होम /न्यूज /राजस्थान /

Vande Bharat Mission: लंदन से घर लौटे 149 राजस्थानी, होटलों में किया क्वॉरेंटाइन

Vande Bharat Mission: लंदन से घर लौटे 149 राजस्थानी, होटलों में किया क्वॉरेंटाइन

लंदन से आए 149 यात्रियों को देखने बमुश्किल दो से चार अभिभावक जयपुर एयरपोर्ट पहुंचे थे.

लंदन से आए 149 यात्रियों को देखने बमुश्किल दो से चार अभिभावक जयपुर एयरपोर्ट पहुंचे थे.

मिशन वंदे भारत (Vande Bharat Mission) में दूसरे चरण के तहत फ्लाइट्स के जयपुर एयरपोर्ट पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है. शुक्रवार को पहली फ्लाइट लंदन से जयपुर (London to Jaipur) पहुंची.

जयपुर. मिशन वंदे भारत (Vande Bharat Mission) में दूसरे चरण के तहत फ्लाइट्स के जयपुर एयरपोर्ट पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है. शुक्रवार को पहली फ्लाइट लंदन से जयपुर (London to Jaipur) पहुंची. इस फ्लाइट से 149 यात्री लंदन से जयपुर पहुंचे हैं. ये यात्री राजस्थान के अलग अलग शहरों के रहने वाले हैं. फिलहाल सभी यात्रियों को अलग अलग होटल्स में क्वॉरेंटाइन किया गया है.

यात्रियों को 14 दिन के क्वॉरेंटाइन पीरियड में रखा जाएगा
इस फ्लाइट को दोपहर 1 बजकर 40 मिनट पर लंदन से दिल्ली होते हुए जयपुर पहुंचना था, लेकिन यह 2 बजे बाद सांगानेर एयरपोर्ट पहुंची. फिर इमीग्रेशन और कोविड की जांच औपचारिकता में इतना समय लग गया कि सभी यात्रियों को बाहर निकलते निकलते 3 से 4 बज गए. चूंकि मिशन वंदे भारत योजना भारत सरकार की है लिहाजा एयरपोर्ट का जायजा लेने जयपुर के सांसद रामचरण बोहरा भी एयरपोर्ट पहुंचे. बोहरा ने बताया कि सभी माकूल इंतजाम किए गए हैं और अब इनके 14 दिन के क्वॉरेंटाइन पीरियड पूरे होने का इंतज़ार है.

दो- चार अभिभावक जयपुर एयरपोर्ट पहुंचे 
लंदन से आए 149 यात्रियों को देखने बमुश्किल दो से चार अभिभावक जयपुर एयरपोर्ट पहुंचे थे. सभी अभिभावको को दिशा निर्देश दिए गए थे कि अपने यात्रियों को लेने एयरपोर्ट पर ना आए. अपनी बेटी को देखने पहुंची वंदना शर्मा ने बताया कि वो कोरोना के कारण लंबे समय से इंतजार कर रहे थे कि जल्द से जल्द उनकी बेटी भारत वापस पहुंचे. बेटी को वापस लंदन भेजेंगे या नहीं इस सवाल पर वंदना शर्मा ने कहा सब कुछ हालात पर निर्भर करता है.

अभी 1 जून तक 13 फ्लाइट आनी और बाकी है
एयरपोर्ट से यात्रियों के बसों के जरिए अलग-अलग होटलों में ले जाया गया. होटलों को यात्रियों की जेब के हिसाब से 3 केटेगरी में बांटा गया है. क्योंकि सभी यात्रियों को 14 दिन का किराया देना है. लिहाजा जिस यात्री की जेब जितना वहन कर सकती है उसने उतना ही महंगा होटल आईसोलेशन के लिए बुक करवाया है. इस दौरान एयरपोर्ट पर भारी तादाद में पुलिस जाब्ता मौजूद रहा. आज पहली फ्लाइट आई है. अभी 1 जून तक 13 फ्लाइट आनी और बाकी है.

Jaipur: COVID-19 ने तोड़ दिया गुलाबी नगरी का 160 साल पुराना यह रिकॉर्ड

25 मई से शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, न्यूनतम और अधिकतम आधार पर तय होगा किराया

Tags: Jaipur news, Rajasthan news, Vande Bharat Mission

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर