Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Jaipur: पुलिस का बड़ा सर्च ऑपरेशन, 100 से अधिक फ्लैट्स को खंगाला, 20 से अधिक संदिग्ध लोग मिले

    कुछ समय पहले भी जयपुर पुलिस ने कई फ्लैट्स में सर्च ऑपरेशन चलाया था.
    कुछ समय पहले भी जयपुर पुलिस ने कई फ्लैट्स में सर्च ऑपरेशन चलाया था.

    जयपुर पुलिस (Jaipur Police) ने गुरुवार रात को राजधानी के कई थाना इलाकों में स्थित करीब 100 से अधिक फ्लैट्स की सघन तलाशी (Search operation ली. इनमें पुलिस को 20 से संदिग्ध लोग मिले हैं.

    • Share this:
    जयपुर. दीवाली से पहले राजधानी जयपुर में पुलिस (Police) ने गुरुवार रात को बड़ा सर्च ऑपरेशन (Search operation) चलाया. इस दौरान चार थानों की पुलिस ने 100 से अधिक फ्लैट्स (Flats) को चैक किया. इनमें पुलिस को 20 से अधिक संदिग्ध लोग मिले हैं. सर्च अभियान में पुलिस ने 50 से अधिक संदिग्ध वाहन भी जब्त किये हैं. पुलिस संदिग्धों से पूछताछ में जुटी हुई है.

    डीसीपी जयपुर ईस्ट डॉ. राहुल जैन के निर्देशन में गुरुवार रात को यह सर्च ऑपरेशन 4 घंटे तक चला. खोनागोरियां, मालवीय नगर, जवाहर सर्किल और बजाज नगर थाना पुलिस ने इस सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया. पुलिस की टीमों ने नवल गिरी, धवलगिरी और उदयगिरी अपार्टमेंट में 100 से अधिक फ्लैट्स को चैक किया. एसीपी महेंद्र शर्मा के नेतृत्व में आधी रात 3 बजे दबिशें देने का दौर शुरू किया गया. यह सुबह तक जारी रहा. पुलिस की इस कार्रवाई से इन अपार्टमेंट्स में हड़कंप मच गया. पुलिस ने इस दौरान बदमाश मनीष सैनी और रूपा मीणा के घर भी दबिश दी. पुलिस ने इन फ्लैट्स में रह रहे 20 से अधिक संदिग्ध को चिहिन्त किया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. सर्च ऑपरेशन में 50 से अधिक संदिग्ध वाहन भी जब्त किये गये हैं.

    Sikar: ईमानदारी अभी जिंदा है! टैक्सी चालक ने लौटाये महिला यात्री के 8 लाख के जेवर

    कुछ समय पहले भी पुलिस ने इस तरह का ऑपरेशन किया था


    उल्लेखनीय है कि कुछ समय पहले भी जयपुर पुलिस ने कई फ्लैट्स में सर्च ऑपरेशन चलाया था. उस समय अजमेर रोड स्थित एक रेजिडेंसी में रह रही हरियाणा की गैंग का खुलासा हुआ था. इस गैंग के खुलासे के बाद पुलिस ने अपने सर्च ऑपरेशन का दायरा और बढ़ाकर कई हाईराइज बिल्डिंगों की तलाश ली थी. पुलिस का कहना है कि हाईराइज बिल्डिंग कल्चर में किस फ्लैट में कौन रह रहा है इसका पड़ोसी को भी पता नहीं चल पाता है. ऐसे में कई बार अपराधी ऐसे स्थानों को अपना अड्डा बना लेते हैं.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज