Home /News /rajasthan /

Lockdown: राजस्थान सरकार ने अपने खर्च पर करायी बिहार के श्रमिकों की घर वापसी

Lockdown: राजस्थान सरकार ने अपने खर्च पर करायी बिहार के श्रमिकों की घर वापसी

NWR के अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने श्रमिकों से एक रुपया भी नहीं लिया है.

NWR के अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने श्रमिकों से एक रुपया भी नहीं लिया है.

लॉकडाउन (Lockdown) में फंसे प्रवासी श्रमिकों की घर वापसी का सिलसिला जारी है. इस बीच श्रमिकों को किराये का मुद्दा भी गरमाया हुआ है. वहीं राजस्थान सरकार (Government of Rajasthan) ने प्रदेश में फंसे बिहार के श्रमिकों को अपने खर्चे पर उनकी गृह राज्य में वापसी करवाई है.

अधिक पढ़ें ...
जयपुर. लॉकडाउन (Lockdown) में फंसे प्रवासी श्रमिकों की घर वापसी का सिलसिला जारी है. इस बीच श्रमिकों को किराये का मुद्दा भी गरमाया हुआ है. वहीं राजस्थान सरकार (Government of Rajasthan) ने प्रदेश में फंसे बिहार के श्रमिकों को अपने खर्चे पर उनकी गृह राज्य में वापसी करवाई है. जयपुर से स्पेशल ट्रेन में भेजे गए 1200 श्रमिकों के किराये का भुगतान राज्य सरकार ने उत्तर पश्चिम रेलवे को कर दिया है. उसके बाद सीएम अशोक गहलोत ने सोमवार को इस बात की घोषणा भी कर दी कि लॉकडाउन में फंसे सभी श्रमिकों से घर वापसी राज्य सरकार अपने खर्च पर करवाएगी.

1200 श्रमिकों को लेकर पटना गई थी ट्रेन
उत्तर पश्चिम रेलवे जोन का कहना है कि जयपुर से बिहार भेजे गए रेलयात्रियों का किराया राज्य सरकार ने वहन किया है. NWR जोन के जयपुर से हाल ही में एक ट्रेन 1200 श्रमिकों को लेकर पटना गई थी. NWR के अधिकारियों ने बताया कि उन्होंने श्रमिकों से एक रुपया भी नहीं लिया है. राज्य सरकार ने सीधा NWR के खाते में पैसे ट्रांसफर कर दिए हैं. राज्य सरकार ने सभी 1200 यात्रियों के साधारण श्रेणी के टिकट के हिसाब से पैसे NWR रेलवे ज़ोन के खाते में ट्रांसफर किए हैं.

लंबे लॉकडाउन के चलते मजदूरों के पास पैसे पहले ही खत्म हो चुके हैं
जयपुर से पटना जाने के लिए साधारण श्रेणी कि टिकट 280 रुपए कि आती है. सभी 1200 मजदूरों के साधारण श्रेणी के हिसाब से राज्य सरकार ने पैसे दिए हैं. दूसरी तरफ जिन राज्यों में श्रमिकों से पूरा पैसा वसूलने की खबरें आ रही है उसके बाद वहां सियासी घमासान मचा हुआ है. लंबे लॉकडाउन के चलते मजदूरों के पास पैसे पहले ही खत्म हो चुके हैं. ऐसे में अब उनके पास घर जाने के भी पैसे नहीं हैं. उल्लेखनीय है कि इस मसले पर केन्द्र सरकार ने साफ किया है कि श्रमिकों के टिकट की 85 प्रतिशत ज़िम्मेदारी उनकी है और 15 प्रतिशत किराया राज्य सरकार को वहन करना होगा. अब कई राज्यों के श्रमिकों से पता चल रहा है कि उनसे पूरा किराया वसूला गया है. इसको लेकर बवाल मचा हुआ है.

COVID-19: बिना मास्क पहने सामान बेचा तो दुकानदार पर लगेगा 500 रुपए जुर्माना

Lockdown-3.0: अजमेर से 1188 जायरीन स्पेशल ट्रेन से कोलकाता के लिए हुए रवाना

Tags: Indian Railways, Jaipur news, Lockdown, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर