Home /News /rajasthan /

लोकसभा चुनाव-2019: पूर्व मंत्री निहालचंद ने कहा, किसी भी कीमत पर नहीं छोडूंगा घर

लोकसभा चुनाव-2019: पूर्व मंत्री निहालचंद ने कहा, किसी भी कीमत पर नहीं छोडूंगा घर

पूर्व मंत्री निहालचंद मेघवाल। फोटो एफबी।

पूर्व मंत्री निहालचंद मेघवाल। फोटो एफबी।

लोकसभा चुनाव में बीजेपी में कुछ सांसदों के टिकटों पर मंडराए खतरे के बीच श्रीगंगानगर सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय राज्य मंत्री निहालचंद मेघवाल ने कहा है कि वे किसी भी कीमत में अपना घर नहीं छोड़ेंगे.

    लोकसभा चुनाव में बीजेपी में कुछ सांसदों के टिकटों पर मंडराए खतरे के बीच श्रीगंगानगर सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय राज्य मंत्री निहालचंद मेघवाल ने कहा है कि वे किसी भी कीमत में अपना घर नहीं छोड़ेंगे. मेघवाल ने कहा कि वे चार बार से सांसद हैं. लिहाजा किसी भी कीमत पर घर नहीं छोड़ेंगे.

    लोकसभा चुनाव-2019: श्रीगंगानगर में जबर्दस्त उबाल, मेघवाल के नाम पर बवाल

    पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री निहालचंद का बयान ऐसे समय में आया है जब दिल्ली में पार्टी की कोर कमेटी प्रत्याशियों के नामों पर मंथन कर रही है. वहीं बीकानेर सांसद एवं केन्द्रीय राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल बीकानेर में विरोध की स्थिति को देखते हुए श्रीगंगानगर में अपने लिए संभावना टटोल रहे हैं. ऐसे में श्रीगंगानगर के सांसद निहालचंद मेघवाल शिफ्टिंग के अंदेशे से खुद की दावेदारी को मजबूत कर रहे हैं.

    लोकसभा चुनाव-2019: कांग्रेस के मिशन-25 की नई रणनीति, इन बड़े चेहरों पर खेलेगी दांव

    श्रीगंगानगर से चार बार से सांसद हैं
    निहालचंद मेघवाल अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित श्रीगंगानगर सीट से चार बार सांसद रह चुके हैं. वे एक बार विधायक भी रह चुके हैं. निहालचंद से पहले दो बार उनके पिता श्रीगंगानगर से सांसद और दो बार विधायक रह चुके हैं. दूसरी तरफ श्रीगंगानगर से सटी अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित दूसरी सीट बीकानेर लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले अर्जुनराम मेघवाल का भी इस बार स्थानीय स्तर पर विरोध हो रहा है. इस विरोध के चलते बीकानेर के दिग्गज नेता एवं पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी गत शुक्रवार को पार्टी से इस्तीफा दे चुके हैं. बीकानेर में विरोध की बयार को देखते हुए केन्द्रीय मंत्री अर्जुनराम अब श्रीगंगानगर में अपने लिए संभावनाएं तलाश रहे हैं.

    कांग्रेस विधायक ने महिला सरपंच को बराबर बैठने से रोका, जमीन पर बैठाया, वीडियो वायरल

    मेघवाल प्रत्याशी के खिलाफ लामबंद हो रही हैं एससी वर्ग की अन्य जातियां
    वहीं श्रीगंगानगर में इस बार अनुसूचित जाति वर्ग की दूसरी जातियां बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों में मेघवाल प्रत्याशी का विरोध करने के लिए लामबंद हो रही हैं. एससी वर्ग की अन्य जातियों के नेताओं का कहना है कि इस वर्ग में 59 जातियां हैं. लेकिन 1977 से लेकर आज तक दोनों ही पार्टियां केवल मेघवाल जाति के प्रत्याशी को ही टिकट देती आ रही है. इस कारण टिकट से अब तक वंचित रही 58 जातियां मेघवाल प्रत्याशी के खिलाफ हैं.

    लोकसभा चुनाव-2019: आरएलपी अन्य दलों से गठबंधन कर चुनाव मैदान में उतरेगी

    राजस्व मंत्री हरीश चौधरी बोले, कर्नल सोनाराम को मूल जगह वापस आना चाहिए

    लोकसभा चुनाव 2019: प्रदेश में बीजेपी-कांग्रेस के इन दिग्गजों पर रहेगी सभी की नजरें

    प्रत्याशी चयन में बदलाव की आहट, कांग्रेस नए जातीय समीकरण और बीजेपी देख रही फीडबैक

    (रिपोर्ट: अभिषेक आढ़ा)

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Amit shah, BJP, Jaipur news, Lok Sabha Election 2019, Lok sabha elections 2019, Pm narendra modi, Rajasthan Lok Sabha Elections 2019, Rajasthan news, Vasundhara raje

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर