Rajasthan: 31 मई के बाद भी जारी रहेगा रात्रिकालीन कर्फ्यू, जून में मॉडिफाइड लॉकडाउन जारी रखने के संकेत
Jaipur News in Hindi

Rajasthan: 31 मई के बाद भी जारी रहेगा रात्रिकालीन कर्फ्यू, जून में मॉडिफाइड लॉकडाउन जारी रखने के संकेत
सीएम अशोक गहलोत ने कोरोना पर कोर ग्रुप के साथ शुक्रवार को समीक्षा बैठक की.

सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने अधिकारियों से कहा है कि 31 मई के बाद भी प्रदेशभर में रात्रिकालीन कर्फ्यू जारी (Night curfew continues) रखा जाए. इसमें किसी तरह की शिथिलता नहीं हो.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में 31 मई के बाद जून में भी मॉडिफाइड लॉकडाउन (Modified lockdown) जारी रहने के पूरे आसार हैं. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने अधिकारियों से कहा है कि 31 मई के बाद भी प्रदेशभर में रात्रिकालीन कर्फ्यू जारी (Night curfew continues) रखा जाए. इसमें किसी तरह की शिथिलता नहीं हो. सीएम ने कहा कि कंटेनमेंट क्षेत्र का पुनःनिर्धारण एक्टिव केसेज की संख्या के अनुसार किया जाए ताकि केवल संक्रमित क्षेत्र में ही कर्फ्यू जारी रखा जाए. सीएम के इन निर्देशों से यह माना जा रहा है कि जून में भी मौजूदा लॉकडाउन रियायतों के साथ जारी रहेगा.

हैल्थ प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना कराएं
सीएम अशोक गहलोत ने कोरोना पर कोर ग्रुप के साथ शुक्रवार को समीक्षा बैठक की. इसमें सीएम ने हैल्थ प्रोटोकॉल की पालना सख्ती से करने के निर्देश दिए और कहा कि इसमें कोई भी अपना अहम आड़े नहीं आने दे चाहे वह वीआईपी ही क्यों न हो. गहलोत ने कहा कि प्रशासन हैल्थ प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना के लिए कैमरों सहित अन्य माध्यमों से प्रभावी निगरानी करे. उन्होंने निर्देश दिए कि राजस्थान महामारी अध्यादेश के तहत लागू पैनल्टी और जुर्माने के प्रावधानों में किसी तरह की शिथिलता नहीं बरती जाए. हैल्थ प्रोटोकॉल की पालना करके ही हम कोरोना की जंग जीत सकेंगे. इस दौरान सीएम ने अनावश्यक सरकारी खर्चों पर रोक लगाने और विश्लेषण के लिए कमेटी बनाने के भी निर्देश भी दिए हैं.

कोरोना का दूसरा दौर अधिक संकट पैदा कर सकता है



सीएम ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन सहित कई विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि जुलाई-अगस्त माह में कोरोना का दूसरा दौर अधिक संकट पैदा कर सकता है. ऐसे में कोविड-19 महामारी की इस चुनौती को एक अवसर के रूप में बदलते हुए प्रदेश के जिला अस्पतालों से लेकर सब सेंटर तक मजबूत हैल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जाए ताकि गांव के लोगों को छोटी-छोटी बीमारियों के इलाज के लिए शहर तक नहीं आना पड़े.



निजी अस्पतालों को गाइडलाइन जारी करने के निर्देश
सीएम ने निजी अस्पतालों को सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के मुताबिक कोरोना मरीजों का मुफ्त इलाज करने के लिए गाइडलाइन जारी करने के निर्देश भी दिए हैं. गहलोत ने कहा इसे नहीं मानने वाले अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए. कोरोना पॉजिटिव मरीजों को निशुल्क इलाज उपलब्ध कराने के लिए निजी अस्पताल मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए अपनी नैतिक जिम्मेदारी निभाएं.

Rajasthan: जून में होगी 10वीं और 12वीं बोर्ड की शेष बची हुई परीक्षाएं

आइसोलेशन वार्ड में तड़पते मरीज ने दम तोड़ा, किसी ने नहीं संभाला, देखें Video
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading