अपना शहर चुनें

States

Lockdown-4.0: रेल मंत्रालय का बड़ा फैसला, 1 जून से चलेंगी 200 अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनें

16 जून से जोधपुर-हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन के चलने और गंतव्य पर पहुंचने का समय बदल जाएगा
16 जून से जोधपुर-हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन के चलने और गंतव्य पर पहुंचने का समय बदल जाएगा

लॉकडाउन में रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) ने बड़ा फैसला लेते हुए 1 जून से 200 अतिरिक्त स्पेशल पेसैंजर ट्रेनें (Special Train) चलाने का फैसला किया है.

  • Share this:
जयपुर. लॉकडाउन में रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) ने बड़ा फैसला लेते हुए 1 जून से 200 अतिरिक्त स्पेशल पेसैंजर ट्रेनें (Special Train) चलाने का फैसला किया है. इससे पहले अब तक कुल 1600 ट्रेनों के माध्यम से लगभग 21.5 लाख श्रमिकों को उनके स्थानों तक पहुंचाया जा चुका है.

सभी ट्रेनें गैर वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी की होंगी
भारतीय रेल 1 जून से प्रतिदिन 200 अतिरिक्त ट्रेनें चलाने जा रहा है. ये सभी गैर वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी की ट्रेन होंगी. इन ट्रेनों की बुकिंग भी ऑनलाइन ही उपलब्ध होगी. ट्रेनों की सूचना शीघ्र ही उपलब्ध कराई जाएगी. इनमें से उत्तर पश्चिम रेलवे के हिस्से में कितनी ट्रेन आएगी इसका खुलासा एक दो दिन में होगा. इस बीच भारतीय रेल ने श्रमिकों से भी अपील की है कि वे धैर्य रखें और अपने स्थान पर ही रहें. भारतीय रेल की ओर से उनको उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए पूरी व्यवस्था की जा रही है. इसके लिए राज्य सरकारों से उचित समन्वय स्थापित किया जा रहा है.

सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना बड़ी चुनौती होगा
गौरतलब है कि ये ट्रेनें चलाने के दौरान यात्रियों में सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना और सभी की रेलवे स्टेशन पर थर्मल स्कैनिंग करना रेलवे के सामने बहुत बड़ी चुनौती होगी. इसके लिए रेलवे पूरी तैयारी कर रहा है और व्यवस्थाओं को अमली जामा पहनाया जा रहा है.



NWR जोन से अब तक 62 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें रवाना की जा चुकी हैं
उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन के दौरान 18 मई तक NWR जोन से 62 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें दूसरे राज्यों के लिए रवाना जा चुकी है. उनमें 84,226 मजदूर भेज गए हैं. इसी क्रम में 18 मई तक NWR जोन में 29 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें आ चुकी है. इनमें 33,502 मजदूर राजस्थान वापस लौट चुके हैं.

राजस्थान देश में श्रमिक स्पेशल बस चलाने वाला पहला राज्य बना

Rajasthan: 1 जून से किसानों पर बरसेगी राहत, महज 3% की ब्याज दर पर मिलेगा ऋण
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज