राजस्थान में निराशजनक रहा Lockdown 3.0, विस्तार से जानें कैसे...
Jaipur News in Hindi

राजस्थान में निराशजनक रहा Lockdown 3.0, विस्तार से जानें कैसे...
वै

राजस्थान में लॉकडाउन (Lockdown) के तीसरे चरण के दौरान चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा लिए गए आंकड़ों के अनुसार सबसे ज्यादा थर्ड लॉकडाउन में मरीज सामने आए और मौत भी सबसे ज्यादा हुई हैं. पहले लॉकडाउन की बात करें तो इस दौरान 37 हजार 860 सैंपल लिए गए थे, जिसमें 1076 कोरोना पॉजिटिव मरीज निकले थे.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना वायरस (Coronavirus) को फैलने से रोकने के लिए 4 मई से 17 मई तक लागू लॉकडाउन 3.0 (Lockdown 3.0) की अवधि रविवार को खत्म हो रही है. लॉकडाउन का तीसरा चरण राजस्थान में काफी उग्र रहा है. राजस्थान और गुजरात बॉर्डर से जुड़े उदयपुर, जालौर, सिरोही और जोधपुर ऐसे जिले रहे हैं जहां पर लॉकडाउन के दूसरे चरण के मुकाबले तेजी से कोरोना का संक्रमण फैला है. गुजरात के अहमदाबाद और सूरत और महाराष्ट्र से आ रहे इन प्रवासी राजस्थानियों के कारण ग्रीन जोन में लंबे समय तक रहने वाले जालौर और सिरोही जिले अब तेजी से कोरोना संक्रमण का शिकार होते दिखाई दे रहे हैं. उदयपुर में भी करीब 379 संक्रमित सामने आ चुके हैं, चित्तौड़गढ़ का निंबाहेड़ा भी काफी प्रभावित दिखाई दिया जहां बड़ी संख्या में संक्रमित एक साथ सामने आए.

राजधानी जयपुर में तेजी से हुईं मौतें और बढ़े मामले
कोरोना वायरस राजधानी जयपुर के लिए काफी खतरनाक रहा है. इस फेज में राजधानी में सबसे ज्यादा 560 कोरोना से संक्रमित व्यक्ति मिले. संक्रमितों में 26 की मौत भी हो गई, यानि कि लगभग 2 मौत रोजाना हुईं. लॉकडाउन के इस तीसरे चरण के दौरान जयपुर में सबसे ज्यादा सैंपल लिए गए और इस दौरान सबसे ज्यादा संक्रमण भी फैला. मौत का आंकड़ा भी इसी लॉकडाउन में सबसे ज्यादा सामने आया है.

प्रदेश में जांच का काम
राजस्थान में लॉकडाउन के तीसरे चरण के दौरान चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा लिए गए आंकड़ों के अनुसार सबसे ज्यादा थर्ड लॉकडाउन में मरीज सामने आए और मौत भी सबसे ज्यादा हुई हैं. पहले लॉकडाउन की बात करें तो इस दौरान 37 हजार 860 सैंपल लिए गए थे, जिसमें 1076 कोरोना पॉजिटिव मरीज निकले थे. हालांकि दूसरे लॉकडाउन के दौरान 1 लाख 20 हजार 240 सैंपल लिए गए. इनमें 2886 मरीज पॉजिटिव पाए गए. 71 कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत हुई, जबकि 923 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौटे. इसके बाद 4 मई से 17 मई तक तीसरे लॉकडाउन के दौरान हालात सबसे ज्यादा बिगड़े. इस दौरान 2 लाख 31 हजार 946 सैंपल लिए गए. इनमें सबसे ज्यादा 5083 कोरोना मरीज निकले. 128 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हुई. जबकि 2577 मरीज ठीक होकर अपने घर लौट गए.



रिकवरी रेट देश में सबसे अधिक राजस्थान में
देश में सर्वाधिक रिकवरी रेट राजस्थान में रहा है. यह दर 58.83 प्रतिशत है. ऐसे में राजस्थान में जहां एक ओर पॉजिटिव केस की संख्या तेजी से बढ़ी, वहीं रिकवरी रेट अच्छी होने से मरीज तेजी से ठीक होकर अपने घर भी लौट गए.

जयपुर जेल में कोरोना विस्फोट
राजधानी जयपुर की जेल में 13 मई से कोरोना पॉजिटिव आने का सिलसिला शुरू हुआ. 13 मई को डिस्ट्रिक्ट जेल में 5 पॉजिटिव आये. 14 मई को डिस्ट्रिक्ट जेल में 3 पॉजिटिव आये. 15 मई को सेंट्रल जेल में 2 पॉजिटिव आये. 16 मई को डिस्ट्रिक्ट जेल में 119 पॉजिटिव आये. 17 मई की सुबह 11 सेंट्रल जेल में और 3 डिस्ट्रिक्ट जेल में पॉजिटिव मिले. इस तरह जयपुर जेल में कुल पॉजिटव अब तक 143 पॉजिटिव आ चुके हैं.

ये भी पढ़ें: COVID-19 Update: राजस्थान में 123 नए पॉजिटिव केस, कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 5083
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading