लाइव टीवी

निकाय चुनाव: 19 अक्टूबर को निकाली जाएगी निकाय प्रमुख और मेयर की लॉटरी

Lovely Wadhwa | News18 Rajasthan
Updated: October 15, 2019, 1:14 PM IST
निकाय चुनाव: 19 अक्टूबर को निकाली जाएगी निकाय प्रमुख और मेयर की लॉटरी
निकाय प्रमुख का चुनाव सीधे जनता नहीं, बल्कि जनता द्वारा चुने गए पार्षद करेंगे. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

प्रदेश में स्थानीय निकाय चुनाव (Local body elections) की तैयारियां तेज हो गई हैं. चार दिन बाद 19 अक्टूबर को निकाय प्रमुख और मेयर (Head of the local body and mayor) की आरक्षण लॉटरी (Reservation lottery) निकाली जाएगी. प्रदेश के 52 निकायों के लिए यह लॉटरी निकाली जाएगी.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश में स्थानीय निकाय चुनाव (Local body elections) की तैयारियां तेज हो गई हैं. चार दिन बाद 19 अक्टूबर को निकाय प्रमुख और मेयर (Head of the local body and mayor) की आरक्षण लॉटरी (Reservation lottery) निकाली जाएगी. प्रदेश के 52 निकायों के लिए यह लॉटरी निकाली जाएगी. लॉटरी प्रक्रिया (Lottery process) को यूडीएच मंत्री (UDH Minister) स्तर से मंजूरी मिल गई है. उसके बाद अब स्वायत शासन विभाग लॉटरी संबधित प्रकिया पूरी करने में जुट गया है.

पार्षद ही चुनेंगे निकाय प्रमुख और मेयर
एक दिन पहले सोमवार को अशोक गहलोत कैबिनेट की हुई बैठक में निकाय प्रमुख के चुनाव लेकर लंबे समय से जारी संशय पर विराम लगा दिया गया था. गहलोत कैबिनेट ने निकाय प्रमुख का चुनाव अप्रत्यक्ष प्रणाली से कराने पर अपनी मुहर लगाई है. कैबिनेट के फैसले के बाद अब निकाय प्रमुख का चुनाव सीधे जनता नहीं, बल्कि पार्षद ही करेंगे. पूर्व में प्रदेश में नई सरकार के गठन के बाद हुई गहलोत कैबिनेट की पहली बैठक में निकाय प्रमुख का चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली से करने का निर्णय लिया गया था. लेकिन 10 माह बाद अब गहलोत सरकार ने इस मामले में यू-टर्न लेते हुए अपना फैसला बदल दिया है. वार्डों की आरक्षण लॉटरी पहले निकाली जा चुकी है.

प्रदेशभर में चार चरणों में होंगे निकाय चुनाव

प्रदेश के 193 निकायों में इस वर्ष के अंत से चुनाव होने शुरू हो जाएंगे. प्रदेशभर में 4 चरणों में चुनाव होंगे. पहले चरण में 52 निकायों में इसी वर्ष नवंबर में चुनाव होना प्रस्तावित है. इस चरण में 46 पुराने और 6 नए निकाय शामिल हैं. इसमें नसीराबाद, थानागाजी, परतापुर-गढ़ी, रूपवास, महुवा और खाटूश्यामजी जैसे नए गठित किए गए निकायों को शामिल किया गया है. इन निकायों में वार्डों का फिर से सीमांकन पूरा हो चुका है और उनकी अधिसूचना भी जारी कर दी गई है.

प्रथम चरण में इन निकायों में चुनाव प्रस्तावित हैं
1. जोधपुर संभाग - नगर निगम जोधपुर, नगरपरिषद बाड़मेर, बालोतरा, सिरोही, पाली, जालौर, जैसलमेर और नगरपालिका फलौदी, माउंटआबू, शिवगंज, पिंडवाड़ा, सुमेरपुर और भीनमाल.
Loading...

2. उदयपुर संभाग - नगर निगम उदयपुर, नगरपरिषद चित्तौडगढ़, बांसवाड़ा और नगरपालिका निम्बाहेड़ा, रावतभाटा, प्रतापपुर-गढ़ी, नाथद्वारा, आमेट और कानोड़
3. जयपुर संभाग - नगर निगम जयपुर, नगरपरिषद अलवर, भिवाड़ी, झुंझनूं, सीकर और नगरपालिका थानागाजी, पिलानी, बिसाऊ, नीमकाथाना, खाटूश्यामजी और महुआ.
4. बीकानेर संभाग - नगर निगम बीकानेर, नगरपरिषद- चूरू, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ और नगरपालिका राजगढ़ और सूरतगढ़.
5. अजमेर संभाग - नगरपरिषद ब्यावर, मकराना, टोंक और नगरपालिका पुष्कर, नसीराबाद व डीडवाना.
6. कोटा संभाग - नगर निगम-कोटा और नगरपालिका सांगोद, कैथून, मांगरोल और छबड़ा.
7. भरतपुर संभाग - नगर निगम भरतपुर और रूपवास नगरपालिका.

अशोक गहलोत सरकार का यू-टर्न, जनता नहीं पार्षद ही चुनेंगे निकाय प्रमुख

अशोक गहलोत सरकार ने TSP आरक्षण को लेकर खेला यह बड़ा दांव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 1:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...