• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • लोकसभा चुनाव-2019: दौसा सीट पर यह फंसा है पेच, भितरघात की सता रही है आशंका

लोकसभा चुनाव-2019: दौसा सीट पर यह फंसा है पेच, भितरघात की सता रही है आशंका

राजस्थान में  बीजेपी संगठन।

राजस्थान में बीजेपी संगठन।

दिग्गजों के राजनीतिक दांव पेच में फंसी दौसा लोकसभा सीट पर अभी तक बीजेपी की ओर से प्रत्याशी के नाम का ऐलान नहीं हो पाया है. दावेदारों के त्रिकोण और पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के वीटो के फेर में फंसी दौसा सीट पर सबकी नजरें टिकी हुई है.

  • Share this:
    दिग्गजों के राजनीतिक दांव पेच में फंसी दौसा लोकसभा सीट पर अभी तक बीजेपी की ओर से प्रत्याशी के नाम का ऐलान नहीं हो पाया है. दावेदारों के त्रिकोण और पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के वीटो के फेर में फंसी दौसा सीट पर सबकी नजरें टिकी हुई है. बताया जा रहा है कि पार्टी अब इस सीट पर पूर्व सीएम वसुंधरा राजे खेमे की पसंद को तव्वजो देने का मानस बना चुकी है, लेकिन भितरघात की आशंका के चलते अभी औपचारिक घोषणा नहीं की गई है.

    सुर्खियां: परवान चढ़ती राजनीति के बीच जयपुर कांग्रेस में खींचतान, अजमेर बीजेपी में मारपीट

    दरअसल इस सीट के लिए पहले प्रदेश की कोर कमेटी ने निर्दलीय विधायक ओमप्रकाश हुड़ला की पत्नी प्रेम का नाम आगे बढ़ाया था. लेकिन बाद में इसमें तीन खेमे बन गए. इसमें पहला विधायक ओमप्रकाश हुड़ला, दूसरा राज्यसभा सांसद डॉ. किरोड़ीलाल मीणा और तीसरा पूर्व सांसद जसकौर मीणा. किराड़लाल मीणा अपनी पत्नी गोलमा देवी को टिकट दिलाने के लिए लॉबिंग करने लगे. दैनिक भास्कर में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार इस बीच इसमें पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने किरोड़ीलाल मीणा का विरोध करते हुए वीटो लगा दिया और जसकौर मीणा को टिकट दिलाने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी. राजे के वीटो को देखते हुए हुड़ला भी उनके साथ आ डटे.

    लोकसभा चुनाव-2019: बसपा की चौथी सूची जारी, 5 और सीटों पर उतारे प्रत्याशी

    जसकौर मीणा के नाम पर सहमति बन गई बताई जा रही है
    अब लगभग जसकौर मीणा के नाम पर सहमति बन गई बताई जा रही है. लेकिन इससे कहीं दूसरा खेमा भड़क नहीं जाए और भितरघात नहीं हो इस डर से अभी तक पार्टी ने प्रत्याशी के नाम का ऐलान नहीं किया है. पार्टी इन सभी संभावनाओं को मद्देनजर रखकर बीच का रास्ता निकालने में जुटी है, ताकि पार्टी को नुकसान भी नहीं हो और दोनों खेमों को भी साधा जा सके.

    Lok Sabha Elections 2019: प्रदेश में 1,52000 लोग पाबंद, 2000 हजार अवैध हथियार जब्त

    राजस्थान में राहुल ने मंत्रियों को दिया जीत का टारगेट, प्रत्याशी हारा तो छिनेगा मंत्री पद

    लोकसभा चुनाव-2019: बागियों के प्रति बीजेपी का कड़ा रुख, कहा- अभी कांग्रेस को है जरूरत

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज