कांग्रेस विधायकों की बाड़ाबंदी, CM अशोक गहलोत पहुंचे शिव विलास रिसोर्ट, कल होगी बैठक

विधायकों की शाम को 7 बजे बैठक होनी है.

विधायकों की शाम को 7 बजे बैठक होनी है.

राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha elections) को लेकर राजस्थान में मच रही उठापटक और कांग्रेस विधायकों (Congress MLAs) की बाड़ाबंदी के बीच पार्टी के दिग्गज नेता जयपुर पहुंच चुके हैं. जबकि राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने दावा किया कि राज्यसभा की दो सीटों पर उनकी पार्टी के उम्मीदवार जीतेंगे.

  • Share this:

जयपुर.  राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha elections) को लेकर राजस्थान में मच रही उठापटक और कांग्रेस विधायकों (Congress MLAs) की बाड़ाबंदी के बीच पार्टी के दिग्गज नेता जयपुर पहुंचे, लेकिन कांग्रेस-निर्दलीय विधायकों की बैठक अब कल यानी शुक्रवार को होगी. इस बात की जानकारी सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी ने दी जानकारी. जबकि केसी वेणुगोपाल के आने में देरी के चलते बैठक को टाला गया है. इसी बीच खबर आ रही है कि सीएम अशोक भी शिव विलास रिसोर्ट पहुंच गए हैं. जबकि डिप्टी सीएम सचिन पायलट और कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी शाम को शिव विलास रिसोर्ट पहुंचे थे. इस दौरान राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने दावा किया कि राज्यसभा की दो सीटों पर उनकी पार्टी के उम्मीदवार जीतेंगे.

इस वजह से टली बैठक

कांग्रेस-निर्दलीय विधायकों की बैठक अब कल यानी शुक्रवार को होगी. इस बात की जानकारी सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी ने दी जानकारी. जबकि केसी वेणुगोपाल के आने में देरी के चलते बैठक को टाला गया है. वह आज रात 9.30 से 10 के बीच शिव विलास पहुंचेंगे. जबकि वेणुगोपाल के साथ गुजरात प्रभारी राजीव सातव और सांसद माणिक टैगोर भी शिव विलास आ रहे हैं. यह दोनों नेता कल विधायक दल की बैठक में शामिल होंगे. आपको बता दें कि राज्यसभा चुनाव के लिए 2 पर्यवेक्षक (रणदीप सिंह सुरजेवाला और टीएस सिंहदेव) पहले से मौजूद हैं.

शिव विलास रिसोर्ट पहुंचे पायलट
जबकि डिप्टी सीएम सचिन पायलट शिव विलास रिसोर्ट पहुंच गए हैं. उनके साथ में 2 मंत्री और कई विधायक भी हैं. मंत्री विश्वेन्द्र सिंह, विधायक दानिश अबरार, मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास और विधायक रामनारायण मीणा पायलट के साथ शिव विलास पहुंचे हैं. इसके अलावा कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे भी पहुंच गए हैं, जो कि कांग्रेस और निर्दलीय विधायकों की बैठक में शामिल होंगे. पांडे ने कहा कि राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस दोनों सीटों पर जीतेगी. इन चुनावों में चौथे उम्मीदवार को उतारने की जरूरत ही क्या थी. बीजेपी लोकतंत्र की हत्या कर रही है. कई राज्यों में बीजेपी सरकारों को अस्थिर करने का प्रयास कर चुकी,लेकिन राजस्थान में सभी कांग्रेस विधायक एकजुट हैं. बीजेपी के मंसूबे यहां कामयाब नहीं होंगे, आज हम सब विधायकों से बैठकर चर्चा करेंगे.

कोई कितनी भी कोशिश कर ले हम उम्मीद से ज्यादा मत हासिल करेंगे

वहीं डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के पास पूर्ण बहुमत है. निर्दलीय साथी हमारा समर्थन कर रहे हैं. कोई कितनी भी कोशिश कर ले हम उम्मीद से ज्यादा मत हासिल करेंगे और हमारे साथी राज्यसभा जाएंगे. पायलट बोले कि जो संख्या बल हमारे पास है उससे हर कोई जानता है कि हमारे दोनों उम्मीदवारों की जीत होगी. बकौल पायलट कल हमने बैठक की थी. आज भी हम एक बैठक करेंगे. अध्यक्ष होने के नाते कह सकता हूं कि जब हम विपक्ष में थे तो उप चुनाव भी हमने जीते. कुछ लोग जानबूझकर माहौल खड़ा करना चाहते है कि यहां पर खींचतान है. कांग्रेस की स्थिति पहले से मजबूत है. 19 को जब मतगणना होगी तो उम्मीद से ज्यादा मत हमें मिलेंगे. जो घटनाक्रम अलग-अलग राज्यों में हो रहा है, उसका अनुभव हमारे पास है. राजस्थान के लोग बेहद निष्ठावान हैं.



रिसोर्ट में जुटने लगे कांग्रेस और निर्दलीय विधायक

कांग्रेस और इसके समर्थित निर्दलीय विधायकों की शाम को 7 बजे बैठक होनी है. विधायक दल की इस बैठक में राज्यसभा चुनाव की रणनीति तय होगी. बैठक में सीएम अशोक गहलोत, प्रभारी अविनाश पांडे, पर्यवेक्षक रणदीप सिंह सुरजेवाला और उम्मीदवार केसी वेणुगोपाल तथा नीरज डांगी मौजूद रहेंगे. इससे पहले सभी विधायकों को 5 बजे तक रिसोर्ट पहुंचने के लिए कहा गया है. विधायकों का रिसोर्ट पहुंचना शुरू हो गया है. उसके बाद अब 19 को राज्यसभा चुनाव की वोटिंग तक विधायक शिव विलास में ही रहेंगे.

रात को विधायकों को घर जाने की दी छूट

इससे पहले जयपुर में की गई कांग्रेस विधायकों की बाड़ाबंदी के बीच बुधवार देर रात अधिकतर को कुछ समय के लिए घर जाने की छूट दे दी गई. लेकिन सभी विधायकों को गुरुवार शाम पांच बजे से पहले रिसॉर्ट लौटने के लिए कहा गया है. शाम 5 बजे रिसॉर्ट में कांग्रेस और निर्दलीय विधायकों की बैठक बुलाई गई है.

बाड़ाबंदी में विधायकों ने की यह शिकायत

जानकारी के अनुसार गुरुवार शाम को बसों में भरकर एक रिसॉर्ट ले गए विधायकों ने शिकायत करते हुए कहा कि अचानक बाड़ाबंदी के कारण वे दवाएं, कपड़े और अन्य जरूरी सामान साथ नहीं ला सके हैं. वहीं कुछ विधायकों ने रिसॉर्ट में एसी काम नहीं करने और पर्याप्त स्टाफ नहीं होने की शिकायत भी की. देर रात मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उनको डिनर के बाद दवा और कपड़े लेकर आने के लिए घर जाने की छूट दे दी. इस पर अधिकतर विधायक अपने-अपने घर चले गए.

यह है उठापटक की प्रमुख वजह

गौरतलब है कि बीते दो दिनों से इस बात की चर्चा जोरों पर है कि राज्यसभा चुनाव में समर्थन के लिए बीजेपी निर्दलीय और कांग्रेस के कुछ विधायकों से संपर्क साधकर उन्हें ऑफर दे रही है. इसके बाद कांग्रेस सतर्क हो गई है. चर्चा की गंभीरता को देखते हुए सीएम अशोक गहलोत ने बुधवार शाम को कांग्रेस और समर्थन वाले सभी निर्दलीय विधायकों की बैठक बुलाई थी. पहले यह बैठक सीएम हाउस में रखी थी, लेकिन अचानक बैठक का स्थान बदलकर दिल्ली रोड स्थित एक रिसॉर्ट में कर दिया गया.

दिल्ली रोड स्थित रिसॉर्ट में की गई है बाड़ाबंदी

उसके बाद सभी विधायकों को बसों से दिल्ली रोड शिव विलास रिसॉर्ट में ले जाकर वहां बाड़ाबंदी कर दी गई. कांग्रेस के इस कदम से बीजेपी को उस पर हमला बोलने का मौका मिल गया. बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस को अपने विधायकों पर भी भरोसा नहीं है. इसीलिए कांग्रेस पार्टी में इस तरह की नौबत आई है.


Jaipur: सीएम अशोक गहलोत ने लगाए बीजेपी और केंद्र पर ये बड़े आरोप 

Jaipur: BJP प्रदेशाध्यक्ष पूनिया बोले-कांग्रेस को अपने MLAs पर भरोसा नहीं रहा

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज