Home /News /rajasthan /

Lockdown: जयपुर में महंगे दामों में शराब के शौकिनों की तलब मिटा रहे हैं तस्कर, पुलिस जुटी धरपकड़ में

Lockdown: जयपुर में महंगे दामों में शराब के शौकिनों की तलब मिटा रहे हैं तस्कर, पुलिस जुटी धरपकड़ में

Lockdown में दुकान खोलने पर शराब लॉबी का दबाव, आज हो सकता है कोई बड़ा फैसला (सांकेतिक तस्वीर)

Lockdown में दुकान खोलने पर शराब लॉबी का दबाव, आज हो सकता है कोई बड़ा फैसला (सांकेतिक तस्वीर)

कोरोना वायरस ( COVID-19) के चलते प्रदेश में लागू लॉकडाउन (Lockdown) ने नशे के तलबगारों की मुश्किलें बढा दी हैं. लॉकडाउन के साथ ही प्रदेश में शराब की दुकानें भी बंद कर दी गई थी. लिहाजा शराब के तलबगार शराब को लेकर बेचैन हो रहे हैं.

जयपुर. कोरोना वायरस ( COVID-19) के चलते प्रदेश में लागू लॉकडाउन (Lockdown) ने नशे के तलबगारों की मुश्किलें बढा दी हैं. लॉकडाउन के साथ ही प्रदेश में शराब की दुकानें भी बंद कर दी गई थी. लिहाजा शराब के तलबगार शराब को लेकर बेचैन हो रहे हैं. शराब के शौकिनों की इसी कमजोरी का फायदा उठाने के लिए शराब माफिया सक्रिय हो गए हैं. राजधानी जयपुर के अलग अलग क्षेत्रों में शराब माफिया होम डिलीवरी के साथ ऑनलाइन शराब सप्लाई करने की कोशिश कर रहे हैं. इसका खुलासा इस बात से होता है कि जयपुर कमिश्नरेट पुलिस ने पिछले 15 दिनों में अलग अलग थाना क्षेत्रों में कार्रवाई करते हुए दो दर्जन से अधिक आरोपियों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि अवैध रूप से शराब चार से पांच गुना दरों में सप्लाई की जा रही है.

15 दिनों में अलग अलग थाना क्षेत्रों में
जयपुर कमिश्नरेट पुलिस ने गत 15 दिनों में शहर के विद्याधर नगर, भट्टा बस्ती, श्याम नगर, मुहाना, हरमाड़ा, ट्रांसपोर्ट नगर, खोह नागोरियान, जवाहर नगर, वैशाली नगर और सांगानेर सदर समेत बस्सी भी शराब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाइयां की है. ऐसा नहीं है कि शराब की डिमांड शहरी क्षेत्र में ही हो रही है. ग्रामीण क्षेत्रों में भी शराब के तलबगारों की कमी नहीं है. ग्रामीण क्षेत्रों में तो हाल और बुरा है. लॉकडाउन के दौरान जयपुर ग्रामीण पुलिस ने अवैध शराब के मामले में पिछले 25 दिनों में 101 से अधिक मुकदमें दर्ज कर 114 से ज्यादा आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

70 लाख रुपयों की अवैध शराब जब्त कि जा चुकी है
जयपुर ग्रामीण एसपी शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि जयपुर ग्रामीण क्षेत्र में शराब माफियाओं के खिलाफ बड़ी कार्रवाईयां जारी हैं. उन्होंने बताया कि अब तक करीब 70 लाख रुपयों की अवैध शराब जब्त कि जा चुकी है. वहीं 34 हजार लीटर कच्ची शराब नष्ट करते हुए शराब की 55 भट्टियां नष्ट की गई हैं. शराब माफियाओं द्वारा शराब परिवहन के लिए उपयोग में लिए जा रहे 23 वाहन भी अब तक जब्त किए गए हैं. जयपुर ग्रामीण क्षेत्र में रेनवाल, कोटपूतली, मनोहरपुरा, चंदवाजी, जोबनेर, नैरना, दूदू और जमवारामगढ समेत कई क्षेत्रों में कार्रवाइयां की गई हैं.

ब्यूटी पार्लर की आड़ में सप्लाई
पुलिस के अनुसार होम डिलीवरी के साथ ऑनलाइन भी शराब सप्लाई करने की कोशिश हो रही है. शराब माफिया शराब सप्लाई करने में बेहद सतर्कता बरतते हुए अपने जानकारों को सप्लाई कर रहे हैं. 29 अप्रेल को पुलिस ने विद्याधर नगर क्षेत्र में कार्रवाई के दौरान एक आरोपी को ब्यूटी पॉर्लर सैलून की आड़ में अपने विश्वसनीय ग्राहकों को शराब सप्लाई करते गिरफ्तार किया गया है.

अंग्रेजी के साथ हथकड़ की भी सप्लाई
ऐसा नहीं है कि सिर्फ अंग्रेजी शराब की ही डिमांड है. देसी शराब की मांग भी जोरों पर है. ग्रामीण क्षेत्र के अलावा शहरी क्षेत्र में भी देसी शराब सप्लाई हो रही है. पुलिस द्वारा की गई कार्रवाइयों में हथकड़ शराब के मामले ज्यादा है. इसके पीछे कारण है कि हथकड़ शराब भारी मात्रा में तैयार कर आसानी से सप्लाई की जा सकती है. आबकारी विभाग ने भी पिछले दिनों में 11 मामले दर्ज कर 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

COVID: राजस्थान में 2500 से ज्यादा हुए पॉजिटिव केस, बारां में भी हुई 'एंट्री'

Lockdown: अजमेर में फंसे हजारों जायरिनों के लौटने का सिलसिला हुआ शुरू

Tags: Jaipur news, Lockdown, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर