लाइव टीवी

Jaipur: फसल बेचने के लिए खरीद केन्द्रों के बाहर डेरा डालकर बैठे हैं किसान, 2 से 3 दिन में आ रहा है नंबर
Jaipur News in Hindi

Dinesh Sharma | News18 Rajasthan
Updated: May 21, 2020, 5:53 PM IST
Jaipur: फसल बेचने के लिए खरीद केन्द्रों के बाहर डेरा डालकर बैठे हैं किसान, 2 से 3 दिन में आ रहा है नंबर
किसान नेता रामेश्वर चौधरी का कहना है कि खरीद केंद्र एक दिन में 40 से ज्यादा किसानों के माल की तुलाई नहीं करवा पा रहे हैं.

प्रदेश में इन दिनों सरसों और चने की समर्थन मूल्य (MSP) पर खरीद चल रही है, लेकिन कुछ खरीद केन्द्रों पर किसानों (Farmers) को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश में इन दिनों सरसों और चने की समर्थन मूल्य (MSP) पर खरीद चल रही है, लेकिन कुछ खरीद केन्द्रों पर किसानों (Farmers) को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. कुछ केन्द्रों पर तो किसानों को अपनी उपज की तुलाई के लिए दो से तीन दिन तक इंतजार करना पड़ रहा है. इस दौरान किसानों को खरीद केंद्र के बाहर ही डेरा डालना पड़ रहा है ताकि नम्बर निकल जाने पर फिर से पूरी प्रक्रिया दोबारा ना करनी पड़े.

उपज से भरे ट्रैक्टरों की लम्बी कतार लगी है
वहीं प्रदेश के कुछ केन्द्रों पर छाया-पानी की व्यवस्था भी नहीं है. टोंक के अलीगढ़ खरीद केंद्र पर तो उपज से भरे ट्रैक्टरों की लम्बी कतार लगी है. किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट के मुताबिक अन्य केन्द्रों से भी किसानों को परेशानी की खबरें मिल रही हैं. उन्होंने कहा कि खरीद केंद्र कम होने से ऐसी स्थितियां बनी हैं. कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिग का भी पालन नहीं हो पा रहा है.

ज्यादा किसानों को हो रहे मैसेज



किसान नेता रामेश्वर चौधरी का कहना है कि खरीद केंद्र एक दिन में 40 से ज्यादा किसानों के माल की तुलाई नहीं करवा पा रहे हैं. जबकि राजफेड द्वारा तुलाई के लिए हर दिन 120 तक किसानों को मैसेज भेजे जा रहे हैं. इसके चलते किसानों को खरीद केंद्र के बाहर ही 2-3 दिन इंतजार करना पड़ रहा है. किसान इस डर से वापस अपने घर नहीं लौटते हैं कि एक बार यदि तुलाई के लिए उनका नम्बर निकल गया तो अपना माल बेचने के लिए उन्हें फिर से प्रक्रिया दोहरानी होगी और कई दिनों का इंतजार भी करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि कोरोना से संक्रमण के चलते शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक कर्फ्यू आदेश लागू रहते हैं. लेकिन किसानों को मजबूरी में इस दौरान घर से बाहर रहना पड़ रहा है. उन्होंने अवकाश के दिन भी फसल की तुलाई जारी रखने की मांग की.



नहीं हो रहे रजिस्ट्रेशन
उधर कई केन्द्रों पर किसान अपनी फसल बेचने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ही नहीं कर पा रहे. क्रय-विक्रय सहकारी समिति, सांगानेर से जुड़े किसानों की शिकायत है कि रजिस्ट्रेशन खुलने से लेकर अब तक उनके रजिस्ट्रेशन नहीं हो पा रहे हैं. यहां चना खरीद पर पंजीयन को सीमा को 10 प्रतिशत बढ़ाया गया है लेकिन किसानों को उसका लाभ ही नहीं मिल पा रहा है. किसानों का कहना है कि अधिकारियों से शिकायत के बावजूद समस्या का समाधान नहीं हो रहा है.

Rajasthan: 1 जून से सरकारी स्कूलों के स्टूडेंट्स TV के जरिये करेंगे पढ़ाई 

COVID: पानी, बिजली के बिल और स्कूल फीस माफ करने की मांग, AAP करेगी आंदोलन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 5:27 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading