Home /News /rajasthan /

Lockdown: राजस्थान में होम डिलीवरी के लिए खुल सकेंगे रेस्टोरेंट्स, भोजनालय और मिठाई की दुकानें

Lockdown: राजस्थान में होम डिलीवरी के लिए खुल सकेंगे रेस्टोरेंट्स, भोजनालय और मिठाई की दुकानें

प्रवासियों को अनिवार्य रूप से  क्वॉरेंटाइन में रहना होगा.

प्रवासियों को अनिवार्य रूप से क्वॉरेंटाइन में रहना होगा.

लॉकडाउन (Lockdown) के बीच राजस्थान सरकार ने बड़ी राहत प्रदान की है. प्रदेश में अब रेस्टोरेंट्स, भोजनालय और मिठाई की दुकानें होम डिलीवरी (Home delivery) तथा केवल टेक अवे (Take away) के लिए खोली जा सकेंगी.

जयपुर. लॉकडाउन (Lockdown) के बीच राजस्थान सरकार ने बड़ी राहत प्रदान की है. प्रदेश में अब रेस्टोरेंट्स, भोजनालय और मिठाई की दुकानें होम डिलीवरी (Home delivery) तथा केवल टेक अवे (Take away) के लिए खोली जा सकेंगी. वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में सभी ढाबे, हार्डवेयर, प्लंबिंग, कारपेंटर, पेंट, निर्माण सामग्री की दुकानें, एसी, कूलर, टीवी, इलेक्ट्रॉनिक, विद्युत संबंधी दुकानें, इलेक्ट्रॉनिक रिपेयरिंग की दुकानें और सेवाएं, वाहन शो-रूम खोले जा सकेंगे. इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने जैसे सुरक्षा उपायों का रखना ध्यान रखना होगा.

प्रवासियों को अनिवार्य रूप से रहना होगा क्वॉरेंटाइन में
राज्य सरकार ने राजस्थान महामारी अध्यादेश-2020 के प्रावधानों के तहत राज्य में आने वाले प्रवासियों के क्वॉरेंटाइन को लेकर आदेश जारी किए हैं. गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरूप की ओर से जारी आदेश के मुताबिक ऐसे प्रवासी जिन्होंने हाल ही में राजस्थान में प्रवेश किया है या आगामी दिनों में आने वाले हैं उन सभी की स्क्रीनिंग होगी और पंजीकरण किया जाएगा. स्क्रीनिंग में जिन प्रवासियों में कोविड-19 से संबंधित किसी प्रकार के लक्षण पाए जाएंगे तो उनको क्वॉरेंटाइन अवधि या स्वस्थ होने तक कोविड केयर सेंटर में रखा जाएगा. अन्य प्रवासियों को अनिवार्य रूप से 14 दिनों के लिए होम क्वॉरेंटाइन किया जाएगा. जिनको होम क्वॉरेंटाइन करना संभव नहीं है उनको जिला प्रशासन की ओर से स्थापित उनके निवास स्थान के नजदीकी क्वॉरेंटाइन सेंटर में 14 दिनों के लिए रखा जाएगा. इन सब की समय समय पर चिकित्सा दल के द्वारा जांच की जाएगी.

आईएएस वीनू गुप्ता की अध्यक्षता में कमेटी गठित
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर संस्थागत क्वॉरेंटीन और होम आइसोलेशन की व्यवस्थाओं के लिए राज्य सरकार ने आईएएस वीनू गुप्ता की अध्यक्षता में 6 सदस्यीय कमेटी का गठन कर दिया है. इनमें आईएएस अभय कुमार रजिस्ट्रेशन, होम क्वॉरेंटीन और क्वॉरेंटाइन की डिजीटल मॉनिटरिंग करेंगे, आईएएस अखिल अरोड़ा रजिस्ट्रेशन चैकिंग और क्वॉरेंटाइन का उल्लंघन करने वालों की शिफ्टिंग के कार्य को देखेंगे. राजेश्वर सिंह ग्रामीण क्षेत्रों में क्वॉरेंटाइन और होम आइसोलेशन को देखेंगे. आईएएस भास्कर सावंत फंडिंग व्यवस्था और पीके गोयल तथा केके पाठक बिना लक्षणों वाले मरीजों की ब्लॉक और जिला स्तर पर व्यवस्था करेंगे.

प्रवासियों को चाय और नाश्ता कराया जाएगा
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश के बाद ट्रेन आने के बाद और ट्रेन रवाना होने से पहले प्रवासियों को चाय और नाश्ता कराया जाएगा. बसों से आने और जाने वाले प्रवासियों को भी यही सुविधा बस स्टैंड पर मिलेगी. गृह विभाग ने आदेश जारी कर जिला स्तरीय क्वॉरेंटाइन प्रबंधन समिति का अध्यक्ष जिला कलेक्टर को बनाया है. जबकि उपखंड स्तर पर उपखंड अधिकारी को क्वॉरेंटाइन समिति का अध्यक्ष बनाया गया है.

मंत्री भंवरलाल मेघवाल की तबीयत बिगड़ी, ब्रेन स्ट्रोक, SMS अस्पताल में भर्ती

Jaisalmer: कोरोना के डर से CRPF के SI ने खुद को गोली से उड़ाया

Tags: Corona epidemic, Jaipur news, Lockdown, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर