अपना शहर चुनें

States

Lockdown: राज्य सरकार फसलों के खरीद केन्द्रों की संख्या बढ़ाए- पूनिया

सतीश पूनिया ने कहा कि कांग्रेस अपनी कमियों और कमजोरियों को छिपाने के लिए बीजेपी के केंद्रीय नेताओं पर मनगढ़ंत आरोप लगा रही है (फाइल फोटो)
सतीश पूनिया ने कहा कि कांग्रेस अपनी कमियों और कमजोरियों को छिपाने के लिए बीजेपी के केंद्रीय नेताओं पर मनगढ़ंत आरोप लगा रही है (फाइल फोटो)

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया (Satish Poonia) ने प्रदेश सरकार से मांग की है की वो किसानों की फसल की खरीद और भुगतान (Purchase and payment) की समुचित व्यवस्था करे. इसके साथ ही फसल खरीद के केन्द्रों की संख्या बढ़ाई जाए.

  • Share this:
जयपुर. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया (Satish Poonia) ने प्रदेश सरकार से मांग की है की वो किसानों की फसल की खरीद और भुगतान (Purchase and payment) की समुचित व्यवस्था करे. पूनिया ने कहा कि वर्तमान हालात में किसान (Farmer) के लिए लंबी दूरी तय कर अपनी फसल को बेचने के लिए लेकर जाना बहुत मुश्किल है. इसलिए राज्य सरकार हर ग्राम पंचायत स्तर पर ही किसान की फसल को खरीदने की व्यवस्था करे.

केन्द्र सरकार का निर्णय किसानों के हित में
पूनिया ने भारत सरकार की ओर से किसानों की मांग को ध्यान में रखते हुए एक दिन में समर्थन मूल्य पर सरसों और चने की खरीद 25 क्विंटल के बजाय 40 क्विंटल किए जाने के निर्णय का स्वागत किया है. पूनिया ने कहा कि केंद्र सरकार के इस निर्णय से किसान को लाभ होगा. भारत सरकार ने कोरोना संक्रमण और लाकडाउन की स्थिति में अपनी जिम्मेदारी का परिचय देते हुए अलग-अलग मद में प्रदेश सरकार को हज़ारों करोड़ रुपए की सहायता दी है. अब मुख्यमंत्री ये सुनिश्चित करें कि केंद्र से मिली सहायता को सही तरीके से जनता तक पहुंचे ताकि उसको लाभ मिल सके.

पूनिया ने की खरीद केन्द्र बढ़ाने की मांग
इसके साथ ही पूनिया ने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों की फसल की खरीद के लिए प्रदेश में 800 सेंटर बनाने की घोषणा की है, लेकिन इतने बड़े प्रदेश के लिए ये संख्या बहुत कम है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को चाहिए कि वो ग्राम सेवा केंद्रों को भी खरीद केन्द्र बनाए ताकि आसानी से किसान अपनी फसल को बेच सके. वर्तमान हालात में किसान के लिए लंबी दूरी तय कर पाना बेहद मुश्किल है. पूनिया ने राज्य सरकार से यह भी मांग की है कि वह इस बात को सुनिश्चित करे कि किसान की फसल का भुगतान समय सीमा में उसके खाते में पहुंच जाए.



जनता की भलाई के हर निर्णय में पार्टी राज्य सरकार के साथ है
बकौल पूनिया संकट की इस घड़ी में बीजेपी प्रदेश में विपक्ष की अपनी ज़िम्मेदारी को बखूबी निभा रही है. जनता की भलाई के हर निर्णय में पार्टी राज्य सरकार के साथ है. लेकिन जहां सरकार के गलत प्रबंधन, नियत और भेदभाव से जनता को परेशानी हो रही है पार्टी उस पर भी पुरी नजर रखे हुए है.

Good News: गहलोत सरकार किसानों को बांटेगी 16 हजार करोड़ का ब्याज मुक्त ऋण

सरकार ने किसानों को दी बड़ी राहत, समर्थन मूल्य पर फसल की खरीद सीमा बढ़ाई
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज