्ति को पद की शपथ (Oath) दिलवाई.

  • Share this:
जयपुर. जस्टिस इन्द्रजीत महान्ति (Justice Indrajit Mahanati) ने रविवार को राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan High Court) के 37वें मुख्य न्यायाधीश (Chief Justice) के तौर पर शपथ ली. जयपुर (Jaipur) में राजभवन (Raj Bhavan) में आयोजित समारोह में राज्यपाल कलराज मिश्र (Governor Kalraj Mishra) ने महान्ति को पद की शपथ (Oath) दिलवाई. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) समेत विभिन्न क्षेत्रों की हस्तियां इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुईं. इस मौके पर चीफ जस्टिस ने कहा कि बार और बैंच के सहयोग से गरीब से गरीब व्यक्ति को न्याय उपलब्ध करवाना उनकी प्राथमिकता (Priority) होगी.

मुंबई हाईकोर्ट में वरिष्ठ न्यायाधीश के तौर पर कार्यरत थे महान्ति
जस्टिस इन्द्रजीत महान्ति मुंबई हाईकोर्ट में वरिष्ठ न्यायाधीश के तौर पर कार्यरत थे. उन्हें जस्टिस एस. रवीन्द्र भट्ट के स्थान पर राजस्थान हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस बनाया गया है. जस्टिस एस. रवीन्द्र भट्ट को अब सुप्रीम कोर्ट में न्यायाधीश नियुक्त किया जा चुका है. राजभवन में आयोजित समारोह में मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने जस्टिस इन्द्रजीत महान्ति की चीफ जस्टिस पद पर नियुक्ति का राष्ट्रपति द्वारा भेजा गया वारंट पढ़ा. उसके बाद राज्यपाल ने उन्हें पद की शपथ ग्रहण करवाई.

न्याय प्रशासन में पारदर्शिता लाना भी प्राथमिकताओं में शुमार

मीडिया से बातचीत करते हुए महान्ति ने कहा कि भगवान ने लोगों की सेवा के लिए उनको राजस्थान भेजा है. वे लोगों की सेवा कर पाएं यह उनकी सबसे बड़ी कामयाबी होगी. उन्होंने कहा कि कोशिशों में किसी तरह की कमियां नहीं रहेगी और लोगों को राहत दिलाने के लिए रात-दिन एक करेंगे. इसके साथ ही न्याय प्रशासन में पारदर्शिता लाना भी प्राथमिकताओं में शुमार रहेगा. वहीं चीफ जस्टिस ने माना कि केवल पेंडेंसी ही नहीं, बल्कि और भी कई सारी चुनौतियां उनके सामने रहेंगी. मुख्य न्यायाधीश ने कहा है कि वे कार्य को बेहतर बनाने के लिये राज्यपाल और मुख्यमंत्री समेत अन्य महत्वपूर्ण लोगों से चर्चा करेंगे.

समारोह में सीएम गहलोत समेत कई हस्तियां रहीं मौजूद
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी के साथ ही राज्य सरकार के कई मंत्री, प्रशासन और पुलिस के अधिकारी तथा न्यायिक जगत की हस्तियां चीफ जस्टिस के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुईं.
Loading...

विजयदशमी पर कार्यभार ग्रहण करेंगे BJP प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया

आहत को राहत: सीएम अशोक गहलोत ने जारी की सिलिकोसिस नीति, ये होंगे प्रावधान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 6, 2019, 2:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...