लाइव टीवी

निकाय चुनाव: सभी 49 निकायों में प्रमुख के पद के लिए पर्चा दाखिल करेगी BJP

Sudhir sharma | News18 Rajasthan
Updated: November 20, 2019, 4:34 PM IST
निकाय चुनाव: सभी 49 निकायों में प्रमुख के पद के लिए पर्चा दाखिल करेगी BJP
पूनिया ने कहा की कई निकायों में चैयरमेन के चुनाव के लिए जरूरत पड़ी तो निर्दलियों को भी समर्थन दिया जाएगा.

निकाय चुनाव परिणामों (Local Body Election Results) के बाद अब 20 निकायों में कांग्रेस (Congress) और 6 में बीजेपी (BJP) का बोर्ड बनना तय है. वहीं अब बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां निर्दलियों (Independents) के दबदबे वाली निकायों में बोर्ड बनाने की रणनीति (strategy) में जुट गई हैं.

  • Share this:
जयपुर. निकाय चुनाव परिणामों (Local Body Election Results) के बाद अब 20 निकायों में कांग्रेस (Congress) और 6 में बीजेपी (BJP) का बोर्ड बनना तय है. वहीं अब बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां निर्दलियों (Independents) के दबदबे वाली निकायों में बोर्ड बनाने की रणनीति (strategy) में जुट गई हैं. 23 निकायों में जोड़तोड़ से बोर्ड बनने हैं. बीजेपी ने निर्दलियों के दबदबे वाले निकायों में बोर्ड बनाने के लिए अपने वरिष्ठ नेताओं (Senior leaders) को जिम्मेदारी सौंपी है. पार्टी स्थानीय बीजेपी इकाइयों से संपर्क करके जोड़तोड़ बिठाने में लगी है. प्रदेश बीजेपी मुख्यालय (BJP Headquarters) से पूरी नजर रखी जा रही है.

4 निकायों में निर्दलीय पार्षद बीजेपी और कांग्रेस पर भारी हैं
प्रदेश के 49 निकाय के चुनाव परिणाम आ जाने के बाद प्रदेश की दोनों ही राजनैतिक पार्टियां निकायों में ज्यादा से ज्यादा अपने-अपने बोर्ड बनाने की जुगत में लग गई है. परिणाम आने के बाद से ही प्रदेश बीजेपी मुख्यालय में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया और संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर के अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेताओं में बातचीत का दौर जारी है. 4 निकायों में निर्दलीय पार्षद बीजेपी और कांग्रेस से ज्यादा हैं. भरतपुर, रूपवास, पिलानी और महुआ में निर्दलीय दलों पर भारी रहे हैं.

जरुरत के अनुसार समर्थन लिया और दिया जाएगा

प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा की बीजेपी सभी 49 निकायों में मेयर, सभापति और चेयरमैन के लिए पर्चा दाखिल करेगी. उन्होंने कहा की कई जगह हमारी समान विचारधारा वाले पार्षद जीतकर आए हैं. उनका भी सहयोग लिया जाएगा. साथ ही पूनिया ने कहा की कई निकायों में चैयरमेन के चुनाव के लिए जरूरत पड़ी तो निर्दलियों को भी समर्थन दिया जाएगा. पूनिया ने दल बदल कानून पार्षदों पर लागू नहीं होता है. ऐसे में कुछ कांग्रेस के हमारे पक्ष में आएंगे तो कुछ हमारे भी उधर जा सकते हैं. उल्लेखनीय है कि निकायों में अपने-अपने बोर्ड बनाने के लिए दोनों ही पार्टियों पार्षदों की बाड़ाबंदी कर रखी है.

रोचक परिणाम: नसीराबाद निकाय के 12 पार्षद 10 से भी कम मतों के अंतर से जीते

निकाय चुनाव: उदयपुर में BJP बना रही बोर्ड, खुश हो रही कांग्रेस, यह है कारण

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 4:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...