अपना शहर चुनें

States

Lockdown-3.0: ट्वीटर वॉर के बीच जारी है श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के आने-जाने का सिलसिला

file photo
file photo

लॉकडाउन (Lockdown) के दौर में श्रमिक स्पेशल ट्रेनें (Special trains) सियासत का मुद्दा बनती जा रही है. रेल मंत्री पीयूष गोयल (Railway Minister Piyush Goyal) ने ट्वीट कर राजस्थान और झारखंड को लेकर कहा है कि यहां कि सरकारें श्रमिकों को बुलाने में दिलचस्पी नहीं दिखा रही है.

  • Share this:
जयपुर. लॉकडाउन (Lockdown) के दौर में श्रमिक स्पेशल ट्रेनें (Special trains) सियासत का मुद्दा बनती जा रही है. रेल मंत्री पीयूष गोयल (Railway Minister Piyush Goyal) ने ट्वीट कर राजस्थान और झारखंड को लेकर कहा है कि यहां कि सरकारें श्रमिकों को बुलाने में दिलचस्पी नहीं दिखा रही है. इसका जवाब दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी ट्वीट के जरिए ही दिया है. सीएम गहलोत ने कहा कि सबसे पहले पीएम के साथ वीसी में उन्होंने ही श्रमिकों का मुद्दा उठाया था.

शुक्रवार को जयपुर जंक्शन से 3 श्रमिक ट्रेनें आईं और गईं
लॉकडाउन-3.0 में दी गई छूट और केन्द्र की स्वीकृति के बाद से जयपुर और उत्तर पश्चिम रेलवे के बाकी जंक्शनों से श्रमिक ट्रेनों का आवागमन लगातार हो रहा है. राजस्थान से प्रवासी श्रमिकों का अपने गृह राज्य जाना जारी है. वहीं दूसरे राज्यों में रह रहे राजस्थान के मजदूरों की भी लगातार वापसी हो रही है. शुक्रवार को भी जयपुर जंक्शन से 3 श्रमिक ट्रेनें आईं और गईं.

दिनभर में 3495 मजदूरों का आवागमन हुआ
जयपुर से शुक्रवार को रात 8 बजे 1196 यात्री हरिद्वार श्रमिक स्पेशल ट्रेन से जयपुर से रवाना हुए. वहीं इससे पहले सुबह 9.25 बजे केरल के कालीकट से श्रमिक स्पेशल जयपुर आई. इसमें 1325 श्रमिक जयपुर पहुंचे. दोपहर 12.12 बजे पर वसई पालघर से श्रमिक ट्रेन जयपुर पहुंची. इसमें 437 लोग आए. इसके अलावा झारखंड से जयपुर आई श्रमिक स्पेशल ट्रेन को कनकपुरा रेलवे स्टेशन पर रुकवाकर इसमें से 537 श्रमिकों को उतारा गया. शु्क्रवार को दिनभर में 3495 मजदूरों का आवागमन हुआ. अभी भी ज्यादा श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाए जाने की जरूरत है क्योंकि अभी विभिन्न राज्यों में लाखों की तादाद में मजदूर फंसे हुए है जो अपने घर लौटना चाहते है.









राजस्थान हाईकोर्ट का आदेश- लॉकडाउन के समय नहीं माफ होगी स्कूल फीस 

Rajasthan: गहलोत सरकार ने स्टाम्प ड्यूटी पर 10% सरचार्ज बढ़ाया, आम आदमी पर भार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज